पटना में जिम ट्रेनर पर फायरिंग; JDU नेता और पत्नी हिरासत में, अवैध संबंध का हुआ खुलासा

बिहार की राजधानी पटना में एक जिम ट्रेनर पर फायरिंग हुई। वो किसी तरह अस्पताल पहुंचा और अपनी जान बचाई। पुलिस ने इस मामले में JDU नेता राजीव कुमार सिंह और उनकी पत्नी खुशबू को हिरासत में लिया है।

patna crime
पुलिस जांच में कई खुलासे हो रहे 

नई दिल्ली: बिहार के 26 साल के जिम ट्रेनर को शनिवार सुबह गोली मारने के बाद जदयू नेता राजीव कुमार सिंह और उनकी पत्नी खुशबू को पटना पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। जिम ट्रेनर की पहचान विक्रम सिंह के रूप में हुई। उसे अज्ञात अपराधियों ने शनिवार सुबह उस समय गोली मार दी जब वह पटना मार्केट में जिम जा रहा था। गोली लगने के बाद भी विक्रम 2.5 किमी तक दुपहिया वाहन चलाता रहा। अज्ञात अपराधियों ने उसके शरीर में पांच गोलियां मारी थीं। विक्रम पटना मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (PMCH) पहुंचा और उसका ऑपरेशन किया गया।

'इंडिया टुडे' की खबर के अनुसार, होश में आने के बाद उसने पुलिस को अपना बयान दिया और अपने ऊपर हुए हमले के लिए राजीव कुमार सिंह और उसकी पत्नी खुशबू को जिम्मेदार ठहराया। उसके बयान के बाद पुलिस ने सिंह और उनकी पत्नी को उनके पाटलिपुत्र कॉलोनी स्थित आवास से हिरासत में लिया। अब दोनों से पूछताछ की जा रही है।

पुलिस ने घटनास्थल से जो सीसीटीवी फुटेज एकत्र किए उससे ये भी सामने आया कि इस घटना के पीछे पांच अज्ञात अपराधी थे और उन्हें विक्रम पर हमला करने के बाद पैदल ही मौके से निकलते देखा गया था। पार्टी के डॉक्टर्स विंग के प्रदेश उपाध्यक्ष रहे सिंह का इस मामले में नाम आने के बाद जेडीयू ने उन्हें पद से हटा दिया है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार, प्रारंभिक जांच में पता चला है कि विक्रम सिंह को खत्म करने के लिए कॉन्ट्रैक्ट किलर्स को रखा गया था और इस साजिश के पीछे सिंह और उनकी पत्नी ही मास्टरमाइंड हैं। जांच के दौरान पता चला कि विक्रम और खुशबू इस साल जनवरी से एक-दूसरे को जानते थे और तब से एक-दूसरे को 1100 बार फोन कर चुके हैं। सिंह ने कथित तौर पर खुशबू के साथ संबंधों के कारण अप्रैल में विक्रम को खत्म करने की धमकी दी थी। 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर