सब इंस्पेक्टर ने दलित युवक को थाने में हाथ-पैर बांध कर पीटा, पानी की जगह पिलाई पेशाब!

क्राइम
किशोर जोशी
Updated May 23, 2021 | 09:14 IST

कर्नाटक के चिकमंगलूर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक इंस्पेक्टर ने एक दलित युवक को थाने में पीटकर पेशाब पिला दी।

Karnataka Dalit youth allegedly forced to drink urine by police Inspector
सब इंस्पेक्टर ने दलित युवक हाथ-पैर बांध कर पीटा,पिलाई पेशाब! 

मुख्य बातें

  • कर्नाटक के चिकमंगलूर में खाकी हुई दागदार
  • सब इंस्पेक्टर ने दलित युवक को थाने में पीटा, पानी मांगने पर पिलाई पेशाब
  • आऱोपी पुलिसकर्मी के खिलाफ मामला दर्ज, विभागीय जांच शुरू

बेंगलुरू: कर्नाटक में पुलिस की बर्बरता का एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। राज्य के चिकमंगलूर में एक दलित युवक के साथ पुलिस ने थाने में जो बर्बरता की है, वो वाकई में हैरान करती है। गोनीबाडू पुलिस स्टेशन के सब इंस्पेक्टर ने एक युवक को थाने के अंदर पहले जमकर पीटा और इसके बाद जब युवक को पेशाब पीने को मजबूर किया गया।

केस दर्ज
मामला 10 मई का है। चिकमंगलूर के एसपी ने इस मामले पर जानकारी देते हुए कहा, 'सब इंस्पेक्टर के खिलाफ केस दर्ज किया गया है और विभागीय (डिपार्टमेंटल) जांच शुरू की गई है।' इससे पहले पीड़ित युवक ने अपने साथ हुए बर्बर व्यवहार की लिखित शिकायत राज्य के डीजीपी से की थी और इस अमानवीय व्यवहार पर न्याय की मांग की थी।

ये था पीड़ित का कसूर

खबर के मुताबिक पीड़ित युवक पुनीत ने आरोप लगाया कि 10 मई को ग्रामीणों की मौखिक शिकायत के बाद पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। पुनीत पर एक महिला से बात करने का आरोप है जिस कारण गांव वाले उससे नाराज हो गए।  इसके बाद जब पुनीत को थाने लाया गया तो सब इंस्पेक्टर भड़कर गया। पुनीत के मुताबिक इस दौरान उसके हाथ पैर बांध दिए गए हैं और जमकर पिटाई की गई।

पेशाब चाटने को किया मजबूर

पीड़ित ने बताया कि इस दौरान जब उसकी हालत खराब हो गई तो उसने पानी मांगा जिसके बाद पुलिस ने एक दूसरे आरोपी से फर्श पर पेशाब करवाई और थाने से छोड़ने के बदले मुझे फर्श चाटने को कहा गया। पुनीत ने बताया कि इस दौरान पुलिस ने पिटाई करते हुए दलित समुदाय को भी गाली दी।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर