लॉकडाउन में बाहर जाने पर जताया ऐतराज, भाई ने भाई को ही उतार दिया मौत के घाट

Man kills brother over stepping out: मुंबई में लॉकडाउन के दौरान एक शख्स ने अपने भाई की हत्या कर दी। पुलिस मामले की तफ्तीश कर रही है।

body
सांकेतिक फोटो  |  तस्वीर साभार: Getty Images

मुख्य बातें

  • कोरोना के खतरे के मद्देनजर देश में 21 दिनों का लॉकडाउन किया गया है
  • 24 मार्च रात 12 बजे से लॉकडाउन शुरू हो गया
  • लॉकडाउन के दौरान लोगों के सड़कों पर निकलने पर पाबंदी है

मुंबई: महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन के वक्त एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। एक शख्स ने अपने भाई को सिर्फ इसलिए मौत के घाट उतार दिया क्योंकि उसने लॉकडाउन के दौरान घर से बाहर निकलने के लिए मना किया था। आरोपी की पहचान राजेश लक्ष्मी ठाकुर जबकि मृतक की पहचान दुर्गेश के रूप में हुई है। मृतक आरोपी राजेश का छोटा भाई था। पुलिस का कहना है कि राजेश और उसकी पत्नी 25 मार्च को बाजार गए थे, जिसे लेकर उसके भाई ने आपत्ति जताई थी। इसके बाद दोनों भाइयों के बीच बात बढ़ती चली गई। 

पत्नी संग जा रहा था बाहर

मुंबई के कांदीवली इलाके में रहने वाले राजेश लॉकडाउन के बीच अपनी पत्नी के साथ किराने का सामान बाहर निकले थे। जब दोनों बाजार से लौटे तो दुर्गेश ने उनसे लॉकडाउन के बीच किराने का सामान खरीदने को लेकर आपत्ति जाहिर की। उसने समझाया कि ऐसा करने से उनके घरों तक कोरोना का संक्रमण पहुंच सकता है। इस दौरान दोनों भाइयों के बीच काफी बहस हुई और दुर्गेश ने राजेश की पत्नी को थप्पड़ मार दिया। राजेश छोटे भाई की हरकत पर भड़क उठा और उसने कथित तौर पर उसकी हत्या कर दी। आरोपी ने अपने भाई पर रसोई के चाकू से हमला किया।

आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज

इसके बाद दुर्गेश को गंभीर अवस्था में नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है। पुलिस फिलहाल मामले की तफ्तीश कर रही है। गौरतलब है कि महाराष्ट्र देश में कोरोना की सबसे ज्यादा मार झेल रहा है। महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 130 हो गई है। इसके अलावा केरल में भी 101 मरीजों में कोरोना के मामले सामने आ चुके हैं।

अगली खबर