24 महीने में 25 दिन घर: रवि शास्त्री ने अपनी विदाई प्रेस कॉन्फ्रेंस में टीम के बारे में खास बात बताई

Ravi Shastri on Bio-Bubble Fatigue: विराट कोहली की अगुवाई वाली भारतीय टीम का टी20 विश्व कप 2021 से बोरिया बिस्तर बंध चुका है। भारत को सुपर-12 राउंड में दो हार और तीन जीत मिलीं।

Ravi Shastri on bubble fatigue
रवि शास्त्री  |  तस्वीर साभार: AP, File Image
मुख्य बातें
  • टी20 विश्व कप 2021 में टीम इंडिया सेमीफाइनल में एंट्री नहीं कर सकी
  • भारत ने सोमवार को नामीबिया के खिलाफ लीग चरण अंतिम मैच खेला
  • रवि शास्त्री ने भारतीय टीम के टूर्नामेंट से जल्द बाहर होने का बचाव किया

Team India Head Coach Ravi Shastri Press Conference: भारत ने सोमवार को नामीबिया के खिलाफ सुपर-12 राउंड का पांचवां और आखिरी मैच खेला। इस मुकाबले के साथ ही टीम इंडिया का टूर्नामेंट में सफर समाप्त हो गया। भारत को शुरुआती दो मैचों में पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के विरुद्ध करारी शिकस्त झेलनी पड़ी, लेकिन फिर टीम ने आखिरी तीन मैचों में जबरदस्त जीत हासिल की। हालांकि, शुरुआती दो हार के बाद भारत की सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें धुंधली पड़ गई थीं।

भारत के विश्व कप से जल्द बाहर होने की चर्चा लगातार हो रही है और अलग-अलग वजह गिनाई जा रही हैं। इस बीच हेड कोच रवि शास्त्री ने खिलाड़ियों के प्रदर्शन में उतार-चढ़ाव के लिए बायो बबल थकान को जिम्मेदार ठहराया है। शास्त्री का कहना है कि लंबे समय से खिलाड़ी बबल में रहे हैं, जिसका असर खेल पर पड़ रहा है। उन्होंने साथ ही टीम के बारे में खास बात भी बताई। बता दें कि भारतीय टीम के हेड कोच के रूप में शास्त्री का यह आखिरी टूर्नामेंट था।

'24 महीनों में 25 दिन सिर्फ अपने घर रहे'

रवि शास्त्री ने नामीबिया के खिलाफ मैच के बाद अपनी विदाई प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'मैं एक बात कहना चाहता हूं, यह बहाना नहीं है। जब आप छह महीने बबल रहते हैं, इस टीम में बहुत सारे ऐसे खिलाड़ी हैं जो सभी तीनों फॉर्मेट में खेलते हैं। पिछले 24 महीनों में वे 25 दिन ही सिर्फ अपने घर रहे हैं। मुझे फर्क नहीं पड़ता है कि आप कौन हैं। अगर आपका नाम ब्रैडमैन है और आपको बबल में रहना पड़े तो भी आपका औसत नीचे आ जाएगा, क्योंकि आप इंसान हैं। ऐसा बिलकुल नहीं है कि गाड़ी में तेल डाला और फिर आप  खिलाड़ी से से चलने की उम्मीद करने लगे।'

'किसी खिलाड़ी ने कोई शिकायत नहीं की'

उन्होंने आगे कहा, 'ये कठिन समय हैं। जिंदगी में कोई चीज इस बात पर निर्भर नहीं करती कि आपने कैसे समाप्त किया, मगर इसपर जरूर निर्भर करती है कि बतौर टीम आपने क्या हासिल किया और कैसे चीजों से पार पाया। इस टीम ने ऐसा करके दिखाया है। खिलाड़ी डटे रहे हैं। किसी ने कोई शिकायत नहीं की। जल्दी या बाद में गुब्बारा फटेगा और इसलिए आपको सावधान रहना होगा।'

अगले टी20 विश्व कप पर क्या बोले शास्त्री

हालांकि, शास्त्री का मानना है कि भारतीय टीम अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप में वापसी करेगी। उन्होंने कहा, 'हां, हम सुपर-12 राउंड के शुरुआती दो मैचों के परिणाम से निराश हैं, लेकिन ईमानदारी से कहूं तो मैं यहां कोई बहाना बनाने नहीं आया हूं। न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे मैच में हमने साहस के साथ नहीं खेला।' शास्त्री ने कहा, 'लड़कों के सीखने के लिए कुछ जरूर है और उन्हें अगले साल फिर से मौका मिलेगा। ऐसा अक्सर नहीं होता है कि आपको 12 महीनों में दो विश्व कप खेलने हों। ऐसे में उम्मीद है कि वे वहां जाएंगें और अपने प्रदर्शन से आलोचकों को जवाब देंगे।'


 

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर