Delhi Fire: Mundka अग्निकांड में Building का मालिक मनीष लाकड़ा गिरफ्तार, परिवार संग हो गया था फरार

Delhi Fire Case: मुंडका अग्निकांड में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस ने बिल्डिंग के मालिक मनीष लाकड़ा को गिरफ्तार कर लिया है जो घटना के बाद से ही फरार था

The absconding owner of the office building in Delhi’s Mundka, was arrested by the Delhi Police
मनीष लाकड़ा घटना के बाद से चल रहा था फरार 
मुख्य बातें
  • मुंडका अग्निकांड में पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी
  • बिल्डिंग का मालिक मनीष लाकड़ा पुलिस की गिरफ्त में
  • भीषण अग्निकांड में मारे गए थे कुल 27 लोग, कई लोग हो गए थे घायल

Mundka Fire: दिल्ली के मुंडका में हुए भीषण अग्निकांड के दो दिन बाद लोग अब भी अपनों की तलाश कर रहे हैं। इस बीच पुलिस के एक्शन पर बड़ी खबर आ रही है। दिल्ली पुलिस ने बिल्डिंग के मालिक मनीष लकड़ा को गिरफ्तार कर लिया है। मनीष लकड़ा अग्निकांड के बाद से फरार चल रहा था। लेकिन आज पुलिस ने मनीष लकड़ा को अरेस्ट कर लिया। गिरफ्तारी पर दिल्ली पुलिस ने कहा कि जब वहां आग लगी तब मनीष परिवार के साथ पहली फ्लोर पर था।

छापेमारी के बाद गिरफ्तार

आग शुक्रवार को चार मंजिला इमारत की पहली मंजिल पर लगी थी। इस घटना में 21 महिलाओं समेत 27 लोगों की मौत हो गयी। पुलिस उपायुक्त (बाहरी) समीर शर्मा ने कहा, ‘हमने दिल्ली और हरियाणा में छापे मारने के बाद इमारत के फरार मालिक मनीष लाकड़ा को गिरफ्तार कर लिया है।’ उन्होंने बताया कि लाकड़ा मुंडका गांव का रहने वाला है। इस घटना में 19 लोग अब भी लापता हैं और उनके जीवित बचने की संभावना बहुत कम है।

Mundka Fire: भीषण अग्निकांड में जिंदा जले 27 लोग, कूदकर जान बचाने वालों की जुबानी जानिए हादसे की पूरी कहानी

इस वजह से हुआ था हादसा

आग शुक्रवार को उस इमारत की पहली मंजिल से शुरू हुई थी जिसमें एक सीसीटीवी कैमरा और राउटर निर्माण और असेंबलिंग कंपनी का कार्यालय था। दमकल विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शनिवार को दिन में कहा कि मुंडका भवन में एक ही प्रवेश और निकास बिंदु था, जो हताहतों की अधिक संख्या का कारण बना हो सकता है। इमारत में जले हुए अवशेष पाए जाने के कारण मरने वालों की संख्या बढ़कर 30 तक हो सकती है। 12 घायलों का यहां एक अस्पताल में इलाज चल रहा है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मुंडका अग्निकांड घटना की शनिवार को मजिस्ट्रेट जांच का आदेश दिया था। केजरीवाल ने साथ ही इमारत में आग लगने की घटना में मारे गए व्यक्तियों के परिजनों को दस-दस लाख रुपये की अनुग्रह राशि और घायलों को पचास-पचास हजार रुपये देने की घोषणा की।

Delhi Fire: मुंडका भवन के पास नहीं थी NOC, हादसे का कसूरवार कौन?

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर