किंग्‍स इलेवन पंजाब की 'शॉर्ट रन' के कारण हार पर भड़की प्रीति जिंटा, बीसीसीआई को दे डाली चेतावनी

Preity Zinta: किंग्‍स इलेवन पंजाब की सह-मालकिन प्रीति जिंटा ने बीसीसीआई के सामने नए नियम लागू करने की मांग की है। खराब अंपायरिंग के कारण किंग्‍स इलेवन पंजाब को दिल्‍ली कैपिटल्‍स के खिलाफ शिकस्‍त झेलनी पड़ी।

preity zinta
प्रीती जिंटा 

मुख्य बातें

  • शॉर्ट रन घटना के कारण पंजाब की हार पर भड़क गई प्रीति जिंटा
  • मयंक अग्रवाल की धमाकेदार बल्‍लेबाजी के बावजूद हारी किंग्‍स इलेवन पंजाब
  • किंग्‍स इलेवन पंजाब की टीम आखिरी तीन गेंदों में 1 रन नहीं बना सकी

नई दिल्‍ली: अंपायर नितिन मेनन ने रविवार को किंग्‍स इलेवन पंजाब और दिल्‍ली कैपिटल्‍स के बीच मुकाबले में शॉर्ट रन का इशारा विवाद का विषय बना हुआ है। दिल्‍ली कैपिटल्‍स ने किंग्‍स इलेवन पंजाब को सुपर ओवर में मात दी। 158 रन के लक्ष्‍य का पीछा करते हुए मयंक अग्रवाल ने 60 गेंदों में 89 रन दमदार पारी खेली और पंजाब को जीत की दहलीज पर पहुंचा दिया था। वह आखिरी ओवर की पांचवीं गेंद पर आउट हुए।

अग्रवाल के आउट होने के बाद पंजाब की टीम आखिरी गेंद पर एक रन नहीं बना सकी और मुकाबला सुपर ओवर में चला गया, जहां दिल्‍ली कैपिटल्‍स ने केएल राहुल की टीम को 2 रन पर रोक दिया। इसके बाद बिना पसीना बहाए दिल्‍ली कैपिटल्‍स ने लक्ष्‍य हासिल कर लिया। हालांकि, सवाल मैच में खराब अंपायरिंग को लेकर उठ रहा है और कई लोगों ने कहा कि मुकाबला सुपर ओवर में नहीं जाता अगर 19वें ओवर में शॉर्ट रन का इशारा नहीं किया जाता।

19वें ओवर की तीसरी गेंद पर अग्रवाल ने दो रन लिए। मगर नितिन मेनन ने शॉर्ट रन का इशारा करके पंजाब के खाते में एक रन जोड़ने दिया। नितिन मेनन ने पाया कि क्रिस जॉर्डन ने क्रीज के अंदर बल्‍ला नहीं रखा और नॉन स्‍ट्राइकर छोर पर दौड़ पड़े। शॉर्ट रन का फैसला इसलिए विवाद का मुद्दा बना क्‍योंकि रीप्‍ले में दिखा कि जॉर्डन ने रन पूरा किया है।

प्रीति जिंटा ने ट्विटर पर निकाली भड़ास

ये एक रन किंग्‍स इलेवन पंजाब को बहुत भारी पड़ा क्‍योंकि टीम लक्ष्‍य का पीछा नहीं कर सकी और सुपर ओवर में दिल्‍ली कैपिटल्‍स ने जीत दर्ज की। किंग्‍स इलेवन पंजाब की सह-मालकिन प्रीति जिंटा ने इस घटना पर अपनी प्रतिक्रिया दी है और ट्विटर पर पूरी निराशा व्‍यक्‍त की। प्रीति ने चेतावनी भरे अंदाज में बीसीसीआई से नए नियम लागू करने को भी कहा ताकि अंपायरिंग की खामियां ज्‍यादा नहीं बढ़ें।

प्रीति जिंटा ने ट्वीट किया, 'मैंने महामारी के दौरान उत्‍साह से यात्रा की, 6 दिन क्‍वारंटीन रही और हंसी बरकरार रखते हुए 5 कोविड टेस्‍ट भी कराए, लेकिन एक शॉर्ट रन ने मुझे बहुत पीड़ा पहुंचाई है। तकनीक का फायदा ही क्‍या अगर इसका इस्‍तेमाल ही नहीं हो? अब समय आ गया है कि बीसीसीआई नए नियमों का परिचय करे। यह हर साल नहीं हो सकता।'

प्रीति ने फिर एक और ट्वीट किया और लिखा, 'मेरा हमेशा से मानना है कि जीत हो या हार हमेशा खेल भावना को ध्‍यान में रखना चाहिए, लेकिन यह भी जरूरी है कि रणनीति बदली जाए ताकि भविष्‍य में सभी के लिए खेल में सुधार हो सके। जो हुआ सो हुआ। अब आगे बढ़ने का समय है। इसलिए अब आगे ध्‍यान और हमेशा की तरह सकारात्‍मक रहना होगा।'

वीरेंद्र सहवाग, इरफान पठान और आकाश चोपड़ा ने भी ट्विटर के जरिये खराब अंपायरिंग पर अपनी राय रखी। सहवाग ने अंपायर पर तंज कसते हुए कहा कि शॉर्ट रन फैसला देने के कारण अंपायर को मैन ऑफ द मैच देना चाहिए। किंग्‍स इलेवन पंजाब की टीम अब गुरुवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का सामना करेगी, जहां वो सीजन की पहली जीत दर्ज करने के इरादे से मैदान संभालेगी।

IPL(आईपीएल) 2020 से जुड़ी सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर