मुंबई: परमबीर सिंह वसूली मामले में 2 पुलिसकर्मी गिरफ्तार, महाराष्ट्र CID ने की कार्रवाई

Param Bir Singh extortion case: परमबीर सिंह वसूली मामले में महाराष्ट्र CID ने 2 पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार किया है। परमबीर सिंह फरार हैं और उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया था।

Param Bir Singh extortion case
परमबीर सिंह वसूली मामला 

नई दिल्ली: परमबीर सिंह वसूली मामले में महाराष्ट्र सीआईडी ने सोमवार को पहली गिरफ्तारी की है। इस मामले में महाराष्ट्र CID ने पुलिस इंस्पेक्टर नंदकुमार गोपाल और इंस्पेक्टर आशा कोर्के को गिरफ्तार किया है। नंदकुमार गोपाल और आशा कोर्के को सोमवार को राज्य सीआईडी ने पूछताछ के लिए बुलाया था। घंटों की पूछताछ के बाद देर शाम दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया। सीआईडी मंगलवार सुबह 11 बजे गोपाल और आशा कोर्के को किल्ला कोर्ट में पेश करेगी।

दोनों की गिरफ्तारी श्याम सुंदर अग्रवाल की शिकायत पर हुई है, जिसने 15 करोड़ रुपए की जबरन वसूली का आरोप लगाया था।

मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह के खिलाफ ठाणे कोर्ट ने हाल ही में गैर जमानती वारंट जारी किया था। पुलिस ने कोर्ट में आवेदन दायर करते  हुए कहा था कि उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया जाए क्योंकि उनके खिलाफ दर्ज वसूली के मामले में वो फरार हैं और समन पर पूछताछ के लिए हाजिर भी नहीं हो रहे हैं। 

इस केस में परमबीर सिंह समेत एंटीलिया कांड में गिरफ़्तार सचिन वाजे भी आरोपी है। शिकायत के मुताबिक वाजे और उसके साथी ने मिलकर  मुंबई के बार और रेस्तरां वालों से पैसों की वसूली करते थे और पैसे ना देने पर उनपर कार्रवाई का डर दिखाया जाता था। मुंबई के पुलिस कमिश्नर के पद से हटाए जाने के कुछ दिनों बाद परमबीर सिंह ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लिखी एक चिट्ठी में दावा किया था कि महाराष्ट्र के तत्कालीन गृहमंत्री अनिल देशमुख पुलिस  अधिकारियों से मुंबई में रेस्तरां और बार के मालिकों से पैसे की उगाही के लिए कहते थे। 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर