पूछताछ में पाकिस्तानी आतंकी अशरफ उगलने लगा राज, दिल्ली HC, पुलिस HQ की रेकी की थी

Terrorist nabed in Delhi : पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) ने भारत में अपना आतंक का जाल फैलाने के लिए अशरफ की घुसपैठ कराई थी।

arrested terrorist in Delhi mohammad ashraf did recee at High Court and polic HQ
मंगलवार को रमेश पार्क इलाके से गिरफ्तार हुआ अशरफ। 

मुख्य बातें

  • मंगलवार को लक्ष्मीनगर के रमेश पार्क इलाके से गिरफ्तार हुआ अशरफ
  • भारत में पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई ने कराई अशरफ की घुसपैठ
  • राजधानी दिल्ली में करीब 10 सालों से रह रहा था अशरफ, हथियार, फर्जी दस्तावेज बरामद

नई दिल्ली : दिल्ली के रमेश पार्क से मंगलवार को गिरफ्तार पाकिस्तानी आतंकवादी अशरफ पूछताछ में राज उगलने लगा है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की पूछताछ में उसने कई गंभीर खुलासे किए हैं। दिल्ली में रहते हुए इसने 2011 में दिल्ली हाई कोर्ट की रेकी की थी। उसकी रेकी के बाद हाई कोर्ट के पास विस्फोट हुए थे। हालांकि, इस विस्फोट में उसकी क्या भूमिका थी, इस बारे में पुलिस उससे पता करने में जुटी है। यही नहीं अशरफ ने पुलिस को बताया है कि उसने आईटीओ स्थित दिल्ली पुलिस मुख्यालय और अंतरराज्यीय बस अड्डा आईएसबीटी की रेकी भी की थी। 

आईएसबीटी की रेकी कर पाकिस्तान भेजी

अशरफ ने आईएसबीटी की रेकी कर उसकी जानकारी पाकिस्तान स्थित अपने हैंडलर्स को भेजी थी। अशरफ ने पूछताछ में बताया कि पुलिस मुख्यालय पर लोगों को ज्यादा देर तक पुलिस रुकने नहीं देती, इस वजह से उसे यहां की ज्यादा जानकारी नहीं मिल पाई। सूत्रों का कहना है कि स्पेशल सेल देश में हुई आतंकी घटनाओं में उसकी भूमिका के बारे में पता कर रही हैं। दिल्ली में विगत वर्षों में हुए धमाकों में उसकी क्या भूमिका रही है, पुलिस यह भी पता कर रही है।  

लक्ष्मीनगर के रमेश पार्क इलाके से गिरफ्तार हुआ अशरफ

त्योहारों से पहले अशरफ की गिरफ्तारी को दिल्ली पुलिस की एक बड़ी सफलता के रूप में देखा जा रहा है। पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) ने भारत में अपना आतंक का जाल फैलाने के लिए अशरफ की घुसपैठ कराई थी। वह पिछले 10 सालों से राजधानी में रह रहा था। उसके पास से एक एके-47 राइफल, दो आधुनिक पिस्टल, 1 हैंड ग्रेनेड, एके-47 के 60 कारतूस, पिस्टल के 50 कारतूस, फर्जी आई कार्ड, फर्जी भारतीय पासपोर्ट और दो मोबाइल फोन बरामद हुआ है। 

धमाकों में उसकी भूमिका का पता लगा रही दिल्ली पुलिस

समय रहते यदि अशरफ दिल्ली पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा होता तो हथियारों का यह जखीरा बड़ी तबाही ला सकता था। आईएसआई ने भारत में अपने आतंकी वारदातों को अंजाम देने की जिम्मेदारी अपने इसी स्लीपर को सौंपी थी। जाहिर है कि अशरफ त्योहारों के समय दिल्ली में किसी जगह आतंकी हमलों की साजिश रचा होगा। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। हो सकता है कि अगले कुछ दिनों में वह और चौंकाने वाले एवं गंभीर खुलासे करे। देश और दिल्ली में रहते हुए वह किन लोगों के सपर्क में था और यहां पर उसकी मदद किसने की, पूछताछ में पुलिस यह भी पता करेगी। 

Delhi News in Hindi (दिल्ली न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर