कोरोना मरीज के घर चोरी, 50 हजार रुपये चुराने से पहले चोरों ने उसी घर में बनाया मटन-चावल

क्राइम
किशोर जोशी
Updated Jul 19, 2020 | 17:18 IST

झारखंड के जमशेदपुर में एक ऐसा मामला सामने आया है जहां चोरों ने एक कोरोना मरीज के घर में चोरी करने से पहले मटन बनाकर खाया फिर चोरी को अंजाम दिया।

Jharkhand thieves cooked mutton before stealing from Covid patient’s house
कोरोना मरीज़ के घर चोरी से पहले चोरों ने पकाया मटन-राइस 

मुख्य बातें

  • झारखंड के जमशेदपुर में कोरोना वायरस के मरीज के घर में हुई चोरी
  • चोरी करने से पहले चोरों ने उसी घऱ में बनाया मटन, चपाती औऱ चावल
  • दूसरी वारदात में चोरों ने एक छात्र नेता के घर पर की चोरी, सैनिटाइजर भी ले गए साथ

जमदेशपुर: वैसे तो आपने चोरी के कई किस्से सुने होंगे लेकिन यहां हम आपको चोरी की एक ऐसी घटना के बारे में बता रहे हैं जिसे पढ़कर आप भी हैरान रह जाएंगे। मामला झारखंड के जमशेदपुर का है जहां एक कोरोना मरीज के घर में चोरों ने बड़े ही इत्मीनान के साथ चोरी की। सबसे पहले चोरों ने घर में प्रवेश कर मटन, चावल और चपाती बनाया फिर आराम से खा-पीकर चोरी की। इस दौरान चोरों ने घर से 50 हजार रुपये नकद और सोने चांदी के गहने भी चुरा लिए।

अस्पताल में भर्ती थे घर के मालिक

 हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक, मामला जमशेदपुर के परसुडीह थाना के अंतर्गत आने वाले हलुदबोनी इलाके का है जहां एक कोविड -19 मरीज के घर से 50,000 रुपये नकद और गहने चोरी हुई है। वहीं एक अन्य घटना में, गुरुवार आधी रात को सीतारामडेरा पुलिस थाने के तहत आने वाले दो अन्य घरों से चोरों ने सैनिटाइज़र चुरा लिया। पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) आलोक रंजन ने चोरी की वारदता की जानकारी देते हुए बताया, 'चोरों ने यहां टाटा मेन हॉस्पिटल (टीएमएच) में कोरोना वायरस का इलाज करा रहे एक रोगी के घर से 50,000 रुपये नकद और गहने चुरा लिए। उस इलाके को कंटेंटमेंट जोन घोषित गया है और हमने वाला पुलिस गार्ड तैनात किए गए हैं। हम मामले की जांच कर रहे हैं।'

चोरी वाले घर में ही बनाया मटन
कोराना वायरस रोगी के भाई ने शुक्रवार शाम को दर्ज लिखित शिकायत में आरोप लगाया कि चोरों ने भागने से घर में पहले मटन, चावल और चपातियों को पकाया और फिर आराम से खाकर चोरी की। पुलिस ने बताया कि चोरों ने जुगसलाई नगर परिषद की निगरानी टीम में काम करने वाले मरीज के घर में घुसकर पीछे के दरवाजे को धारदार हथियार और क्रॉबर से तोड़ा और फिर अंदर घुसे।

कोरोना के चलते सील था घर

कोरोना मरीज के भाई ने अपनी शिकायत में कहा, 'मेरे भाई का कोरोना टेस्ट 8 जुलाई को पॉजिटिव आया था जिसके बाद घर और उसके आस-पास के क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया था। भाई को टीएमएच में भर्ती कराया गया था और घर को सील कर दिया गया था। उनकी पत्नी और बच्चे पिछले एक महीने से अपने गाँव के घर पर रह रहे हैं। मुझे चोरी के बारे में तब पता चला जब मेरे भाई ने मुझे शुक्रवार को घर की जाँच के लिए भेजा और पड़ोसियों ने मुझे सूचित किया कि घर का पिछला दरवाजा टूटा है।'

दूसरी वारदात में चोर सैनिटाइजर भी ले गए

वहीं इसी तरह की दूसरी घटना में, चोरों ने गुरुवार देर रात सीतारामडेरा पुलिस स्टेशन के तहत आने वाले सीतारामडेरा में छात्र नेता खुशबू लामा के घर से नकदी, सैनिटाइजर और मोबाइल फोन चुरा लिया। लामा ने शुक्रवार को इस संबंध में शिकायत दर्ज कराई। लामा ने कहा, 'चोर नकदी और मोबाइल फोन के साथ सैनिटाइजर ले गए।'

अगली खबर