Sidhu Musewala murder: दिल्ली पुलिस बोली-सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में गैंगस्टर लॉरेंस बिश्ननोई 'मास्टरमाइंड'

क्राइम
रवि वैश्य
Updated Jun 09, 2022 | 00:25 IST

Sidhu Musewala murder case mastermind: दिल्ली पुलिस ने कहा कि महाकाल को महाराष्ट्र पुलिस के साथ संयुक्त अभियान में मकोका के एक मामले के तहत पुणे से गिरफ्तार किया गया और वह फिलहाल महाराष्ट्र पुलिस की 14 दिनों की हिरासत में है।

Sidhu Musewala Murder Case का 'मास्टरमाइंड' गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई!
Sidhu Musewala murder case mastermind 

नयी दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने बुधवार को कहा कि गायक सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड (Sidhu Musewala murder case) का 'मास्टरमाइंड' गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई है और वह फिलहाल दिल्ली पुलिस की हिरासत में है।पुलिस के विशेष आयुक्त (विशेष प्रकोष्ठ) एच एस धालीवाल ने यहां प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि पुलिस ने गायक और कांग्रेस नेता के हत्याकांड में शामिल मुख्य शूटर के करीबी सहयोगी सिद्धेश हिरामन काम्ले उर्फ महाकाल को गिरफ्तार कर लिया है।

विशेष आयुक्त ने बताया कि पुलिस ने हत्याकांड में शामिल पांच और लोगों की पहचान की है। धालीवाल ने कहा कि हत्याकांड में लॉरेंस के रिश्तेदार सचिन बिश्नोई की भी भूमिका का पता चला है।हालांकि पुलिस ने मूसेवाला की हत्या की वजह के बारे में जानकारी नहीं दी और यह भी नहीं बताया कि राष्ट्रीय राजधानी की अति सुरक्षित तिहाड़ जेल में कैद होने के बावजूद लॉरेंस बिश्नोई ने हत्या की साजिश कैसे रची और उसे कैसे अंजाम दिया।

'महाकाल ने लॉरेंस विश्नोई के कहने पर जुर्म को अंजाम दिया'

पुलिस के मुताबिक, महाकाल ने लॉरेंस के कहने पर जुर्म को अंजाम दिया। मूसेवाला की हत्या के मुख्य शूटर और लॉरेंस के समन्वय में महाकाल अपराध करता था। पंजाब के मानसा जिले में 29 मई को अज्ञात हमलावारों ने मूसेवाला की गोली मारकर हत्या कर दी थी।

Lawrence Bishnoi: एक भी गोली न चलाने वाला कैसे बना नामी गैंगस्टर?

इससे पहले, लॉरेंस ने जांचकर्ताओं को बताया था कि कनाडा में रहने वाला गोल्डी बरार सहित उसके गिरोह के सदस्यों ने साजिश रची और मूसेवाला की हत्या कर दी। अधिकारियों ने बताया था कि लॉरेंस पूछताछ में सहयोग नहीं कर रहा है और उसने अब तक अपने गिरोह के सदस्यों के नामों का खुलासा नहीं किया है, जो हत्या के असली साजिशकर्ता हैं।

सिद्धू मूसा वाला मर्डर केस में पहला शार्प शूटर सौरव महाकाल गिरफ्तार

सिद्धू मूसा वाला हत्याकांड में मुख्य शूटर सौरव  महाकाल को पुणे क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार कर लिया है, पुणे ग्रामीण में इसके खिलाफ मकोका के तहत दर्ज  कई केस दर्ज हैं,  ओमकार उर्फ राण्या बानखेले की हत्या का मामला भी है अभी उसकी गिरफ्तारी इसी मामले में पुणे पुलिस ने दिखाई है। दरअसल मुसेवाला केस में एक और पुणे का ही शूटर संतोष जाधब ने अपने साथियों के साथ मंचर इलाके में ओमकार की दिन दहाड़े हत्या की थी, जिसमे उसके उपर 302 120 बी 34 आर्म्स एक्ट 3 ,25 27 ,और मकोका की धारा 3 (1)  3 (4)के तहत केस दर्ज किया गया था, जिसमें जांच में ये बात सामने आई थी कि सौरव महाकाल ने ओमकर की हत्या के बाद संतोष जाधब के खिलाफ जब वारंट था तब उसे अपने यहां छुपाकर रखा था।

'बेटे को कभी नहीं दिया जेब खर्च' अंतिम अरदास में पिता ने बताई कैसी थी सिद्धू मूसेवाला की लाइफ

गोल्डी बरार के लिए रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने की मांग

सिद्धू मूसा वाला हत्याकांड में नया अपडेट है, पंजाब पुलिस ने गोल्डी बरार को रेड कार्नर नोटिस करने की मांग की है, गौर हो कि सतिंदरजीत सिंह उर्फ गोल्डी बरार, श्री मुक्तसर साहिब का मूल निवासी है, जो 2017 में छात्र वीजा पर कनाडा आया था, लॉरेंस बिश्नोई गिरोह का सदस्य है। लॉरेंस बिश्नोई की ओर से बरार ने सिद्धू मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी ली थी,सतिंदरजीत सिंह उर्फ गोल्डी बरार श्री मुक्तसर साहिब का मूल निवासी है, और गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई गिरोह का सदस्य है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर