IPL मुकाबलों में लसिथ मलिंगा पर भारी पड़े हैं एमएस धोनी: स्‍टायरिस

Scott Styris on MS Dhoni: स्‍टायरिस का मानना है कि आखिरी ओवरों में दुनिया के सर्वश्रेष्‍ठ गेंदबाज के खिलाफ बेस्‍ट फिनिशर की बात करें तो धोनी-मलिंगा के मुकाबले में सीएसके के कप्‍तान भारी पड़ हैं।

lasith malinga vs ms dhoni
एमएस धोनी और लसिथ मलिंगा 

मुख्य बातें

  • स्‍टायरिस ने कहा कि आईपीएल में मलिंगा पर भारी पड़े हैं धोनी
  • स्‍टायरिस ने सीएसके को युवाओं को तैयार करने का श्रेय दिया
  • मुंबई ने चार जबकि चेन्‍नई ने तीन बार आईपीएल खिताब जीते हैं

नई दिल्ली: न्यूजीलैंड के पूर्व ऑलराउंडर स्कॉट स्टायरिस का मानना ​​है कि चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके) और मुंबई इंडियंस के बीच इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) प्रतिद्वंद्विता में बेस्‍ट फिनिशर एमएस धोनी और डेथ ओवर्स किंग लथिस मलिंगा के बीच मुकाबले में पूर्व भारतीय कप्तान भारी पड़ते है। चेन्नई सुपरकिंग्स ने आईपीएल के 10 सत्र में भाग लिया है, जिसमें से टीम आठ बार फाइनल में पहुंची है जबकि मुंबई की टीम 12 सत्र में से पांच बार फाइनल में पहुंचने में सफल रही है। फाइनल में मुंबई का प्रदर्शन हालांकि अच्छा रहा है, जिसने 4 बार यह खिताब जीता है।

स्‍टायरिस ने खेल चैनल से बातचीत में कहा, 'यह बात निरंतरता से जुड़ी है। नॉकआउट मुकाबलों में चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स का प्रदर्शन शानदार रहा है। आईपीएल से उम्मीद होती है कि वह भारतीय टीम के लिए खिलाड़ी तैयार करें और इस मामले में सीएसके ने सबसे ज्यादा युवाओं को तैयार किया है। टीम की कोशिश नये खिलाड़ियों को तैयार करने की रहती है।'

पूर्व कीवी ऑलराउंडर ने आगे कहा, 'आखिरी ओवरों में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज के खिलाफ यह मैच के सर्वश्रेष्ठ फिनिशर के बारे में है। धोनी और मलिंगा के मुकाबले में सीएसके के कप्तान भारी पड़े है।'

मांजरेकर ने मुंबई का दिया साथ

वहीं टीम इंडिया के पूर्व बल्‍लेबाज संजय मांजरेकर ने का मानना है कि आईपीएल में चेन्नई की टीम सबसे निरंतर रही है लेकिन बाद के वर्षों में मुंबई इंडियंस उन पर भरी पड़ी है। मौजूदा चैम्पियन मुंबई इंडियंस ने चार बार आईपीएल के खिताब को हासिल किया है जबकि चेन्नई तीन बार चैम्पियन रही है। मांजरेकर ने कहा, 'जब हम जीत प्रतिशत को देखते हैं, जोकि टीमों की सफलता को मापने का अच्छा तरीका है तो यह रिकॉर्ड चेन्नई के पक्ष में है। बाद के वर्षों में हालांकि मुंबई इंडियंस ने शानदार वापसी की और ज्यादा मुकाबलों में जीत दर्ज की।'

उन्होंने कहा, 'मुंबई इंडियंस चार बार चैम्पियन बनी है जबकि सीएसके ने तीन खिताब जीते हैं। मुंबई की टीम हालांकि दो सत्र अधिक खेली है (चेन्नई को दो सत्रों के लिए प्रतिबंधित किया गया था)। जब आप रिकॉर्ड पर गौर करते हैं, तो मुंबई इंडियंस एक ऐसी टीम के रूप में उभर रही है, जो पिछले कुछ वर्षों में चेन्नई को चुनौती दे रही है, वे वास्तव में चेन्नई की तुलना में बेहतर टीम रही है।'

मांजरेकर ने कहा, 'जब मुंबई की टीम फाइनल में पहुंचती है जो उनके जीतने का अधिक मौका रहता है। अगर आप पूरे आईपीएल को देखेगें तो चेन्नई को सबसे सफल टीम कहा जा सकता है लेकिन अब मुंबई का रिकार्ड बेहतर हो रहा है।'

अगली खबर