एमएस धोनी की वापसी में क्या है सबसे बड़ा रोड़ा? टीम इंडिया के पूर्व चयनकर्ता ने बताया

Venkatpathy Raju on MS Dhoni: एमएस धोनी को कप्‍तान बनाने वाली चयन समिति के सदस्‍य वेंकटपति राजू ने कहा कि अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट खेलना कभी आसान नहीं होता। इसमें अलग स्‍तर की फिटनेस और शैली की मांग होती है।

mahendra singh dhoni
महेंद्र सिंह धोनी 

मुख्य बातें

  • 2007 में धोनी को भारतीय कप्‍तान बनाने वाली चयन समिति के सदस्‍य रहे वेंकटपति राजू
  • राजू ने भी स्‍वीकार किया कि धोनी की राष्‍ट्रीय टीम में वापसी मुश्किल है
  • धोनी ने 2019 विश्‍व कप में न्‍यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल के बाद से कोई मैच नहीं खेला है

हैदराबाद: टीम इंडिया के पूर्व स्पिनर वेंकटपति राजू का मानना है कि महेंद्र सिंह धोनी लंबे समय से क्रिकेट से दूर हैं और इसी वजह से राष्‍ट्रीय टीम में उनकी वापसी मुश्किल है। बता दें कि वेंकटपति राजू 2007 में एमएस धोनी को भारतीय कप्‍तान बनाने वाली चयन समिति में शामिल थे। द हिंदु ने राजू के हवाले से कहा, 'धोनी 15 सालों से मैच विनर रहे हैं और उनकी फैन फॉलोइंग जबर्दस्‍त है। मगर इतने लंबे ब्रेक के बाद किसी भी खिलाड़ी का अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर वापसी करना मुश्किल है। महत्‍वपूर्ण बात यह है कि धोनी को आईपीएल के प्रदर्शन के आधार पर चुने जाने वाले खिलाड़‍ियों की योजना में शामिल किया गया था। अभी आईपीएल पर संकट के बादल मंडराए हुए हैं।'

राजू ने आगे कहा, 'कोई भी खिलाड़ी अगर लगातार खेल रहा हो या प्रदर्शन कर रहा हो तो दावेदारों में शामिल होता है। चाहे वह घरेलू क्रिकेट हो या इंडिया ए या कोई अन्‍य प्रतिस्‍पर्धी क्रिकेट। आप अपने आप को दूसरों के सामने साबित करने नहीं उतरते, लेकिन खुद को साबित करने उतरते हैं कि आप कहां और किस स्‍तर पर हैं। उम्र भी बड़ा फैक्‍टर है। अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट खेलना कभी आसान नहीं। यह अलग स्‍तर की फिटनेस और शैली मांगता है।'

धोनी को क्‍यों बनाया था कप्‍तान

राजू ने इसके साथ ही बताया कि आखिर 2007 में महेंद्र सिंह धोनी को भारतीय टीम की कमान क्‍यों सौंपी गई थी। राजू ने कहा कि चयनकर्ता पैनल ने धोनी को इसलिए कप्‍तान बनाया क्‍योंकि वह दबाव में प्रदर्शन करना जानते थे। राजू ने कहा, 'हमारे पैनल का उसूल सीधा था- सिर्फ निरंतर प्रदर्शन करने वाले और मैच विनर्स को ही कप्‍तान बनाया जाएगा। धोनी का शांत स्‍वभाव और जिस तरह वह चीजें संभालते थे, वह हम सभी को प्रभावित कर चुकी थी। यह सर्वसम्‍मति से लिया हुआ फैसला था।'

राजू ने आगे कहा, 'धोनी को कप्‍तान बनाने का एक और कारण यह भी था कि कई खिलाड़ी चोट या फिर लंब्रे ब्रेक के बाद वापसी कर रहे थे। इसलिए हमें लगा कि उन्‍हें कप्‍तान बनाना सर्वश्रेष्‍ठ विकल्‍प होगा। हमें अपने फैसले पर कभी पछतावा नहीं हुआ।'

लंबे समय से ब्रेक पर हैं माही

टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान एमएस धोनी ने पिछले साल विश्‍व कप में न्‍यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मैच खेला था। इसके बाद से वह ब्रेक पर हैं। धोनी ने मार्च की शुरुआत में चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स के ट्रेनिंग कैंप में हिस्‍सा लिया था क्‍योंकि वह आगामी आईपीएल की तैयारियों में जुटे थे। मगर कोरोनावायरस के प्रकोप के कारण आईपीएल 15 अप्रैल तक के लिए स्‍थगित कर दिया गया है। धोनी अपने गृहनगर रांची लौट गए हैं और खाली समय का आनंद उठा रहे हैं।

IPL(आईपीएल) 2020 से जुड़ी सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर