Delhi: पिछले 24 घंटे में 7486 नए केस, देश में पिछले एक सप्ताह में हुई कुल मौतों में 21% मामले केवल दिल्ली से

दिल्ली सरकार ने अपने अस्पतालों में बुनियादी चिकित्सा सुविधाओं में वृद्धि करने के साथ-साथ वेंटिलेटर युक्त आईसीयू बेड्स की संख्या बढ़ाई है। राजधानी के अलग-अलग हिस्सों में रैंडम सैंपलिंग की जा रही है।

 Delhi reports 21% of all covid-19 deaths in India in past week।
दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 7486 नए केस।  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • राजधानी दिल्ली में लगातार बढ़ रहे हैं कोरोना के नए मामले
  • दिल्ली सरकार ने अपने अस्पतालों में आईसीयू बेड्स की संख्या बढ़ाई
  • लॉकडाउन दोबारा लगाने की रिपोर्टों को सिसोदिया ने खारिज किया

नई दिल्ली : राजधानी दिल्ली को कोरोना के प्रकोप से राहत मिलती हुई नहीं दिख रही है। कोरोना के नए मामलों को बढ़ना जारी है। पिछले एक दिन में दिल्ली में कोविड-19 के 7486 नए केस मिले जबकि 98 लोगों की जान गई। चिंताजनक बात यह है कि पिछले एक सप्ताह में देश भर में कोरोना से जितनी मौतें हुई हैं उनमें 21% मामले केवल दिल्ली से हैं। कोरोना का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए दिल्ली एवं केंद्र सरकार लगातार प्रयास कर रही हैं। 

दिल्ली सरकार ने आईसीयू बेड्स की संख्या बढ़ाई
दिल्ली सरकार ने अपने अस्पतालों में बुनियादी चिकित्सा सुविधाओं में वृद्धि करने के साथ-साथ वेंटिलेटर युक्त आईसीयू बेड्स की संख्या बढ़ाई है। राजधानी के अलग-अलग हिस्सों में रैंडम सैंपलिंग की जा रही है। हर दिन करीब 60 हजार टेस्टिंग भी की जा रही है। दिल्ली में कोविड-19 के एक्टिव केस की संख्या 43,221 है जबकि कुल मामलों की संख्या पांच लाख को पार कर गई है। 

राजधानी में प्रदूषण की समस्या पहले से गंभीर 
दिल्ली पहले से ही प्रदूषण की समस्या से जूझ रही है। कोरोना के बढ़ते मामलों ने दिल्लीवासियों के लिए नई मुसीबतें खड़ी कर दी हैं। ऐसी चर्चा है कि कोरोना के बढ़ते मामलों पर रोक लगाने के लिए दिल्ली सरकार भीड़भाड़ वाले बाजारों एवं इलाकों के लिए नई गाइडलाइन जारी कर सकती है। दिल्ली सरकार ने मास्क न पहनने पर 2000 रुपए के जुर्माने का प्रावधान किया है। 

दिल्ली में नहीं लगेगा लॉकडाउन
हालांकि, दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने राजधानी में लॉकडाउन लगाने की चर्चाओं का खंडन किया। उन्होंने कहा कि दिल्ली में दोबारा लॉकडाउन नहीं लगेगा क्योंकि यह समस्या का समाधान है। कोरोना से जंग बेहतर चिकित्सा सुविधाओं से ही जीती जा सकती है। सिसोदिया ने व्यापारियों एवं दुकानदारों को भरोसा दिया कि राजधानी में दुकानें बंद नहीं की जाएंगी।

घरों का होगा सर्वे
दिल्ली सरकार ने अपने स्कूलों के अनेक शिक्षकों को राष्ट्रीय राजधानी में घर-घर जाकर कोविड-19 सर्वेक्षण कर रहीं टीमों का हिस्सा बनाया है। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बीच हुई बैठक के बाद यह निर्णय लिया गया था कि एम्स, दिल्ली सरकार और नगर निगमों की टीमें शहर में सर्वेक्षण करेंगी और इस दौरान लक्षणों से ग्रस्त पाए गए सभी लोगों को जांच के बाद जरूरी इलाज मुहैया कराया जाएगा।
 

Delhi News in Hindi (दिल्ली न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर