भारतीय क्रिकेटर पर लगा चोरी का आरोप, ऑलराउंडर ने अपनी सफाई में जानिए क्‍या कहा

Parvez Rasool accused of stealing pitch roller: भारतीय क्रिकेटर परवेज रसूल पर पिच रोलर चुराने का आरोप है, जो कि जम्‍मू एंड कश्‍मीर क्रिकेट संघ का है। रसूल ने अपने ऊपर लगे आरोप का जवाब दिया है।

parvez rasool
परवेज रसूल  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • परवेज रसूल जम्‍मू एंड कश्‍मीर के सबसे मशहूर क्रिकेटर्स में से एक हैं
  • ऑलराउंडर पर जकेसीए के पिच रोलर का आरोप है
  • क्रिकेटर ने इन आरोपों पर प्रतिक्रिया दी और आरोपों को दुर्भाग्‍यवश करार दिया

जम्‍मू: यह घटना पहले कभी नहीं सुनी होगी। जम्‍मू एंड कश्‍मीर क्रिकेट एसोसिएशन (जेकेसीए) ने भारतीय क्रिकेटर परवेज रसूल पर पिच रोलर चोरी करने का आरोप लगाया है। जेकेसीए ने ऑलराउंडर को एक नोटिस जारी करते हुए मशीन लौटाने को कहा है। क्रिकेटर ने राज्‍य ईकाई द्वारा लगाए आरोप पर जवाब दिया और इसे दुर्भाग्‍यवश करार दिया। जम्‍मू एंड कश्‍मीर क्रिकेट के अनुभवी परवेज रसूल अपने क्षेत्र के सबसे मशहूर क्रिकेटर्स में से एक हैं।

रसूल अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर के खिलाड़ी हैं, जिन्‍होंने 1 वनडे और 1 टी20 इंटरनेशनल मैच के लिए भारत का प्रतिनिधित्‍व किया। आरोपों को देखते हुए रसूल की इज्‍जत खतरे में है। जेकेसीए ने खिलाड़ी को मशीन लौटाने को कहा और अगर ऐसा नहीं हुआ तो क्रिकेट ईकाई पुलिस की मदद लेगी व मौजूदा रिश्‍ते को बिगाड़ेगी।

इंडियन एक्‍सप्रेस के मुताबिक आरोपों का जवाब देते हुए रसूल ने कहा, 'क्‍या अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेटर के साथ बर्ताव करने का यह तरीका है, जिसने जम्‍मू-कश्‍मीर क्रिकेट को अपनी जिंदगी और आत्‍मा दी हो।' भाजपा प्रवक्‍ता ब्रिगेडियर (रिटायर्ड) अनिल गुप्‍ता ने जेकेसीए से ई-मेल भेजकर पूछा, 'क्‍या उन्‍हें नीचा दिखाने के लिए कोई सबूत है।' अन्‍य प्रशासकों के साथ रसूल को भी इस ई-मेल पर रखा गया था।

जेकेसीए पर आखिर क्‍यों भड़के परवेज रसूल

गुप्‍ताह ने सलाह दी कि मामले को बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया गया। उन्‍होंने सफाई दी कि मेल सभी जिला एसोसिएशन को भेजा गया है। रसूल का नाम अनंतनाग जिला में दर्ज है तो उन्‍हें भी मेल भेजा गया। गुप्‍ता ने इंडियन एक्‍सप्रेस से बातचीत में कहा, 'हमने सिर्फ परवेज रसूल ही नहीं बल्कि सभी जिला संघों और जो भी श्रीनगर में जेकेसीए मशीन लेते हैं, उन सभी को मेल भेजा है। मशीन जिला संघों को बिना किसी वाउचर के वितरित की जाती है। कई जिलों में हमारे पास मेल का एड्रेस नहीं है, तो संबंधित व्‍यक्ति को पत्र भेज दिया गया है, जिसका नाम दर्ज है। रसूल ने आपत्ति दर्ज कराई कि मेल उन्‍हें क्‍यों लिखा गया।'

गुप्‍ता के मुताबिक पुलिस धमकी दूसरी ई-मेल में में दी गई क्‍योंकि कुछ जिले मानते हैं कि वह किसी भी चीज में दूर भाग सकते हैं और उनको कुछ नहीं होगा।

रसूल ने लिखा ये जवाब

रसूल ने 26 जुलाई को अपना जवाब लिखा था, 'आपको जानकारी देना चाहता हूं कि मैं परवेज रसूल अपने देश का प्रतिनिधित्‍व करने वाला जम्‍मू-कश्‍मीर का पहला अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेटर और आईपीएल, दिलीप, देवधर ट्रॉफी, भारत ए, बोर्ड प्रेसीडेंट XI, ईरानी ट्रॉफी खेल चुका हूं। पिछले छह सालों से मैंने जम्‍मू-कश्‍मीर टीम का नेतृत्‍व किया और जम्‍मू-कश्‍मीर का मैं एकमात्र क्रिकेटर हूं, जिसे बीसीसीआई से दो बार सर्वश्रेष्‍ठ ऑलराउंडर अवॉर्ड मिला। आज मुझे एक पत्र मिला, जिसमें कहा गया कि मैंने जेकेसीए से रोलर लिया है, जो कि वाकई दुर्भाग्‍यवश है। मैं सफाई दे दूं कि मैंने जेकेसीए से कोई रोलर या मशीन नहीं ली है। मैं भी एक खिलाड़ी हूं, जो क्रिकेट खेलता है। मैं बस यह पूछना चाहता हूं कि अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेटर से इस तरह का बर्ताव सही है, जिसने अपनी जिंदगी और आत्‍मा जम्‍मू-कश्‍मीर को दी हो। आपके पास सभी जिलों में मान्‍यता प्राप्‍त ईकाई है। आप जेकेसीए उपकरण के बारे में उनसे कुछ पूछना चाहिए न कि मुझसे।'

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर