हिटमैन रोहित शर्मा ने बताया, मुंबई इंडियन्स प्लेऑफ में क्यों नहीं बना पाई जगह?

रोहित शर्मा ने बताया है कि डिफेंडिंग चैंपियन मुंबई इंडियन्स आईपीएल 2021 में प्लेऑफ दौर में जगह बना पाने में क्यों हुई नाकाम।

Rohit-Sharma-ipl-2021
रोहित शर्मा (साभार स्क्रीन ग्रैब IPL) 

मुख्य बातें

  • आईपीएल 2021 में पांचवें पायदान पर रही डिफेंडिंग चैंपियन मुंबई इंडियन्स
  • 14 मैच में से सात में मिली जीत और सात में हार, नेट रन रेट के आधार पर केकेआर से मिली प्लेऑफ की दौड़ में मात
  • रोहित ने आखिरी लीग मैच के बाद बताया उनकी टीम प्लेऑफ दौर में पहुंचने में क्यों हुई असफल

अबूधाबी: मुंबई इंडियन्स के कप्तान रोहित शर्मा ने इंडियन प्रीमियर लीग में शुक्रवार को सनराइजर्स हैदराबाद पर 42 रन की जीत के बावजूद प्ले ऑफ में जगह बनाने में नाकाम रहने के बाद कहा कि उनकी टीम दूसरे चरण में सामूहिक रूप से विफल रही। इसी के साथ ही मुंबई इंडियन्स का लगातार तीसरी बार खिताब जीतने का सपना भी टूट गया और डिफेंडिंग चैंपियन का सफर लीग दौर में ही थम गया। 

शुक्रवार को मुंबई इंडियन्स द्वारा जीत के लिए दिए 236 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए हैदराबाद की टीम आठ विकेट पर 193 रन ही बना सकी। मुंबई को प्ले ऑफ के लिए क्वालीफाई करने के लिए सनराइजर्स को 65 रन के स्कोर से कम पर रोकना था। मुंबई को अंक तालिका में सात जीत और सात हार के साथ पांचवें स्थान से संतोष करना पड़ा। वहीं सनराइजर्स की टीम आठ टीमों की तालिका में छह अंक के साथ अंतिम स्थान पर रही।

हमपर दबाव नहीं था, अपेक्षाएं थीं 
टीम के प्ले ऑफ में जगह बनाने में नाकाम रहने पर रोहित ने कहा, 'जब आप मुंबई जैसी फ्रेंचाइजी के लिए खेलते हो तो आपसे हमेशा अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद की जाती है। खासकर टीम के पुराने प्रदर्शन को देखते हुए। मैं इसे दबाव नहीं कहूंगा, यह उम्मीदें हैं। आप जहां भी रहते हैं आप किसी भी खेल में जिस किसी टीम के लिए खेलते हैं आपके ऊपर हमेशा प्रदर्शन करने का दबाव होता है। एक ग्रुप के रूप में हमने पिछले पांच छह साल में जो किया। उसकी वजह से प्रशंसकों को हमसे बड़ी आशाएं थीं।  

बड़े खिलाड़ियों को बाहर रखना था मुश्किल 
आमतौर पर मुंबई की टीम टूर्नामेंट के दौरान बहुत बदलाव नहीं करती है लेकिन इस बार आपने कई बदलाव किए। ऐसे में बड़े खिलाड़ियों को बाहर रखना पड़ा। ये करना कितना मुश्किल था?  इस सवाल के जवाब में रोहित ने कहा, ऐसे निर्णय करना बिलकुल भी आसान नहीं था। ईमानदारी से कहूं तो मैं ऐसा व्यक्ति हूं जो खिलाड़ियों पर भरोसा करता है और जहां तक संभव होता है मैं उनका समर्थन करता हूं। मैं उसी टीम के साथ खेलता हूं क्योंकि इन्हीं खिलाड़ियों ने पिछले 2 साल में टीम को जीत दिलाई है। मैं पहले भी कह चुका हूं कि हमारे लिए अच्छे बुरे सीजन होते हैं। इस बार हमने अच्छा नहीं किया। पिछले कुछ सालों में एक टीम के रूप में हमारी यात्रा अच्छी रही है। इस मजबूत सेटअप का हिस्सा होने का अनुभव शानदार रहा है। हमने एक टीम के रूप में जो किया है उसपर हमें गर्व होना चाहिए। 

एक-दो का दोष नहीं, हम सामूहिक रूप से रहे विफल
इस सीजन क्या गलत हुआ तो इसके जवाब में रोहित ने कहा, ईमानदारी से कहूं तो इसकी बहुत सी वजह रहीं। दिल्ली में हम लगातार दो मैच जीतने के बाद लय में आ रहे थे लेकिन इस के बाद ब्रेक (कोविड-19 मामलों के कारण) हो गया। ब्रेक टीम के लिए मददगार नहीं रहा। यहां आने के बाद हम टीम के रूप में सामूहिक रूप से विफल रहे। आज जीत दर्ज करने की खुशी है। हमने सब कुछ झोंक दिया और मुझे यकीन है कि प्रशंसकों के लिए भी यह मनोरंजक रहा।'


ईशान किशन की तारीफ करते हुए रोहित ने कहा, मैंने पहले भी कई बार कहा है कि वो बेहद प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं। उनके लिए सही जगह बल्लेबाजी करना अहम है। आज का मैच उनके लिए एकदम सटीक था। ऐसी स्थिति में खेलना उन्हें रास आता है। जब टीम के सामने मुश्किल ऐसी परिस्थिति में खेलना आता है ईशान को रास स्थिति हो तब उन्हें खेलने में मजा आता है। हम पिछले कुछ सालों से जैसे ईशान किशन को जानते हैं उन्होंने वैसा ही प्रदर्शन किया। दूसरे छोर से उन्हें बल्लेबाजी करते देखना शानदार अनुभव था। 

IPL(आईपीएल) 2021 से जुड़ी सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर