पत्नी के थे समलैंगिक संबंध, बहनों के साथ मिलकर कटर से टुकड़ों में काटी पति की बॉडी

क्राइम
किशोर जोशी
Updated Aug 14, 2020 | 13:34 IST

राजस्थान के जोधपुर में नगर निगम के सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट में एक युवक की कटी हुई लाश को लेकर पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। इस मामले में मृतक की पत्नी सहित चार लोग अरेस्ट हुए हैं।

पत्नी के थे समलैंगिक संबंध, टुकड़ों में काटी पति की बॉडी
Lesbian wife murders husband with the help of her Sisters In Jodhpur Rajasthan 

मुख्य बातें

  • जोधपुर शहर में युवक का शव टुकड़ों में मिलने की वारदात का हुआ खुलासा
  • समलैंगिक पत्नी ही निकली कातिल, बहनों के साथ मिलकर दिया वारदात को अंजाम
  • पति की हत्या करने के बाद शव के टुकड़े-टुकड़े कर नाले में फेंके

जोधपुर: राजस्थान के जोधपुर से हत्या का एक ऐसा खौफनाक मामला सामने आया है जहां एक महिला ने अपने पति की न केवल हत्या कर दी बल्कि उसकी बॉडी को कटर से छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर फेंक दिए। इसके पीछे की जो वजह सामने आई है उसे जानकर हर कोई हैरान है। दरअसल सीमा नाम की महिला की सात साल पहले चरण सिंह के साथ शादी हुई थी इसके बाद दोनों में कुछ विवाद हुआ जिसके बाद सीमा मायके में रहने लगी। सीमा को पुरुषों से नफरत थी और उसके समलैंगिंक संबंध थे। अपने पति की हत्या करने की उसने एक खौफनाक साजिश रची।

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो सीमा के कई लड़कियों के साथ समलैंगिंक संबंध थे और वह लड़कों से नफरत करती थी। कम उम्र में शादी होने के बाद जब पति बार-बार उसे ससुराल लाने की जिद करने लगा तो उसे यह नागवार गुजरा।

शरीर के कर दिए थे टुकडे-टुकड़े

 पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) धर्मेंद्र सिंह यादव ने बताया, '11तारीख को पुलिस को सूचना मिली थी कि नांदड़ी गोशाला के पीछे एसटीएफ प्लांट (सीवरेट प्लॉट) के पास एक अज्ञात व्यक्ति के कटे हुए हाथ, पैर व शाम को कटे हुए मिले हैं। इसके बाद पुलिस उपायुक्त जोधपुर पूर्व सहित पुलिस अधिकारी वहां पहुंचे जिसके बाद हमें पता चला कि बॉडी को किसी शार्प हथियार से काटा गया है। पूरे बॉडी पार्ट्स नहीं मिले थे। प्रथम दृष्टया यह हत्या का मामला लग रहा था। शुरू में केवल हाथ और पैर मिले थे और बाद में शव भी मिला। जिस थैले में मिला था उसका पीछा करते हुए पुलिस ने एक अन्य थाने से संपर्क किया जिससे पता चला कि सुशील सिंह उर्फ चरण सिंह नाम के शख्स का यह सिर हो सकता है।'

 पुलिस ने ऐसे किया मामले का खुलासा

धर्मेंद्र सिंह यादव ने आगे बताया, 'बाद में मृतक के संभावित परिजन यहां आएं और उन्होंने बॉडी की पहचान किए। इसके बाद हमने जांच शुरू की। सीसीटीवी फुटेज भी हमें मिले जिसके द्वारा हमें पता चला कि 2013 में सीमा से हुई थी। विवाह के पश्चात दोनों का बंधन नहीं हुआ था। इस संदर्भ में जो भी संदिग्ध थे उसमें सीमा उसकी दो बहनें बबीता और प्रियंका और बहनों का एक मित्र भीयाराम शामिल था। सभी से पूछताछ की गई तो सबने अपराध को कबूल किया। पूछताछ में पता चला कि दोनों का वैवाहिक जीवन सहीं नहीं चल रहा था जिसके बाद इसे अंजाम दिया गया।'

किराए के मकान में बहनों संग मिलकर दिया पत्नी ने खौफनाक वारदात को अंजाम
डीसीपी ने आगे बताया, 'हत्या करने के बाद सबूत मिटाने के लिए इन्होंने पूरी कोशिश की। इस हत्या को एक किराये के मकान में अंजाम दिया गया। हत्या को जो कारण सीमा के पति के बीच जो मतभेद है। तनाव का जो कारण है वो निजी है। इन लोगों ने इलेक्ट्रोनिक कटर के जरिए बॉडी को काटा। अंगों को किराए के मकान के बाथरू में काटा गया। सीमा एक मल्टीलेवल कंपनी में काम करती हैं।'

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर