'हमको डर नहीं लगता'...पाकिस्तानी खिलाड़ियों की इस नई हरकत से सदमे में उनका बोर्ड

National T20 Cup 2020: ये सब जान चुके हैं कि कोरोना महामारी किसी पर रहम नहीं करती। बड़ा हो या छोटा, कोई बड़ी हस्ती हो या आम आदमी, कोई भी इसकी चपेट में आ सकता है लेकिन पाकिस्तानी क्रिकेटर ये कहां समझते हैं।

Pakistan National T20 Cup
मोहम्मद हफीज और अकमल  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) राष्ट्रीय टी20 कप के खिलाड़ियों से हुआ नाराज
  • कई खिलाड़ियों ने तोड़ा बायो बबल, कोरोना महामारी का किसी को खौफ नहीं
  • तीन अधिकारियों ने भी नहीं की नियमों की फिक्र, दिग्गजों के नाम भी शामिल

नई दिल्लीः पाकिस्तानी क्रिकेटर हों या उनका क्रिकेट बोर्ड, सभी भारतीय क्रिकेट और आईपीएल से जलते हैं। लेकिन उनको शायद ये समझ नहीं आता कि व्यवस्था और समझ नाम की भी कोई चीज होती है। आईपीएल तो यूएई में हो रहा है तब भी सभी खिलाड़ियों ने कोरोना नियमों का पालन किया, कुछ संक्रमित भी हुए लेकिन ठीक भी हो गए। जबकि किसी भी खिलाड़ी ने 'बायो-बबल' (जैव सुरक्षित वातावरण) से बाहर निकलते हुए इसका उल्लंघन नहीं किया। वहीं, पाकिस्तान क्रिकेट में कहानी ही अलग चल रही है।

एक तरफ जहां पाकिस्तान सुपर लीग (PSL) की सभी टीमें पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के खिलाफ ही अदालत पहुंच गईं। वहीं दूसरी ओर अब राष्ट्रीय टी20 कप (National T20 Cup) में भी उनके बोर्ड के लिए नया सिरदर्द शुरू हो चुका है। पाकिस्तान में जारी राष्ट्रीय टी20 कप में एक या दो नहीं बल्कि कई खिलाड़ियों व अधिकारियों ने जैव सुरक्षित माहौल का उल्लंघन किया है।

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने शुक्रवार को कहा कि 9 खिलाड़ियों और 3 अधिकारियों ने रावलपिंडी में चल रहे राष्ट्रीय टी20 कप के दौरान ‘बायो-बबल’ का उल्लघंन किया। हैरानी की बात ये है कि इन क्रिकेटरों में राष्ट्रीय टीम के कुछ खिलाड़ी भी शामिल हैं। लेकिन फिर भी पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने कोई एक्शन नहीं लिया और होटल में कोविड-19 प्रोटोकॉल के उल्लघंन से नाराज होकर बस इतना कहा कि भविष्य में अगर कोई खिलाड़ी या अधिकारी ‘बायो-बबल’ का उल्लंघन करता है तो उसे टूर्नामेंट से तुरंत बाहर कर दिया जायेगा।

ये दिग्गज खिलाड़ी भी शामिल

इस हरकत को करने वालों में कई दिग्गज खिलाड़ी भी शामिल है। पीसीबी ने खिलाड़ियों के नाम नहीं बताये लेकिन मीडिया खबरों के मुताबिक फखर जमां, इमाम उल हक, खुर्रम मंजूर, मोहम्मद हफीज, राशिद खान, बासित अली, कामरान अकमल, सोहेल खान, अब्दुल रज्जाक, अनवर अली, यासिर शाह और उस्मान शिनवारी वो दिग्गज खिलाड़ी हैं जिन्होंने नियमों को ताक पर रखने का काम किया है और सबके जीवन को खतरे में डाला।

ये अस्वीकार्य है- नदीम खान

पीसीबी के ‘हाई परफोरमेंस सेंटर’ के निदेशक नदीम खान ने इस पूरी तरह अस्वीकार्य बताया। उन्होंने कहा, ‘पीसीबी परेशान और निराश है कि कुछ सीनियर खिलाड़ी और अधिकारियों ने राष्ट्रीय टी0 कप के दौरान जैविक रूप से सुरक्षित बबल का उल्लघंन किया। इससे उन्होंने टूर्नामेंट की साख और अपने साथियों के स्वास्थ्य को खतरे में डाल दिया।’

Akmal and Hafeez

अभी-अभी लगा था झटका..लेकिन माने नहीं

गौरतलब है कि ज्यादा पुरानी बात नहीं है जब पाकिस्तान क्रिकेट को करारा झटका लगा था। इंग्लैंड दौरे से ठीक पहले पाकिस्तान खिलाड़ियों के कोविड टेस्ट हुए थे और उसमें दर्जन भर नाम ऐसे निकले जिनके टेस्ट के नतीजे पॉजिटिव आए थे। किसी तरह खिलाड़ियों को फिट करके इंग्लैंड भेजा गया। वहां उन्होंने बायो-बबल का पालन भी किया और उसके अंदर रहना सीखा भी लेकिन जैसे ही घर लौटे, उनकी हरकतें फिर शुरू हो गईं। जैसा देश, वैसे खिलाड़ी।

IPL(आईपीएल) 2020 से जुड़ी सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर