दिल्ली में कोरोना को लेकर अब हालात काबू में हैं, सभी की एकजुटता से आया सुधार: केजरीवाल

Kejriwal on Coronavirus: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि 1 महीने पहले 30 जून तक 60,000 ऐक्टिव केस का अनुमान था। मुझे खुशी है कि आज सिर्फ 26,000 ऐक्टिव केस ही हैं।

Arvind Kejriwal says coronavirus situation is improving in Delhi in the last few days
दिल्ली में कोरोना को लेकर अब हालात काबू में हैं: केजरीवाल 

मुख्य बातें

  • 1 महीने पहले 30 जून तक 60,000 ऐक्टिव केस का अनुमान था, आज सिर्फ 26,000 ऐक्टिव केस ही हैं- केजरीवाल
  • केजरीवाल बोले- दिल्ली में पहले की तुलना में हालात हुए बेहतर, स्थिति में करना है और सुधार
  • आज दिल्ली में महज 5800 बेड भरे हुए हैं, हमने की 15 हजार बेड की व्यवस्था- केजरीवाल

नई दिल्ली:  दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि अब राजधानी में हालात काबू में हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, 'हमने अनुमान लगाया था कि 30 जून तक 1 लाख केस होंगे और 15 हजार बेड की आवश्यकता थी। हालात को देखते हुए हमने डबल मेहनत की। होटल, बैंक्वेट हॉल, एनजीओ और केंद्र से मदद का आग्रह किया।आज से एक महीने पहले हमें जो भयावह स्थिति प्रेडिक्ट की जा रही थी कि 30 जून तक 1 लाख केस होंगे और 60 हजार एक्टिव केस होंगे लेकिन आज हम सबकी, आपकी मेहनत का नतीजा है कि हमने फिलहाल स्थिति को कंट्रोल कर लिया है। आज दिल्ली में केवल 26 हजार एक्टिव केस हैं।'

दिल्ली में कम हो रहे हैं मरीज

 दिल्ली के मौजूदा हालातों पर बात करते हुए केजरीवाल ने कहा, 'उस समय ये कहा जा रहा था कि 15 हजार बेड की आवश्यकता होगी आज उल्टा हुआ है। इस टाइम दिल्ली 5800 बेड अस्पतालों में हैं। एक हफ्ता पहले 6250 मरीज थे। आज हमने 15 हजार बेड का इंतजाम किर दिया है। मरीजों की संख्या दिन ब दिन बढ़ने की बजाय कम होती जा रही है और ठीक होने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है। आज से एक महीने पहले 38 फीसदी मरीज ठीक हुए थे आज 67 फीसदी ठीक हो चुकी है। आज दिल्ली में 15 हजार बेड़्स की व्यवस्था है।'

पहले 100 टेस्ट पर होते थे 31 पॉजिटिव

सीएम केजरीवाल ने कहा, 'आज ऊपर वाले की कृपा से पहले और आपकी मेहनत से सब संभव हुआ। पिछले एक हफ्ते में डेली वाले केस भी कम आ रहे हैं। 23 जून को 4 हजार केस आए थे। दिल्ली में कोरोना से होने वाली मौत कम होने लगी है। एक दिन तो सवा सौ मौतें हुई थी अब केवल 60 या उससे अधिक मौतें हुई हैं। इसे कम करना है। हमने टेस्टिंग रेट बढ़ाया है। पहले 100 लोगों के टेस्ट पर 31 कोरोना के मरीज होते थे और आज 100 लोगों के टेस्ट पर 13 केस सामने आ रहे हैं। लेकिन इससे खुश होकर हमें हाथ पर हाथ धरकर नहीं बैठना है।'

जारी रखेंगे मेहनत

मुख्यमंत्री ने कहा कि 'यह वायरस ऐसा है कि कल परसों क्या करेगा किसी को पता नहीं है। जो हमारी 24 घंटे मेहनत चल रही है उसे जारी रखेंगे तांकि आने वाले समय हम स्थिति को काबू पा सकें। आप सब मास्क पहनते रहिए, सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखिए। बड़ी मुश्किल से हम पहले की स्थिति से बाहर निकले हैं अब उस स्थिति में नहीं जाना है। जो शानदार टीम वर्क था उसे जारी रखना है। हम अच्छे की उम्मीद करेंगे लेकिन तैयारी हम सबसे खतरनाक की करेंगे।'

अगली खबर