'कभी-कभी हम एक-दूसरे को देखना तक नहीं चाहते थे', एमएसके ने खोल दिया कोहली-शास्त्री से मीटिंग का गहरा राज

MSK Prasad on Virat Kohli and Ravi Shastri: पूर्व भारतीय सेलेक्टर एमएसके प्रसाद ने टीम सेलेक्शन के वक्त के एक गहरे राज का खुलासा किया है। उनका कहना है कि कोहली-शास्त्री से कई बार बहस हुई।

Virat Kohli and Ravi Shastri
विराट कोहली और रवि शास्त्री (फाइल फोटो)  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • एमएसके प्रसाद भारतीय टीम के चीफ सेलेक्टर रहे हैं
  • उनका कार्यकाल 2019 विश्व कप के बाद समाप्त हुआ
  • उन्हें कई बार चयन को लेकर आलोचना का सामना किया

पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज एमएसके प्रसाद 2016 से लेकर 2020 तक भारतीय क्रिकेट टीम के चीफ सेलेक्टर रहे है। उनके कार्यकाल के दौरान कई ऐसे फैसले हुए, जिनपर काफी हंगामा मचा। इतना ही नहीं दबी जुबान में यह भी कहा गया कि प्रसाद की कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री के सामने बिलकुल नहीं चलती थी। हालांकि, प्रसाद ने अब कई मुद्दों पर खुलकर अपनी बात रखी है। उन्होंने साथ ही कोहली और शास्त्री के साथ टीम सेलेक्शन मीटिंग के समय के गहरे राज से भी पर्दा उठाया। उन्होंने बताया कि कभी-कभी हम (प्रसाद, कोहली, शास्त्री) एक-दूसरे को देखना तक नहीं चाहते थे'

'अक्सर कोहली-शास्त्री से बहस हो जाती थी'

दरअसल, क्रिकेट डॉट कॉम से बातचीत के दौरान प्रसाद से पूछा गया, 'एक धारणा थी कि आप रवि शास्त्री और विराट कोहली जैसे हस्तियों के सामने बहुत विनम्र थे। लोग कल्पना भी नहीं कर सकते कि आप ऐसे आक्रामक प्रोफेनशनल्स के खिलाफ बहस में कैसे जीतते होंगे?' इसके जवाब में पूर्व चीफ सेलेक्टर ने खुलासा किया कि उनकी अक्सर कोहली और शास्त्री के साथ बहस हो जाती थी। लेकिन दोनों  प्रोफेनशनल हैं और टीम के फाएदा के हिसाब से जरूरतों को समझते हैं।

'हम एक-दूसरे को देखना तक नहीं चाहते थे'

प्रसाद ने कहा, 'आप उनसे पूछिए कि हमारे बीच किस तरह की बहस होती थी। कभी-कभी हम एक-दूसरे को (मीटिंग के बाद) देखना तक नहीं चाहते थे, लेकिन उनकी सुंदरता यह थी कि अगली सुबह जब हम मिलते तो सब ठीक हो जाता। वे स्वीकार करते कि जो बात हमने की, उसका मतलब था।' उन्होंने कहा, 'मैं मैनेजमेंट का छात्र रहा हूं और मैनेज करना जानता हूं। लोग चाहते हैं कि मैं किसी को सार्वजनिक रूप से दोष दूं? मुझे ऐसा क्यों करना चाहिए, क्योंकि यह मेरा परिवार है? मैं अपने परिवार में घर पर भी किसी निर्णय को पसंद या नापसंद कर सकता हूं लेकिन क्या मैं बाहर आकर सार्वजनिक रूप से कुछ कह सकता हूं?'

'कौन जानता है हमने कितने मुद्दों पर राजी किया'

पूर्व भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ने आगे कहा, 'विराट और रवि आपको इसके बारे में (कैसे हम तीखी बहस करते थे) बताएंगे। अगर सार्वजनिक रूप से हमारे बीच मतभेद नहीं थे, इसका यह मतलब नहीं है कि हम उनके आगे झुक रहे थे। कौन जानता है कि हमने उन्हें कितने सारे मुद्दों पर राजी किया है?' प्रसाद ने साथ ही भारतीय टीम के आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल खेलने पर भी खुशी का इजहार किया। उन्होंने कहा कि टीम इसकी हकदार थी और मैं फाइनल को लेकर बहुत बेसब्री से इंतजार कर रहा है। बता दें कि भारत और न्यूजीलैंड के बीच फाइनल 18 जून से इंग्लैंड के साउथैम्पटन में खेला जाएगा। 

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर