Azamgarh: नमाज के बाद युवक ने की घर और गाड़ी पर फिलिस्तीनी झंडा फैलाने की अपील, पुलिस ने किया अरेस्ट

क्राइम
किशोर जोशी
Updated May 21, 2021 | 15:17 IST

आरोपी शख्स ने अपने फेसबुक पेज पर फिलिस्तीनी झंडा फहराने की अपील की थी। इसके बाद बवाल मचा तो पुलिस ने आरोपी शख्स को गिरफ्तार कर लिया।

Azamgarh Man arrested for urging Muslims to hoist Palestinian flag atop houses and cars after Juma Namaz
युवक ने की घर और गाड़ी पर फिलिस्तीनी झंडा फैलाने की अपील 

मुख्य बातें

  • आजमगढ़ के युवक ने फेसबुक पर की फिलिस्तीनी झंडा फहराने की अपील
  • बवाल मचने पर पुलिस ने किया आरोपी शख्स को गिरफ्तार
  • इजरायल और फिलिस्तीन के बीच आज ही हुआ है संघर्षविराम

आजमगढ़: इजरायल और फिलिस्तीन के बीच पिछले कई दिनों से युद्ध चल रहा है, हालांकि इजरायली प्रधानमंत्री नेतन्याहू की घोषणा के बाद आज से युद्धविराम हो गया है। दोनों देशों के बीच चल रहे संघर्ष का असर भारत में देखने को मिल रहा है और सोशल मीडिया पर कुछ लोग दोनों देशों के समर्थन में जुट गए हैं। एक ऐसा ही मामला यूपी के आजमगढ़ में आया है जहां एक युवक को सोशल मीडिया पर फिलिस्तीनी झंडा लहराने की अपील करना इस कदर महंगा पड़ा कि उसे जेल जाना पड़ा।

सरायमीर का है मामला
खबर के मुताबिक,  आजमगढ़ के सरायमीर थाना क्षेत्र के उत्तरी चुड़िहार कस्बे के रहने वाले यासिर अख्तर ने अपने फेसबुक पेज सरायमीर एक्सप्रेस पर एक पोस्ट लिखी थी। इस पोस्ट में यासिर ने जुमे की नमाज के बाद सभी लोगों से अपने घरों और गाड़ियों पर फिलिस्तीनी झंडा लगाने की अपील की। जल्द ही यासिर की यह पोस्ट वायरल हो गई है और लोग इसे शेयर करने लगे तथा कमेंट करने लग गए। इसके बाद किसी ने पुलिस को इसकी सूचना दे दी।

पुलिस ने किया अरेस्ट

पुलिस ने भी तुरंत एक्शन लेते हुए यासिर के खिलाफ सरायमीर थाने में भारतीय दंड संहिता की धारा 505 के तहत मुकदमा दर्ज करने के बाद कार्रवाई की। स्थानीय पुलिस ने तुरंत आरोपी के घर की तरफ रूख किया और एक टीम ने गुरुवार को आरोपी यासिर को उसके घर से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

दोनों देशों के बीच हुआ संघर्षविराम

आपको बता दें कि  इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की सुरक्षा कैबिनेट ने गाजा पट्टी में 11 दिन से चल रहे सैन्य अभियान को रोकने के लिए एकतरफा संघर्षविराम को मंजूरी दे दी है।  19 मई तक इस संघर्ष में 208 फलस्तीनियों की मौत हो चुकी है जिनमें करीब 60 बच्चे शामिल हैं। वहीं इजराइल में भी दो बच्चों सहित 12 लोगों की जान गई है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर