100 से अधिक लोगों की जान ले चुका है यह डॉक्टर, मर्डर कर मगरमच्छों के लिए छोड़ देता था लाशें

क्राइम
किशोर जोशी
Updated Jul 30, 2020 | 16:12 IST

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने एक ऐसे डॉक्टर को गिरफ्तार किया है जिसने दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में करीब 50 से अधिक लोगों की हत्या कर दी।

Serial Killer Doctor who was mastermind in over 50 murder arrested in Delhi
मर्डर कर मगरमच्छों के लिए छोड़ देता था लाशें यह डॉक्टर 

मुख्य बातें

  • आयुर्वेदिक डॉक्टर ने 50 से ज्यादा इंसानों को उतारा मौत के घाट, हुआ गिरफ्तार
  • दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने किया अरेस्ट, दिल्ली सहित कई पड़ोसी राज्यों में दिया वारदात को अंजाम
  • पुलिस हर एंगल से कर रही है जांच, किडनी गिरोह में भी शामिल रहा है डॉक्टर

नई दिल्ली: अक्सर आपने सुना होगा कि डॉक्टर भगवान का दूसरा रूप होते हैं लेकिन अगर आपको पता चले कि डॉक्टर ही कातिल है तो आप क्या कहेंगे। जी हा यहां हम यहां आपको एक ऐसे ही डॉक्टर के बारे में बताने जा रहा है जिस पर उत्तर प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा और दिल्ली में 50 से अधिक हत्या के केस दर्ज हैं। आरोपी ने पुलिस पूछताछ में कई हैरान करने वाले खुलासे किए हैं जिसमें करीब 50 ट्रक और टैक्सी ड्राइवरों की हत्या की बात कबूल की है। को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है।  पुलिस ने दावा किया कि वह हत्या के संभवत: 100 से ज्यादा मामलों में शामिल रहा है।

अलीगढ़ का है आरोपी

बीएएमएस डिग्री धारक, देवेंद्र शर्मा उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ से ताल्लुक रखता है। 62 साल के इस बीएमएसएस डिग्रीधारी डॉक्टर को हत्या के एख मामले में पेरोल की अवधि  खत्म होने के 6 महीने के बाद गिरफ्तार किया है। पुलिस ने कहा कि डॉक्टर को अपहरण और हत्या के कई मामलों में दोषी ठहराया गया था। उन्हें पहले भी दो बार उत्तर प्रदेश में नकली गैस एजेंसी चलाने के लिए गिरफ्तार किया गया था और विभिन्न राज्यों में किडनी रैकेट चलाने के लिए जेल भी गया था।

ड्राइवरों की हत्या कर नदी फेंक देता था

शव यह डॉक्टर ट्रक और टैक्सी ड्राइवरों की हत्या करने के बाद उन्हें नदी में फेंक देता था जहां उनके शवों को मगरमच्छ खा जाते थे। आरोपी ने सबसे पहले दिल्ली में गैस की एजेंसी खोली लेकिन वहीं उसके पैसे फंस गए। उसके बाद आरोपी ने अपने गृह क्षेत्र अलीगढ़ में एक गैस एजेंसी खोल दी। लेकिन यहां उसने धोखाधड़ी का काम शुरू कर दिया।  यहां वह गैस सिलेंडर के ड्राइवरों की हत्या करने के बाद सिलेंडर लेकर ट्रक को मेरठ में कटवा देते थे। आरोपी बाद में अवैध किडनी ट्रांसप्लांट करने वाले गिरोह में शामिल हो गया।

विधवा से की शादी

 पुलिस आयुक्त (अपराध) राकेश पवारिया ने कहा, "शर्मा एक हत्या के मामले में सेंट्रल जेल, जयपुर में आजीवन कारावास की सजा काट रहा था और 16 साल जेल में बिताने के बाद इस साल जनवरी में 20 दिनों के लिए पैरोल पर बाहर आया था। लेकिन वह पैरोल पर आने के बाद वह फरार होने से पहले थोड़ी देर के लिए अपने पैतृक गांव में रहा।इससे पहले आरोपी मोहन गार्डन में एक परिचित के घर में रह रहा था और फिर, वह बापरोला चला गया जहां उसने एक विधवा से शादी की और संपत्ति का कारोबार करने लग गया। मंगलवार को उसेके ठिकाने की जानकारी मिलने के बाद हमारी टीम ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।'

अगली खबर