दिल्ली में अब मास्क न लगाना पड़ेगा भारी, देना पड़ेगा 2000 रुपए का जुर्माना

Delhi Coronavirus: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि अगर कोई भी सार्वजनिक स्थान पर बिना मास्क के पाया जाता है तो उस पर 2000 रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा।

Arvind Kejriwal
अरविंद केजरीवाल 

मुख्य बातें

  • दिल्ली में मास्क नहीं पहनने पर अब 2000 रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा
  • अभी तक मास्क नहीं पहनने पर 500 रुपए का जुर्माना था
  • सार्वजनिक स्थानों पर लोगों ने मास्क पहनने में ढिलाई बरती

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस से बिगड़ती स्थिति को देखते हुए आम आदमी पार्टी (AAP) सरकार ने बड़ा फैसला किया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घोषणा की है कि दिल्ली में मास्क नहीं पहनने पर अब 2000 रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा। अभी तक मास्क नहीं पहनने पर दिल्ली में 500 रुपए जुर्माना था। दरअसल, सरकार को ये फैसला इसलिए करना पड़ा, क्योंकि हाल में देखा गया है कि त्योहारों के समय बाजार में खूब भीड़ उमड़ी। साथ ही लोगों ने मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने में ढिलाई भी बरती।

केजरीवाल ने कहा कि मेरी सभी राजनीतिक दलों, सामाजिक और धार्मिक संस्थाओं से अपील है कि वो मास्क बांटें और सभी को मास्क पहनने के लिए कहें। मैंने माननीय उपराज्यपाल से मुलाकात कर उन्हें दिल्ली में कोरोना की स्थिति के बारे में जानकारी दी। हम इस बात पर सहमत हुए कि प्रभावी उपाय करने के लिए ताकि लोग मास्क पहनना न छोड़ें, हमें जुर्माना 500 रुपए से 2000 रुपए तक का बढ़ाना होगा।

दिल्ली में कोरोना की स्थिति पर केजरीवाल ने आज सर्वदलीय बैठक की। बैठक के बाद उन्होंने ट्वीट किया, 'आज सर्वदलीय बैठक में सभी दलों का सहयोग माँगा। ये वक़्त राजनीति का नहीं बल्कि सेवा का है। सभी दलों से निवेदन किया कि वे अपने कार्यकर्ताओं से सभी सार्वजनिक स्थलों पर मास्क बँटवाएं। सभी दलों ने आश्वासन दिया कि वे राजनीति छोड़कर जनसेवा करेंगे।'

'घर में रहकर मनाएं छठ'

वहीं प्रेस कॉन्फ्रेंस कर केजरीवाल ने कहा, 'हम चाहते हैं कि हमारे भाई-बहन बहुत ही अच्छे ढंग से छठ पूजा मनाएं। कृपया जश्न मनाएं, लेकिन अगर एक समय में 200 लोग तालाब में प्रवेश करते हैं, और उनमें से किसी एक को भी कोरोना है तो सभी उससे संक्रमित हो जाएंगे। यह विशेषज्ञों की राय है। आप कल्पना कर सकते हैं कि कोरोना बड़े पैमाने पर फैल जाएगा। इसलिए, समारोहों पर प्रतिबंध नहीं है। एक बार में एक तालाब या नदी में बड़ी संख्या में लोगों के प्रवेश पर प्रतिबंध है। इस बार घरों में जश्न मनाएं।' 

मुख्यमंत्री ने बताया कि दिल्ली सरकार ने कोरोना के लिए बेड्स बढ़ाने के लिए अहम निर्णय लिया है। सभी प्राइवेट अस्पतालों में ICU के 80% बेड और नॉन ICU बेड 60% तक आरक्षित किए जा रहे है। दिल्ली में कुल मिलाकर 1413 ICU बेड्स बढ़ाए जा रहे हैं।

Delhi News in Hindi (दिल्ली न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर