क्या एशेज सीरीज के बाद खत्म हो जाएगा इंग्लैंड के इस खिलाड़ी का करियर?

Jos Buttler's Flop Show in Ashes 2021-22: इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर ने मौजूदा एशेज सीरीज में बेहद खराब प्रदर्शन किया है। ऐसे में उनका टेस्ट करियर खत्म होने के करार पर पहुंच गया है।

Jos-Buttler
जोस बटलर 
मुख्य बातें
  • पिछले एक साल में बटलर ने जड़ा है केवल एक अर्धशतक
  • बटलर ने मौजूदा एशेज सीरीज में खेले चार टेस्ट की 7 पारियों में बनाए हैं 16 की औसत से कुल 96 रन
  • एक साल में उनके बल्ले से निकले हैं केवल 202 रन, ढलान पर है बैटिंग

सिडनी: इंग्लैंड की टेस्ट टीम के उप-कप्तान जोस बटलर इन दिनों सबसे बड़े फॉर्मेट में करियर के सबसे बुरे दौर से गुजर रहे हैं। सीमित ओवरों की क्रिकेट में बल्ले से धमाल मचाकर रनों का अंबार लगाने वाले बटलर का बल्ला टेस्ट क्रिकेट में खामोश है। सबसे बड़े फॉर्मेट में वो लगातार नाकाम हो रहे हैं। इसी वजह से मौजूदा एशेज सीरीज के बाद उनके लिए टेस्ट टीम में जगह बनाए रखना मुश्किल दिख रहा है। संभव है कि मौजूदा एशेज उनके टेस्ट करियर की आखिरी सीरीज भी साबित हो।

एशेज सीरीज में इंग्लैंड की टीम का हाल बेहाल है। महज 12 दिन के अंतराल में शुरुआती तीन टेस्ट मैच गंवाने के साथ-साथ इंग्लैंड ने सीरीज भी गंवा दी। टीम के इस खस्ता हाल के लिए मुख्य रूप से बल्लेबाज जिम्मेदार रहे। कप्तान जो रूट के अलावा टीम का कोई और बल्लेबाज कंगारू गेंदबाजों के कहर का सामना नहीं कर सका। 

एशेज 2021-21 में नाकाम रहे हैं बटलर
इंग्लैंड का टॉप ऑर्डर तो पहले ही संघर्ष कर रहा था लेकिन जोस बटलर और जॉनी बेयर्स्टो की मौजूदगी के बावजूद लोअर मिडिल ऑर्डर भी लगातार फेल हो रहा है। दोनों ही खिलाड़ी लगातार रन बनाने में नाकाम रहे। चौथे एशेज टेस्ट में शतक जड़कर जॉनी बेयर्स्टो ने अपने पाप धुल लिए लेकिन खाता खोले बगैर पवेलियन वापस लौटने वाले जोस बटलर के लिए स्थितियां मुश्किल होती जा रही हैं। 

7 पारियों में 16 की औसत से बनाए हैं 96 रन
मौजूदा एशेज सीरीज में बटलर अब तक 39, 23, 0, 26, 3, 5* और 0 रन की पारी खेल सके हैं। उनके बल्ले से चार टेस्ट की 7 पारियों में  16 की औसत से कुल 96 रन निकले हैं। एक बार वो नाबाद रहे हैं और सीरीज में उनका सर्वाधिक स्कोर 39 रन रहा है। बटलर पिछली 18 टेस्ट पारियों से शतक का इंतजार कर रहे हैं। पाकिस्तान के खिलाफ साउथैम्पटन टेस्ट में खेली 152 रन की ऐतिहासिक मैच जिताऊ पारी के बाद से वो अबतक केवल एक अर्धशतक जड़ सके हैं। 55 रन की वो पारी भी उन्होंने पिछले साल गॉल में श्रीलंका खिलाफ खेली थी। 

एक साल में बल्ले से निकला है केवल एक अर्धशतक
पिछले साल भारत दौरे से लेकर अबतक खेले 8 टेस्ट मैच की 14 पारियों में उन्होंने 15.53 के औसत से कुल 202 रन बनाए हैं। इस दौरान एक भी अर्धशतक उनके बल्ले से नहीं निकला है। उनका सर्वाधिक स्कोर 39 रन रहा है। ये पारी भी उन्होंने मौजूदा एशेज सीरीज के पहले टेस्ट में खेली थी। उसके बाद उनके प्रदर्शन में लगातार गिरावट आई। दो पारियों में तो बटलर अपना खाता भी नहीं खोल सके। ऐसे में उनके लिए टेस्ट टीम में एशेज के बाद बना रहा मुश्किल नजर आ रहा है। सैम बिलिंग्स को बतौर रिजर्व विकेटकीपर पांचवें टेस्ट के लिए इंग्लिश टीम में शामिल किया जा चुका है और ये संकेत बटलर के लिए अच्छे नहीं हैं। 

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर