सचिन तेंदुलकर ने ब्रेड हॉग को मैच के बाद किया था वादा, अपने पूरे करियर में इसे निभाया

Sachin Tendulkar: सचिन ने बड़ी सादगी से ऑटोग्राफ तो दिया, लेकिन तस्वीर पर यह भी लिख दिया था कि अब वह अगली बार दोबारा कभी उन्हें आउट नहीं कर पाएंगे। तेंदुलकर ऐसा करने में फिर सफल भी रहे।

sachin tendulkar and brad hogg
सचिन तेंदुलकर और ब्रेड हॉग 

मुख्य बातें

  • सचिन तेंदुलकर ने ब्रेड हॉग से 2007 में एक वादा किया था
  • सचिन तेंदुलकर को ब्रेड हॉग ने अपनी गेंद पर क्‍लीन बोल्‍ड किया था
  • तेंदुलकर ने हॉग से कहा था कि दोबारा उन्‍हें कभी विकेट नहीं लेने देंगे

नई दिल्ली: भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर अपने क्रिकेट करियर के दौरान कई बार अपने फैंस और उन खिलाड़ियों को ऑटोग्राफ दे चुके हैं, जिनके साथ या जिनके खिलाफ वह खेले हैं। और ऐसा ही एक ऑटोग्राफ उन्होंने 2007 में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व चाइनामैन गेंदबाज ब्रैड हॉग को दिया था। पांच अक्टूबर 2007 को हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में वनडे सीरीज के तीसरे मैच के दौरान भारत को जीत के लिए 291 रन का लक्ष्य मिला था। 

सचिन उस मैच में गौतम गंभीर के साथ पारी की शुरुआत करने आए थे और हॉग ने 27वें ओवर में मास्‍टर ब्‍लास्‍टर को बोल्ड कर दिया था। हॉग ने द संडे ऐज से कहा था कि मैच के बाद वह सचिन के पास उनसे उसी तस्वीर पर ऑटोग्राफ लेने गए थे। सचिन ने बड़ी सादगी से ऑटोग्राफ तो दिया, लेकिन तस्वीर पर यह भी लिख दिया था कि अब वह अगली बार दोबारा कभी उन्हें आउट नहीं कर पाएंगे।


दोबारा आउट नहीं कर पाओगे

हॉग ने उस समय द संडे ऐज से कहा था, 'मैंने उस मैच में उन्हें आउट कर दिया था और फिर उनसे अपने लिए ऑटोग्राफ देने के लिए कहा था। उन्होंने मुझे ऑटोग्राफ दिया और मेरे लिए एक मैसेज भी लिखा, 'यह फिर कभी दोबारा नहीं होगा। हॉग।' सचिन की कही हुई बातें बिल्कुल ठीक निकलीं और हॉग फिर उसके बाद कभी दोबारा सचिन का विकेट नहीं ले पाए। लेकिन वह ऑटोग्राफ हॉग के लिए एक कीमती चीज की तरह है।

हॉग ने कहा, 'यह थोड़ा कीमती है। यह सचिन तेंदुलकर जैसे खिलाड़ी के साथ मैदान पर खेलना सम्मान की बात है। उन्हें गेंदबाजी करना एक शानदार अनुभव है। अगर मैं वहां हूं, तो मैं उनसे मुकाबला करने और उनके लिए जीवन को कठिन बनाने के लिए हूं।'  युवराज सिंह के शतक के बावजूद भारत को उस मैच में 47 रन से हार का सामना करना पड़ा था।

सचिन और हॉग का करियर

सचिन तेंदुलकर ने अपने 24 साल के अंतरराष्‍ट्रीय करियर में 463 वनडे में 49 शतक सहित 18426 रन बनाए। वहीं उन्‍होंने 200 टेस्‍ट में 51 शतकों की मदद से 15,921 रन बनाए। तेंदुलकर ने एकमात्र टी20 इंटरनेशनल मैच खेला था, जिसमें उन्‍होंने 10 रन बनाए थे। वहीं ब्रेड हॉग ने सात टेस्‍ट, 123 वनडे और 15 टी20 इंटरनेशनल मैचों में क्रमश: 17, 157 और 7 विकेट झटके थे। बता दें कि इस घटना के बाद सचिन तेंदुलकर और ब्रेड हॉग का सामना 20 से ज्‍यादा बार हुआ, लेकिन चाइनामैन दोबारा कभी तेंदुलकर को अपना शिकार नहीं बना सके।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर