13 साल बाद आईपीएल फाइनल में पहुंची दिल्ली, ऐसा रहा है पहले से तेरहवें सीजन के बीच प्रदर्शन

आईपीएल में साल 2008 से खेल रही दिल्ली कैपिटल्स की टीम का फाइनल में पहुंचने का सपना रविवार को दूसरे क्वालीफायर नें सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ जीत के साथ पूरा हो गया।

Delhi Capitals
दिल्ली कैपिटल्स( साभार IPL/BCCI) 

मुख्य बातें

  • 13 साल में पहली बार आईपीएल के फाइनल में पहुंची दिल्ली
  • शुरुआती दौर में अच्छी प्रदर्शन के बाद लगातार आई प्रदर्शन में गिरावट
  • लगातार दूसरे साल की थी प्लेऑफ दौर में एंट्री, अब मिला फाइनल में खेलने का मौका

नई दिल्ली: साल 2008 से आईपीएल में 13 सीजन से लगातार खेल रही दिल्ली कैपिटल्स की टीम रविवार को आखिरकार फाइनल तक पहुंचने में सफल हो गई। कोच रिकी पॉन्टिंग और आईपीएल के सबसे युवा कप्तान श्रेयस अय्यर की मेहनत आखिरकार रंग लाई। पिछले सीजन में अय्यर की कप्तानी में टीम प्लेऑफ तक तो पहुंचने में सफल रही थी लेकिन उससे आगे नहीं बढ़ सकी थी लेकिन इस बार हर बाधा को पर करते हुए दिल्ली दबंग साबित हुई। और अब 10 नवंबर को डिफेंडिंग चैंपियन मुंबई इंडियन्स के खिलाफ खिताबी जीत के लिए दिल्ली को जोर लगाना होगा। आईए नजर डालते हैं दिल्ली के मौजूदा सीजन और पिछले 13 साल के प्रदर्शन पर नजर।

आईपीएल 2020 में ऐसा रहा है सफर
मौजूदा सीजन में दिल्ली कैपिटल्स की टीम का प्रदर्शन शानदार रहा है। लीग दौर में टीम ने 14 में से 8 मैच में जीत दर्ज की और दूसरे स्थान पर रही। लीग दौर के आखिरी पांच मुकाबलों में से चार में उसे हार का मुंह देखना पड़ा था। आखिरी मुकाबले में आरसीबी को मात देकर दूसरे स्थान पर रही थी लेकिन इसके बाद पहले क्वालीफायर मुकाबले में मुंबई इंडियन्स ने दिल्ली को कोई मौका नहीं दिया और उसे दूसरा क्वालीफायर खेलने को मजबूर कर दिया। जहां हैदराबाद को पटखनी देकर फाइनल में अपनी  जगह पक्की कर ही ली। 

सीजन 1: आईपीएल के साल 2008 में हुए पहले सीजन में दिल्ली डेयरडेविल्स(दिल्ली कैपिटल्स) की टीम 14 मैच में से 7 में जीत सहित कुल 15 अंकों के साथ प्लेऑफ में पहुंचने में सफल रही थी। लेकिन पहले सीजन की विजेता बनी दिल्ली के खिलाफ सेमीफाइनल में उसे हार का मुंह देखना पड़ा था। 

सीजन 2: आईपीएल 2009 में दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने शानदार प्रदर्शन किया और लीग दौर में 14 में से 10 मैच जीतकर पहले स्थान पर रही थी। लेकिन सेमीफाइनल में उसे चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था। 

सीजन 3: लगातार दो सीजन में सेमीफाइनल तक पहुंचने वाली दिल्ली की टीम लीग दौर में सात जीत और सात हार के साथ पांचवें पायदान पर रही थी। 

सीजन 4:  साल 2011 में आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स की टीम बेहद खराब प्रदर्शन करते हुए 10 टीमों में दसवें स्थान पर रही थी। टीम को 4 मैच में जीत और 9 में हार का सामना करना पड़ा था। 

सीजन 5: साल 2011 के निराशाजनक प्रदर्शन से उबरते हुए दिल्ली ने 2012 में शानदार प्रदर्शन किया और अंक तालिका में 16 में 10 मैच जीतकर टॉप पर रही। लेकिन दिल्ली की टीम इस बार भी फाइनल में नहीं पहुंच सकी।

सीजन 6: साल 2013 का सीजन एक बार फिर दिल्ली के लिए बेहद निराशाजनक रहा टीम इस बार 16 में से केवल 3 मैच में जीत दर्ज कर सकी और अंक तालिका में आखिरी स्थान से उसे संतोष करना पड़ा। 
  
सीजन 7: साल 2014 का सीजन दिल्ली के लिए और भी खराब रहा और वो कुल 14 मैच में से केवल 2 में जीत हासिल कर सकी। 

सीजन 8: साल 2015 में दिल्ली की प्रदर्शन पिछले सीजन से बेहतर रहा। टीम 14 में से 5 मैच जीतकर सातवें स्थान पर रही। किंग्स इलेवन पंजाब की टीम उनसे पीछे थी। 

सीजन 9: आईपीएल 2016 में दिल्ली की टीम छठे स्थान पर रही। इस दौरान उसने खेले 14 में से 7 मैच में जीत और 7 हार का सामना किया और छठे स्थान पर रही।

सीजन 10: दिल्ली का खराब प्रदर्शन साल 2017 में भी जारी रहा। दिल्ली ने 14 में से 6 मैच में जीत हासिल की और 8 मुकाबले गंवाए और अंत में छठे पायदान पर रही। 

सीजन 11: साल 2018 में दिल्ली ने 14 में से 5 में जीत हासिल की और 9 में हार का सामना किया और एक बार फिर आठवें यानी अंतिम पायदान पर रही।

सीजन 12: साल 2019 में दिल्ली कैपिटल्स के नाम से खेलते हुए दिल्ली की तकदीर बदल गई और 14 में से 9 मैच में जीत दर्ज कर तीसरे स्थान पर रही। लेकिन इस बार उसका सफर प्लेऑफ में ही थम गया। दूसरे क्वालीफायर मुकाबले में चेन्नई ने दिल्ली को मात देकर फाइनल में एंट्री की थी। 

IPL(आईपीएल) 2020 से जुड़ी सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर