हार्दिक और क्रुणाल पांड्या की मुंबई इंडियन्स में एंट्री का इस व्यक्ति का जाता है श्रेय

क्रुणाल पांड्या और हार्दिक पांड्या की मुंबई इंडियन्स में एंट्री का इस व्यक्ति ने खोला था रास्ता। उनकी वजह से ही बने सुपर स्टार।

wright1
wright1 

मुख्य बातें

  • जॉन राइट की पड़ी थी पांड्या ब्रदर्स पर नजर, मुंबई में खेल रहे थे ट्रायल मैच
  • इसके बाद मिली मुंबई इंडियन्स की टीम में एंट्री
  • आज दोनों हैं मुंबई इंडियन्स की टीम के अहम खिलाड़ी

मुंबई: आईपीएल 2016 के लिए हुई खिलाड़ियों की नीलामी के बाद क्रुणाल पांड्या का नाम सुर्खियों में था। बड़ौदा के एक अनजान से खिलाड़ी पर मुंबई इंडियन जैसी बड़ी टीम ने 2 करोड़ रुपये का दांव खेलकर उसे अपनी टीम में शामिल किया था। ऐसे में चर्चा होना तो लाजमी था। अपने छोटे भाई हार्दिक की तरह क्रुणाल ने भी अपने पहले डेब्यू सीजन में बड़ा प्रभाव छोड़ने में सफल रहे। उस साल 12 मैचों में क्रुणाल ने 191.12 के स्ट्राइक रेट से 237 रन बनाए इसके साथ ही 6 विकेट भी झटके। 

क्रुणाल ने धमाकेदार अंदाज में किया आगाज
इनकी सफलता का ये सिलसिला साल 2017 के आईपीएल में भी जारी रहा। इस बार उन्होंने 243 रन बनाने के साथ 10 विकेट हासिल किए थे। ऐसे में 2018 में नए सिरे से हुई आईपीएल की नीलामी में क्रुणाल पांड्या को 8.8 करोड़ की मोटी कीमत पर राइच टू मैच कार्ड का इस्तेमाल करते हुए वापस टीम में शामिल करने में कोई हिचक नहीं हुई। इसके बाद उनके लिए भारतीय टीम के दरवाजे भी खुल गए। इस तरह उनका नाम भी आईपीएल से टीम इंडिया में शामिल होने वाले खिलाड़ियों की फेहरिस्त में शामिल हो गया। 

जॉन राइट की पड़ी थी दोनों भाईयों पर नजर
मुंबई इंडियन्स की टीम के कोर खिलाड़ियों में शामिल हो चुके क्रुणाल ने हाल ही में हार्दिक और उनके एमआई टीम में शामिल होने में जॉन राइट की भूमिका का खुलासा किया। 29 वर्षीय खिलाड़ी ने ये भी बताया कि उन्होंने सरकारी नौकरी हासिल करने से बेहतर ट्रायल मैच खेलने का विकल्प चुना।क्रुणाल ने कहा, मैंने दो से ढाई साल कड़ी मेहनत की। सरकारी नौकरी के लिए नहीं क्रिकेट के लिए। जिसका आगे चलकर मुझे फायदा मिला। ऐसा हुआ कि मुझे ट्रायल गेम्स खेलना पसंद था और मुझे सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के लिए बड़ौदा की टीम में भी जगह मिल चुकी थी। लेकिन संयोगवश जॉन राइट की नजर हम दोनों भाईयों पर मुंबई में पड़ी और इसके बाद हमें मुंबई इंडियन्स की टीम में शामिल होने का टिकट मिल गया।

दोनों भाईयों को मिलते हैं कुल 19.8 करोड़ रुपये 
चार बार की खिताब विजेता मुंबई इंडियन्स की टीम के दोनों भाई अहम खिलाड़ी हैं। दोनों ही ऑलराउंडर की भूमिका निभाते हैं। क्रुणाल पांड्या की तरह हार्दिक को आईपीएल नीलामी में मोटी रकम तो हासिल नहीं हुई थी। उन्हें मुंबई ने 10 लाख रुपये के बेस प्राइज पर टीम में शामिल किया था और क्रुणाल अनसोल्ड रह गए थे। लेकिन अब हार्दिक को टीम से बतौर सेलरी 11 करोड़ रुपये सालाना मिलते हैं। 

जॉन राइट के बारे में चर्चा करते हुए क्रुणाल ने कहा, वो मुंबई इंडियन्स के साथ साल 2013 से जुड़े हैं। केवल पांड्या ब्रदर्स ही नहीं उन्हें जसप्रीत बुमराह की खोज का भी श्रेय जाता है। 2013 में मुंबई से जुड़ने के बाद से बुमराह टीम के साथ है और वहां से उन्होंने भारत और दुनिया का नंबर एक टेस्ट गेंदबाज बनने का सफल पूरा किया। 

IPL(आईपीएल) 2020 से जुड़ी सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर