Delhi: महिला SI की हत्या मामले में चौंकाने वाला खुलासा, गांव-गोत्र ने प्रेमकहानी में लाई दरार

Delhi Crime news: दिल्ली में एसआई प्रीति अहलावत की शुक्रवार की शाम उसके बैचमेट के ही द्वारा गोली मार कर हत्या कर दी गई। पुलिस ने इसमें चौंकाने वाले खुलासे किए हैं।

SI preeti ahlawat shot dead
एसआई प्रीति अहलावत की गोली मार कर हत्या 

मुख्य बातें

  • शुक्रवार शाम रोहिणी मेट्रो स्टेशन के पास SI प्रीति अहलावत की गोली मार कर हत्या
  • गोली मारने का आरोप बैचमेट दीपांशु राठी पर है, दोनों हरियाणा से थे
  • लंबे समय से दोनों के बीच प्रेम संबंध चल रहा था लेकिन अचानक से कहानी में आई दरार
  • गांव गोत्र के मुताबिक ये दोनों रिश्ते में निकल रहे थे भाई-बहन, फिर परिवार का विरोध

नई दिल्ली : दिल्ली में विधानसभा चुनाव से एक दिन पहले शुक्रवार की शाम को रोहिणी मेट्रो स्टेशन के पास एक महिला पुलिस कॉन्सटेबल को उसके ही साथी कॉन्सटेबल ने गोली मार दी जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई। महिला पुलिस प्रीति अहलावत की हत्या करने के बाद आरोपी दीपांशु राठी ने खुद भी सोनीपत जाकर अपने आप को गोली मार आत्महत्या कर ली। ये दोनों पुलिस साल 2018 के एक ही बैच के बताए जाते हैं।

इस हादसे को प्रेम कहानी से जोड़ कर देखा जा रहा था। कहा जा रहा था कि महिला पुलिस ने आरोपी का लव प्रपोजल ठुकरा दिया था जिसके बाद गुस्से में आकर उसने उसे गोली मार दी थी। अब इस मामले में एक ताजा खुलासा सामने आया है जो बेहद चौंकाने वाला है।

गोत्र के हिसाब से भाई-बहन निकले दोनों
बताया जा रहा है कि प्रीति और दीपांशु एक दूसरे को लंबे समय से पसंद करते थे और शादी करना चाहते थे। लेकिन उनकी शादी की राह में गांव गोत्र जैसी चीजें रोड़ा डाल रही थी। गांव गोत्र के हिसाब से ये दोनों आपस में भाई-बहन निकल रहे थे और ऐसे में इनके परिजनों का इन पर दबाव था कि ये अपना रिश्ता तोड़ दें और शादी की बात भूल जाएं।

परिवार की शर्तें बनी नासूर
परिवार की यही शर्तें इनके लिए नासून बन गईं जो इन्हें जीतेजी खाए जा रही थी। ये सभी जानकारी शनिवार को इस मामले की जांच के दौरान सामने आए। बताया जाता है कि प्रीति परिवार के बातों में आकर दीपांशु से कटी कटी रहने लगी थी वह उससे दोस्ती भी तोड़ रही थी ये बात दीपांशु के लिए औऱ भी पीड़ादायक हो रही थी। 

एकतरफा प्रेम बन गया खतरनाक
एकतरफा प्यार की हद इस कदर थी कि प्रीति के ना चाहते हुए भी दीपांशु लगातार उसे कॉल वीडियो कॉल करता रहता था व अपनी फोटो उसे भेजता रहता था। तंग आकर प्रीति ने उसका नंबर ब्लॉक कर दिया। दिल्ली पुलिस में बतौर सब इंस्पेक्टर ज्वाइन करने के बाद से ही प्रीति की दीपांशु से मुलाकात हुई थी। 

दोनों हरियाणा के संपन्न परिवार से थे
वह रोहतक हरियाणा की रहने वाली है। उसके परिवार में उसकी मां और बड़ी बहन टीचर हैं, पिता रिटायर्ड बीएसएफ अधिकारी हैं जबकि भाई न्यूजीलैंड में कंप्यूटर इंजीनियर है। प्रीति खुद दिल्ली के पटपड़गंज थाने एरिया में बतौर एसआई तैनात थी। दीपांशु हरियाणा के सोनीपत का रहने वाला था और उसके पित हरियाणा पुलिस के रिटायर्ड अधिकारी हैं। 

जब परिवार को उन दोनों के बीच के रिश्ते के बारे में पता चला तो प्रीति के परिजनों ने उसकी शादी कहीं और फिक्स कर दी इसी बात से परेशान होकर दीपांशु ने पहले गोली मार कर उसकी हत्या कर दी फिर खुद भी आत्महत्या कर ली।  

अगली खबर