गोंडा: किडनैपर छवि पांडे का ऑडियो- विकास दुबे वाला मैटर तो सुना होगा... तो 4 करोड़ तैयार रखिए...

क्राइम
किशोर जोशी
Updated Jul 25, 2020 | 13:57 IST

Gonda Kidnapping Case: यूपी के गोंडा में अपहरण किए गए बच्चे को पुलिस ने सकुशल छुड़वा लिया है। इस मामले में चार लोगों को अरेस्ट किया जिसमें एक छवि पांडे नाम की महिला भी शामिल थी।

UP Gonda kidnapping Case Chhavi Pandey called the boy's family members and demanded a ransom of Rs 4 crore
विकास दुबे पता है.... जानिए कौन है फिरौती के लिए फोन करने वाली छवि 

मुख्य बातें

  • जानिए कैसे छवि पांडे ने कॉल कर मांगी थी 4 करोड़ की फिरौती
  • कानपुर वाला मैटर तो आपने...कुछ इस अंदाज में किया था छवि ने फोन
  • पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए 24 घंटे से भी कम समय सॉल्व किया केस

गोंडा: पिछले कुछ दिनों से फजीहत का सामना कर रही यूपी पुलिस को गोंडा मामले में बड़ी कामयाबी मिली है। शुक्रवार शाम अपह्रत हुए 6 साल के बच्चे को पुलिस ने सकुशल छुड़ा लिया है। गोड़ा के एक बड़े व्यवसायी के बेटे का अपहरण कर बदमाशों ने चार करोड़ रुपये की फिरौती मांगी थी। पुलिस और यूपी एसटीएफ ने तुरंत हरकत में आते हुए इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया है जिसमें मुख्य साजिशकर्ता महिला भी शामिल है। इस दौरान पुलिस एनकाउंट में दो आरोपी घायल भी हुए हैं।

पुलिस की तत्परता से जल्द सुलझी गुत्थी
पुलिस ने सूचना मिलते ही किडनैपर्स को ट्रैस करना शुरू कर दिया। इस दौरान अपहरणकर्ता लगातार अफनी लोकेशन बदल रहे थे। पुलिस ने आरोपियों को तब धर दबोचा जब अपनी कार से बच्चे को लेकर किसी और जगह के लिए निकल रहे थे। पुलिस ने आरोपियों के पास से एक देशी तमंचा भी बरामद किया है। किडनैंपिंग के महिला ने बच्चे के परिवार को फोन कर धमकी भरे अंदाज में चार करोड़ रुपये की मांग की थी।

कौन है छवि पांडे
अपहरण के इस मामले में पुलिस ने पांच आरोपियों को अरेस्ट किया है जिनमें सूरज पांडे पुत्र राजेंद्र पांडे, सूरज का भाई राज पांडे, उमेश यादव पुत्र रमाशंकर यादव निवासी सकरोड़ा पूर्वी थाना करनैलगंज गोंडा, दीपू कश्यप पुत्र राम नरेश कश्यप निवासी सोनवारा थाना करनैलगंज गोंडा के अलावा एक महिला छवि पाण्डेय शामिल हैं। छवि पांडे सूरज पांडे की पत्नी है जिसने कारोबारी के बच्चे का अपहरण करने के बाद फिरौती के लिए फोन किया था। छवि का ऑडियो क्लिप वायरल हो रहा है। यहां हम आपको उसी फोन कॉल के दौरान हुई बातचीत हूबहू सुना रहे हैं-

पूरी बातचीत हूबहू

छवि पांडेय (किडनैपर): आपका लड़का किडनैप हो चुका है, और सुनो चार करोड़ की व्यवस्था कर देना शाम तक उसके बाद हां या ना में जवाब दे देना। अगर ज्यादा दिमाग लगाने की कोशिश की तो अभी तो सब कुछ ठीक है फिर हमें सब पता चल जाएगा। 
कारोबारी: जैसा आप कहेंगी हम वैसा करेंगे
छवि पांडेय: कानपुर वाला मैटर तो आपने सुना ही होगा।
कारोबारी: हां हां.. कौन कानपुर वाला?
छवि पांडेय: विकास दुबे वाला.... आप जानते ही होंगे कि पुलिस किसका कितना साथ देती है। तो पुलिस तक जाने की आपको कोई जरूरत नहीं है, जाना चाहते हैं तो जा सकते हैं, मैं मना नहीं कर रही हूं। 
कारोबारी: नहीं.... हमें हमारा लड़का चाहिए।
छवि पांडेय: तो आपको आपका लड़का चाहिए, तो हम दो तीन घंटे बाद आपको कॉल करेंगे और जैसा होगा बताएगा....केवल हां या ना मैं जवाब सुनना है। अगर आपने कुछ भी कदम उठाने की कोशिश की तो फिर लड़के की उम्मीद छोड़ दीजिएगा।
कारोबारी: नहीं.... हम कोई कदम नहीं उठाएंगे।

अगली खबर