UP: 'मैं एनकाउंटर में नहीं मरना चाहता, इसलिए खुद अपनी जान दूंगा', रेप के फरार आरोपी ने लिखा सुसाइड नोट

उत्तर प्रदेश के हापुड़ में 6 वर्षीय मासूम का अपहरण कर उसका रेप करने के आरोपी दलपत के सुसाइड नोट लिखकर गंगा में कूदे जाने की आशंका जताई जा रही है।

UP Rape accursed said in suicide note I dont want to die in encounter will take my own life
'मैं एनकाउंटर में नहीं मरना चाहता, इसलिए खुद अपनी जान दूंगा' 

मुख्य बातें

  • हापुड़ में मासूम से रेप के आरोपी ने गंगा में कूदकर जान देने की चर्चा
  • आरोपी का सुसाइड नोट वायरल, पुलिस ने जब तक बॉडी नहीं मिलती, नहीं कर सकते हैं यकीन
  • आरोपी ने 6 अगस्त को मासूम बच्ची का अपहरण कर उसके साथ किया था दुष्कर्म

हापुड़: उत्तर प्रदेश के हापुड़ में कुछ दिन पहले एक 6 साल की मासूम का अपहरण कर उसके साथ दुष्कर्म करने का मामला सामने आया था जिसके आरोपी की पुलिस लगातार तलाश में जुटी थी। लेकिन इस बीच आरोपी दलपत का एक ऐसा सुसाइड नोट सामने आया है जिससे आशंका जताई जा रही है कि उसने गंगा में कूदकर आत्महत्या कर ली है। पुलिस को गंगा किनारे से सुसाइड नोट और आईडी प्रूफ बरामद हुए हैं। आरोपी के गंगा में कूदन की आशंका के बाद बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी दलपत को गंगा में तलाशने में जुट गए हैं।

क्या लिखा है सुसाइड नोट में
आरोपी दलपत सिंह ने सुसाइड नोट में लिखा, 'सेवा में श्रीमान मुझे बड़े दुख के साथ लिखना पड़ रहा है कि मैं आपकी गोली से मरना नहीं चाहता। मुझे रस्सी भी नहीं मिली क्योंकि पुलिस मेरे पीछे थी। मैं फतेहपुर भी गया था। हरयोम 5 हजार रुपये के लालच में मुझे गोली मरवाता। मुझे पता था मेरा एनकाउंटर होता जिसमें में मरना नहीं चाहता था। मैं अपनी मौत खुद तय करूंगा और मेरे बच्चों को दुखी मत करना। सबसे आसान मौत सोची मैंने कि गंगा में सभी जाते हैं। फांसी भी लगा सकता था। मेरे बालकों को दुखी मत करना।..... सभी गांव वालों और रिश्तेदारों को राम-राम. '

पुलिस को सुसाइड नोट पर यकीन नहीं

हालांकि पुलिस को अभी भी सुसाइड में संदेह है पुलिस का मानना है कि यह संदिग्ध द्वारा जांचकर्ताओं को गुमराह करने का प्रयास हो सकता है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने इस संबंध में टीओआई से बात करते हुए कहा, 'जब तक हम उसे या उसके शरीर को खोज नहीं लेते या कोई ऐसा ठोस सबूत हासिल नहीं कर लेते कि उसने सुसाइड कर लिया है तब तक हम सुसाइड नोट पर भरोसा नहीं करने वाले हैं। हम सुसाइड नोट पर लिखावट को मूल के साथ मिलाने की कोशिश कर रहे हैं।'

6 अगस्त को किया था बच्ची का अपहरण

 हापुड़ के एएसपी सर्वेश मिश्रा ने कहा, 'उसके मगमूदपुर गांव से से लगभग एक किमी दूर फतेहपुर गाँव के बाहरी इलाके में एक पेंट, शर्ट,  गजरौला की उस कंपनी का आईकार्ड जिसमें आरोपी काम करता था, बरामद हुए हैं। इसके अलावा एक सुसाइड नोट भी मिला है।' आपको बता दें कि मासूम बच्ची का हापुड़ के गढ़ इलाके से उस समय अपहरण कर लिया गया था जब वो अपने घर के बाहर खेल रही थी। इसके बाद पास के जंगल में उसके साथ दुष्कर्म किया किया और वहां उसे मरने के लिए छोड़ दिया गया।
बच्ची फिलहाल मेरठ के एक अस्पताल में भर्ती है जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। बच्ची के निजी अंगों में कई चोटें आई हैं और लगातार खून बहने से हालात नाजुक हैं। पुलिस टीम आरोपी की तलाश के लिए लगातार अमरोहा सहित अन्य जगहों पर दबिश दे रही है।
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर