कोरोना फैलाने के लिए तब्लीगी जमात को दोष देने पर मारी गोली, चाय की दुकान के बाहर हत्या

Prayagraj News: उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में देश में कोरोना वायरस फैलाने के लिए तब्लीगी जमात को दोष देने वाले एक शख्स की गोली मारकर हत्या करने का मामला सामने आया है।

Man shot dead in Prayagraj
प्रतीकात्मक तस्वीर  |  तस्वीर साभार: Getty Images

मुख्य बातें

  • कोरोना वायरस फैलाने के लिए तब्लीगी जमात को जिम्मेदार ठहरा रहा था शख्स
  • प्रयागराज में चाय की दुकान के बाहर हुआ विवाद
  • शख्स की गोली लगने से मौके पर ही मौत, आरोपी गिरफ्तार

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के प्रयागराज के रहने वाले एक शख्स की उसके घर के पास एक चाय की दुकान के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी गई। कथित तौर पर शख्स तब्लीगी जमात की देश में कोरोनो वायरस फैलाने के लिए आलोचना कर रहा था और इसी कारण से उसे गोली मार दी गई। पीड़ित निज़ामुद्दीन की तब्लीगी जमात मंडली पर टिप्पणी कर रहा था, जिसकी वजह से कई राज्यों में सैकड़ों कोरोनो वायरस के मामले सामने आए थे और इसी दौरान चाय की दुकान पर एक अन्य शख्स के साथ विवाद में पड़ गया।

पुलिस के अनुसार, घटना रविवार सुबह 9:30 बजे हुई जब दोनों के बीच तर्क वितर्क होने लगा। आरोपी ने गोलियां चलाईं और शख्स को मार डाला। गोली लगने के बाद पीड़ित की मौके पर ही मौत हो गई। इलाके के लोगों ने आरोपी को पकड़ लिया और उसे पुलिस के हवाले कर दिया।

इस बीच, प्रयागराज एसएसपी ने लोगों से शांति बनाए रखने और घटना पर तनाव पैदा न करने की अपील की है। उत्तर प्रदेश सरकार ने मृतक के परिवार को 5 लाख रुपए का मुआवजा देने की घोषणा की है। स्थानीय लोगों का फोन आने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी को हिरासत में ले लिया। फिलहाल किसी भी तरह का तनाव पैदा न हो इसके लिए मौके पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

उत्तर प्रदेश में अब तक 225 से ज्यादा कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं। देश में यह आंकड़ा 3000 को पार कर चुका है। हाल ही में तब्लीगी जमात की निजामुद्दीन मंडली के मस्जिद में बिना इजाजत धार्मिक कार्यक्रमों के आयोजन और इसमें विदेशी लोगों को शामिल करने के बाद देश में कोरोना संक्रमण के प्रसार ने रफ्तार पकड़ ली है।

मलेशिया और इंडोनेशिया के लोगों सहित 2000 से ज्यादा लोग निज़ामुद्दीन में धार्मिक मंडली का हिस्सा थे, जिन्होंने सामाजिक दूरी के मानदंडों और लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन किया था। सरकारी अधिकारियों का कहना है कि तब्लीगी जमात की घटना से जुड़े अब तक 1000 से ज्यादा सकारात्मक कोरोना वायरस मामले सामने आ चुके हैं।

अगली खबर