15 साल की लड़की का किया गर्भपात, कचरे में फेंक दिया भ्रूण, पुलिस की गिरफ्त में डॉक्टर

गुजरात के अहमदाबाद में पुलिस ने एक डॉक्टर को गिरफ्तार किया, जिसने 5 महीने की गर्भवती 15 साल की नाबालिग लड़की का गर्भपात किया और उसके भ्रूण को कचरे में फेंक दिया।

arrest
छानबीन के बाद पुलिस ने 2 को गिरफ्तार किया 

मुख्य बातें

  • इस मामले में पुलिस ने 59 साल के डॉक्टर और 19 साल के युवक को गिरफ्तार किया
  • दोनों के खिलाफ उचित धाराओं में मामला दर्ज किया गया है
  • गर्भपात के लिए डॉक्टर ने लड़की ने 15,000 रुपए भी लिए

नई दिल्ली: गुजरात के अहमदाबाद से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां 15 साल की लड़की के यौन उत्पीड़न और उसके गर्भपात से जुड़े मामले में अहमदाबाद पुलिस ने शनिवार को एक 19 साल के युवक और 59 वर्षीय डॉक्टर को गिरफ्तार किया। आरोपी डॉक्टर ने नाबालिग लड़की का गर्भपात किया, वो पांच महीने की गर्भवती थी। गर्भपात के बाद  शहर के एक कचरा स्थल पर भ्रूण को फेंक दिया गया।

पुलिस ने बताया कि डॉक्टर पिछले 29 सालों से शहर के वातवा जीआईडीसी क्षेत्र में अपना अस्पताल चला रहा है। 6 जुलाई को उसने कथित तौर पर किशोर लड़की का गर्भपात किया और बाद में भ्रूण को घर वापस जाते समय चुपके से रास्ते में कचरे में फेंक दिया। पुलिस को यह भी पता चला है कि उसने नाबालिग लड़की से उसकी गर्भावस्था को समाप्त करने के लिए 15,000 रुपए लिए थे।

'द इंडियन एक्सप्रेस' की एक रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने पहले से ही अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। बाद में जांच अधिकारियों ने तकनीकी सबूत इकट्ठा किए और शनिवार को डॉक्टर को गिरफ्तार किया। उसके खिलाफ भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 318 के तहत अपराध दर्ज किया गया है। 

आरोपी डॉक्टर को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने नाबालिग लड़की का पता लगाया। उसके द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर पुलिस ने 19 साल के युवक को कथित रूप से उसे गर्भवती करने के आरोप में गिरफ्तार किया। युवक पर बलात्कार और POCSO अधिनियम की अन्य संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

अगली खबर