बच्चों के Vaccination के लिए पूरी तरह तैयार है दिल्ली! हर दिन 3 लाख बच्चों का हो सकता है टीकाकरण

कोरोना की तीसरी लहर के खतरे के बीच आज से बच्चों के (15-18 वर्ष) टीकाकरण का रजिस्ट्रेटशन प्रोसेस शुरू हो गया है। इस बीच दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा है कि दिल्ली में हर दिन 3 लाख बच्चों का टीकाकरण हो सकता है।

COVID-19 Delhi can vaccinate 3 lakh children every day, says Satyendar Jain
दिल्ली में हर दिन 3 लाख बच्चों का हो सकता है टीकाकरण: जैन  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • बच्चों के टीकाकरण के लिए पूरी तरह तैयार है दिल्ली
  • दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री बोले- सात से 10 दिनों के भीतर सभी बच्चों को टीका लगाने की है तैयारी
  • एक हजार सेंटरों पर हर दिन लगाई जा सकती है 3 लाख बच्चों को वैक्सीनी- जैन

नई दिल्ली:   दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने शनिवार को कहा कि दिल्ली के पास हर दिन 15 से 18 वर्ष की आयु के 3 लाख बच्चों का टीकाकरण करने की क्षमता है। उन्होंने आगे कहा कि शुक्रवार को दिल्ली में कोविड के 1,796 नए केस दर्ज किए हैं और पॉजिटिविटी रेट 2.44 प्रतिशत था लेकिन अच्छी बात यह है कि कल एक भी मौत नहीं हुई। कुल कोविड ​​​​-19 मामलों में ओमिक्रॉन के आंकड़ों के बारे में सत्येंद्र जैन ने कहा कि दो दिन पहले तक, कुल मामलों में ओमिक्रॉन का हिस्सा 54 प्रतिशत था। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, 'आज अगर डेटा आने के बाद हमें पता चलेगा कि यह कितना बढ़ गया है। लेकिन निश्चित रूप से ओमिक्रॉन लगातार बढ़ रहा है।'

सात से 10 दिनों में लगाने की तैयारी

आज से ही COWIN पर बच्चों के टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया है, इस पर सत्येंद्र जैन ने कहा, 'हम पूरी तरह से तैयार हैं। दिल्ली सरकार ने लगभग 1,000 केंद्र तैयार किए हैं और हमारे पास हर दिन 3 लाख टीके लगाने की क्षमता है। अभी हर दिन लगभग डेढ़ लाख वैक्सीन की खुराक दी जा रही है और जरूरत पड़ने पर हम इसे बढ़ा सकते हैं। कितने भी बच्चे क्यों न हों, सात से 10 दिनों में सभी को टीका लगाने की तैयारी है। सरकार ने बच्चों के टीकाकरण के लिए स्वास्थ्य कर्मियों को भी प्रशिक्षित किया है।'

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, 'ओमिक्रॉन का कोई मरीज अभी गंभीर नहीं है. बाहर से भी लोग आ रहे हैं, उनका आरटीपीसीआर टेस्ट एयरपोर्ट पर किया जाता है। जो पॉजिटिव पाए जाते हैं उन्हें इंस्टीट्यूशनल क्वारंटीन में रखा जाता है। एक फाइव स्टार होटल भी बनाया गया है। दिल्ली सरकार ने उनके लिए पेड क्वारंटाइन और एयरपोर्ट के पास रेड फॉक्स होटल में व्यवस्था की है। बाकी के लिए क्वारंटीन सेंटर में व्यवस्था की गई है। पेड और फ्री क्वारंटाइन दोनों की व्यवस्था है।'

पढ़ें पूरी खबर: COVID एहतियाती खुराक और 15-18 साल के बच्चों के टीकाकरण के लिए गाइडलाइंस, यहां पढ़ें डिटेल

तो अस्पतालों में लगेंगे प्रतिबंध

बढ़ते COVID-19 मामलों के बीच सख्ती के सवाल पर, सत्येंद्र जैन ने कहा, 'दिल्ली में कई प्रतिबंध लगाए गए हैं। देश के किसी भी राज्य में रात के कर्फ्यू के अलावा कोई प्रतिबंध नहीं है, जबकि दिल्ली में स्कूल, कॉलेज, सिनेमा हॉल, बैंक्वेट हॉल सभी बंद हैं। दुकानें और मॉल ऑड-ईवन के आधार पर चल रहे हैं। अब अस्पताल में भर्ती की समीक्षा के बाद, अधिक प्रतिबंध लागू होंगे। पिछली बार बड़ी संख्या में लोग भर्ती हो रहे थे, लेकिन अभी तक अस्पताल में भर्ती है बहुत कम, अगर फिर से दाखिले बढ़ते हैं, तो हम अगली डीडीएमए बैठक में प्रतिबंधों पर चर्चा करेंगे।'

नगर निगम पर निशाना

सत्येंद्र जैन ने आगे कहा, 'वर्तमान में COVID-19 तेजी से फैल रहा है, और यह संतोष की बात है कि ओमिक्रॉन के गंभीर मामले नहीं आ रहे हैं। लेकिन डेल्टा हो या ओमिक्रॉन, सभी के लिए इलाज का तरीका एक जैसा है। दिल्ली के सभी लोगों को सावधान रहना है, बहुत जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकलें और मास्क पहनें। उत्तरी दिल्ली नगर निगम का राजन बाबू अस्पताल जर्जर भवन में चल रहा है, जबकि निगम ने खुद इसे खतरा घोषित कर दिया है, बावजूद इसके वहां इलाज चल रहा है. हमने अब इस मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। शहरी विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव इसकी जांच करेंगे।'

Covaxin : 15 से 18 वर्ष के बच्चों के टीकाकरण के लिए एक मात्र विकल्प कोवैक्सिन
 

Delhi News in Hindi (दिल्ली न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर