विराट कोहली हुए भावुक, बोले- मुझसे प्यार करने वालों से भरे कमरे में भी मैंने अकेला महसूस किया

क्रिकेट
आईएएनएस
Updated Aug 18, 2022 | 20:45 IST

Virat Kohli gets emotional: टीम इंडिया के पूर्व कप्तान विराट कोहली एक इंटरव्यू के दौरान भावुक हो गए और उन्होंने बयां किया कि कैसे वो तमाम चाहने वालों के बीच भी अकेला महसूस कर रहे थे।

Virat Kohli
विराट कोहली  |  तस्वीर साभार: Instagram
मुख्य बातें
  • पूर्व भारतीय कप्तान विराट कोहली हुए भावुक
  • विराट ने बयां किया अपने दिल का दर्द
  • बोले- चाहने वालों के बीच भी खुद को अकेला महसूस किया

भारत के पूर्व कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि लगातार खराब फॉर्म एक खिलाड़ी के मानसिक स्वास्थ्य को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकती हैं। उन्होंने व्यक्तिगत रूप से इसका अनुभव किया है। साथ ही कहा कि कई बार लोगों से भरे कमरे में मैंने खुद को अकेला महसूस किया है।

कोहली लगातार खराब फॉर्म से गुजर रहे हैं, खासकर हाल के दिनों में जब उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में खराब पारियां खेली हैं। उन्होंने दबाव कम करने के लिए टी20 के साथ-साथ वनडे की कप्तानी भी छोड़ दी। स्टार बल्लेबाज को वनडे कप्तान के रूप में हटा दिया गया था, जिसके बाद उन्होंने दक्षिण अफ्रीका में श्रृंखला हार के बाद इस साल की शुरूआत में टेस्ट कप्तानी भी छोड़ दी थी।

विराट क्रिकेटरों के लिए मानसिक स्वास्थ्य और ब्रेक के महत्व के बारे में मुखर रहे हैं । उन्होंने अक्सर इस बात पर भी प्रकाश डाला है कि कैसे कोरोना महामारी ने एथलीटों के लिए जीवन को कठिन बना दिया है, क्योंकि उन्हें लगातार प्रतिबंधों और बायो बबल से निपटना पड़ता है। भारत के वेस्टइंडीज और जिम्बाब्वे के दौरे के दौरान आराम करने के बाद, 35 वर्षीय खिलाड़ी आगामी एशिया कप 2022 में खेलने के लिए पूरी तरह तैयार है, जो 27 अगस्त को संयुक्त अरब अमीरात में शुरू हो रहा है।

कोहली ने द इंडियन एक्सप्रेस से कहा , "एक खेल एक खिलाड़ी के रूप में आप हमेशा सर्वश्रेष्ठ करते हैं, लेकिन साथ ही, आप जिस दबाव में लगातार रहते हैं, वह आपके मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है। यह निश्चित रूप से एक गंभीर मुद्दा है और जितना हम हर समय मजबूत रहने की कोशिश करें, यह आपको और प्रभावित करता है।"

कोहली ने युवा एथलीटों को एक टिप भी दी, जिसमें कहा गया था कि अपने आपको मजबूत रखें और आराम करने और खेल के दबाव से उबरने के लिए समय का सही से उपयोग करें। बल्लेबाज ने कहा, "आकांक्षी एथलीटों के लिए मेरा सुझाव यह होगा कि हां, शारीरिक फिटनेस और रिकवरी पर ध्यान एक अच्छा एथलीट बनने की कुंजी है, लेकिन साथ ही अपने आपको मजबूत रखना जरूरी है।"

ये भी पढ़ेंः सौरव गांगुली बोले- उसे मैच खेलने दो, उसे अभ्यास करने दो

उन्होंने आगे कहा, "मैंने व्यक्तिगत रूप से ऐसे समय का अनुभव किया है जब मुझे समर्थन और प्यार करने वाले लोगों से भरे कमरे में भी, मैंने खुद को अकेला महसूस किया। मुझे यकीन है कि यह एक ऐसी भावना है जिससे बहुत से लोगों ने महसूस किया होगा। इसलिए, अपने लिए समय निकालें और बेहतर करने के लिए ध्यान केंद्रित करें।"

उन्होंने आगे कहा, "आपको यह सीखने की जरूरत है कि अपने समय को कैसे विभाजित किया जाए ताकि संतुलन बना रहे। यह जीवन में किसी भी चीज की तरह अभ्यास करते रहें और आप अपना काम करते समय आनंद की भावना महसूस करें।

पूर्व कप्तान ने यह भी उल्लेख किया कि कैसे अपने परिवार के साथ समय बिताने और यात्रा करने से उन्हें पेशेवर खेल में व्यस्त शेड्यूल के बाद आराम करने में मदद मिली है। व्यस्त कार्यक्रम होने के बावजूद, दिल्ली में जन्मे क्रिकेटर अपने वर्कआउट को कभी नहीं छोड़ते।

कोहली ने कहा, "मेरी फिटनेस यात्रा दिलचस्प रही है। पहले कुछ महीने सबसे कठिन होते हैं, क्योंकि यही वह समय होता है जब आपको वास्तव में खुद को आगे बढ़ाने की आवश्यकता होती है। केवल एक चीज जो आपको आगे बढ़ाती है वह है आपकी इच्छा शक्ति। यही कारण है कि मैं अपनी पूरी कोशिश करता हूं कि कभी भी अपने वर्कआउट को मिस न करूं।"

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर