DMRC Fake Website:दिल्ली मेट्रो में रोजगार देने के नाम पर बनी फर्जी वेबसाइट, डीएमआरसी ने लोगों को किया अलर्ट

क्राइम
आईएएनएस
Updated Oct 09, 2021 | 00:11 IST

DMRC Fake website News:डीएमआरसी ने आम जनता से अनुरोध किया है कि भविष्य में ऐसी किसी भी फर्जी भर्ती आधारित ऑनलाइन या ऑफलाइन गतिविधि को तुरंत हमारे संज्ञान में लाएं।

DMRC Fake Website
दिल्ली मेट्रो में रोजगार देने के नाम पर फर्जी वेबसाइट (प्रतीकात्मक फोटो) 

नई दिल्ली: दिल्ली मेट्रो की ओर से एक हैरान देने वाला मामला सामने आया है, मेट्रो की फर्जी वेबसाइट बनाकर लोगों को नौकरी देने के नाम पर पैसे लेकर धोखाधड़ी किया करते थे, इसपर दिल्ली मेट्रो की ओर से सफाई दी गई है और लोगों को साथ ही चेतावनी भी दी गई है।दरअसल डीएमआरसी की फर्जी वेबसाइट बनाई गई जिसे आधिकारिक वेबसाइट से जैसा दिखाने का प्रयास किया गया।

दिल्ली मेट्रो ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर कहा कि, मेट्रो की एक फर्जी वेबसाइट बनाने का मामला सामने आया है, जिसमें आम लोगों को नौकरी देने के नाम पर उनसे पैसे मांगे जा रहे हैं, वहीं डीएमआरसी की आधिकारिक वेबसाइट की नकल करने की कोशिश भी की गई है और भोले-भाले लोगों को नकली रोजगार के अवसर प्रदान कर रही है।

इस वेबसाइट द्वारा पैसों की मांग की गई

इसके अलावा इस वेबसाइट द्वारा पैसों की मांग की गई। इसी तरह, कुछ सोशल मीडिया अकाउंट भी डीएमआरसी में रोजगार के अवसर का वादा कर नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं।दिल्ली मेट्रो द्वारा लोगों को चेतावनी देते हुए कहा गया है कि, डीएमआरसी की रोजगार अधिसूचनाएं केवल इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर दिखाई देती हैं और रोजगार प्रक्रियाएं सरकारी नियमों के अनुसार की जाती हैं।डीएमआरसी में भर्ती प्रक्रिया पूरी तरह से कम्प्यूटराइज्ड और पारदर्शी है और चयन विशुद्ध रूप से उम्मीदवारों की योग्यता के आधार पर होता है।

डीएमआरसी के साथ नौकरी के अवसरों के लिए आवेदन करते समय अत्यधिक सावधानी बरतें

दिल्ली मेट्रो में नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों को यह सलाह दी जाती है कि वे डीएमआरसी के साथ नौकरी के अवसरों के लिए आवेदन करते समय अत्यधिक सावधानी बरतें और ऐसा केवल आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से करें। डीएमआरसी की ओर से इस तरह की प्रक्रिया को अंजाम देने के लिए किसी अन्य प्लेटफॉर्म को अधिकृत नहीं किया गया है। जबकि, यह विशेष रूप से फर्जी लिंक हमारे संज्ञान में आये हैं। इस तरह के और भी फर्जी लिंक, सोशल मीडिया अकाउंट, डीएमआरसी में नौकरी का वादा करने वाले बिचौलिए आदि हो सकते हैं।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर