Community Spread: दिल्ली में कम्यूनिटी स्प्रेड के बारे में अंतिम फैसला केंद्र को करना है: सत्येंद्र जैन

coronavirus, community spread: दिल्ली में कोरोना के कम्यूनिटी स्प्रेड पर स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि इस विषय में फैसला केंद्र सरकार को करना है।

Community Spread: दिल्ली में कम्यूनिटी स्प्रेड के बारे में अंतिम फैसला केंद्र को करना है: सत्येंद्र जैन
सत्येंद्र जैन, स्वास्थ्य मंत्री, दिल्ली सरकार 

मुख्य बातें

  • दिल्ली में कोरोना के केस 1 लाख के पार, हर रोज आने वाले केस में कमी
  • सर गंगा राम अस्पताल के डॉक्टर अरविंद कुमार ने बताया कम्यूनिटी स्प्रेड
  • दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री का बयानस कम्यूनिटी स्प्रेड के बारे में फैसला केंद्र सरकार को करना है।

नई दिल्ली। दिल्ली में कोरोना के कुल मामले एक लाख के पार हैं। लेकिन सोमवार को एक अच्छी खबर आई जब पता चला कि पिछले 24 घंटे में एक हजार से कम मामले आए। यह एक पॉजिटिव संकेत है क्योंकि जिस तरह से कोरोना के मामले हर रोज तीन हजार के पार चले गए थे उससे इस बात की संभावना बढ़ गई थी कि जुलाई के अंत तक साढ़े पांच लाख केस होंगे। यहां पर अब सवाल उठ रहा है कि इसे कम्यूनिटी स्प्रेड का नाम देना चाहिए या नहीं।

आईएमए का कहना है कि दिल्ली और मुंबई के धारावी में कोरोना संक्रमण कम्यूनिटी स्टेज में है क्योंकि अब कोरोना के स्रोत के बारे में जानकारी नहीं मिल रही है। हालांकि सरकार इंकार कर रही है। इस विषय पर दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि इसके बारे में फैसला केंद्र सरकार को ही करना है। एनएनाई से बात करते हुए सत्येंद्र जैन ने कहा कि राजधानी में कम्यूनिटी में स्प्रेड है, लेकिन यह बहुत ही तकनीकी बात है कि इसे स्थानीय या कम्यूनिटी स्प्रेड माना जाय। दरअसल कोविड के कुछ पॉजिटिव मामले ऐसे हैं जिसमें स्रोत का पता नहीं चल पाया है। 

दरअसल स्वास्थ्य मंत्री के बयान से पहले सर गंगा राम अस्पताल में सेंटर फॉर चेस्ट सर्जरी के चेयरमैन डॉ अरविंद कुमार ने चेताया था कि दिल्ली में कम्यूनिटी ट्रांसमिशन कुछ समय से है। यह कुछ जगहों पर स्थानीय है। इससे पहले आईएमए हॉस्पिटल बोर्ड ऑफ इंडिया के चेयरमैन डॉ। वी के मोंगा ने स्वीकार किया था कि देश में सामुदायिक प्रसार शुरू हो गया है।

जैन ने 17 जून को घातक संक्रामक बीमारी के लिए सकारात्मक परीक्षण किया था, जिसके बाद उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री को प्लाज्मा थेरेपी दी गई और ठीक होने के बाद 26 जून को उन्हें छुट्टी दे दी गई। दिल्ली में रविवार को 1,211 ताजा कोरोनावायरस के मामले दर्ज किए गए, जिनकी कुल संख्या 1,22,793 थी। घातक संक्रामक रोग के कारण 31 COVID-19 रोगियों ने दम तोड़ दिया, जो घातक संख्या को 3,628 तक पहुंचा देता है। एक सकारात्मक संकेत में, दिल्ली में वर्तमान में केवल 16,031 सक्रिय मामले हैं और 1,03,134 को ठीक / छुट्टी दे दी गई है।

Delhi News in Hindi (दिल्ली न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर