करारी हार के बाद दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर ने दे डाला ये कैसा बयान

DC captain Shreyas Iyer statement after 88 run loss: दिल्ली कैपिटल्स को सनराइजर्स हैदराबाद ने 88 रनों से करारी शिकस्त दी तो दिल्ली के युवा कप्तान श्रेयस अय्यर ने एक अजीबोगरीब बयान दे डाला।

Shreyas Iyer with Ricky Ponting
कप्तान श्रेयस अय्यर और कोच रिकी पोंटिंग (Delhi Capitals)  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • दिल्ली कैपिटल्स को सनराइजर्स हैदराबाद ने 88 रन से हराया
  • शर्मनाक हार के बाद कप्तान श्रेयस अय्यर ने कुछ अजीबोगरीब कह डाला
  • आईपीएल 2020 के सबसे युवा कप्तान हैं श्रेयस अय्यर

दुबई में हैदराबाद के हाथों 88 रन से मिली हार के बाद दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) ने जो कहा वो किसी कप्तान के मुंह से उम्मीद नहीं की जाती है। मैच में उन्होंने खुद टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया था और मैच के बाद उन्होंने कहा कि उनकी टीम ने पावरप्ले में ही मैच गंवा दिया था। हालांकि अय्यर  को भरोसा है कि अगले दो मैचों में एक जीत दर्ज करके वे प्लेआफ में जगह पक्की कर लेंगे।

इस करारी हार के बाद कप्तान श्रेयस अय्यर ने कहा ,‘यह बड़ी हार है लेकिन इस समय हार का गम नहीं मना सकते। अभी हमें दो मैच और खेलने हैं और बस एक जीत की जरूरत है। हम पिछले तीन मैचों से उस जीत का इंतजार कर रहे हैं। इस हार से हमें बाकी मैचों में अच्छे प्रदर्शन की प्रेरणा मिलेगी।’

'हम वहीं मैच गंवा बैठे थे'

अय्यर ने आगे कहा, ‘उन्होंने पावरप्ले में 70 रन बना लिये और हम वहीं मैच गंवा बैठे थे। हमें मजबूत और सकारात्मक मानसिकता के साथ उतरना है। इन पराजयों से मनोबल नहीं टूटना चाहिये। इन तीन मैचों से पहले के प्रदर्शन को ध्यान में रखना होगा।’ गौरतलब है कि दिल्ली कैपिटल्स की टीम में खुद कप्तान श्रेयस अय्यर के अलावा शिखर धवन, रिषभ पंत जैसे कई धमाकेदार बल्लेबाज मौजूद हैं, ऐसे में ये कहना कि प्लेऑफ में ही वे हार बैठे थे, इसका टीम के युवा खिलाड़ियों पर गहरा असर भी हो सकता है।

अय्यर का वो अजीबोगरीब फैसला

दिल्ली कैपिटल्स की हार की वजह सिर्फ पावरप्ले में वॉर्नर और साहा की धुआंधार बल्लेबाजी नहीं थी। जिस पिच पर स्पिनर्स को काफी मदद मिल रही थी, उसी पिच पर अय्यर ने सबसे गेंदबाजी कराई लेकिन जिस गेंदबाज का सबसे अच्छा प्रदर्शन रहा, उसका एक ओवर बचा लिया गया। हम बात कर रहे हैं रविचंद्रन अश्विन की जिन्होंने 3 ओवर में 35 रन देकर 1 विकेट लिया। उनसे उनके पूरे 4 ओवर क्यों नहीं कराए गए ये समझ से परे है। उसी पिच पर अगली पारी में हैदराबाद के स्पिनर राशिद खान (3/7) ने कहर ढाया।

टीम का शीर्ष गेंदबाज भी रहा फ्लॉप

इसके अलावा, उनके शीर्ष गेंदबाज कगिसो रबाडा का फ्लॉप होना भी एक बड़ा कारण था। वो रबाडा पर हद से ज्यादा निर्भर नजर आए, शायद यही वजह रही कि तीन ओवर में 37 रन लुटाने के बाद बावजूद अंतिम ओवर रबाडा को ही दिया गया। मैच में रबाडा के 4 ओवरों में हैदराबाद के बल्लेबाजों ने 54 रन जड़ डाले। पिछली 30 आईपीएल पारियों में ऐसा पहली बार हुआ है जब रबाडा को एक भी विकेट नहीं मिला।

IPL(आईपीएल) 2020 से जुड़ी सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर