ENG vs WI: 'विकेटों का छक्का' जड़ने के बाद होल्डर ने इंग्लैंड को दी चेतावनी, कहा-'एक सपना हुआ पूरा-दूसरा बाकी'

Jason Holder warns England after taking fifer: वेस्टइंडीज के कप्तान जेसन होल्डर ने पहले टेस्ट की पहली पारी में 6 विकेट लेने के बाद इंग्लैंड को चेतावनी दी है।

Jason Holder
Jason Holder  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • जेसन होल्डर ने साउथैम्पटन टेस्ट की पहली पारी में 42 रन देकर लिए 6 विकेट
  • उनकी शानदार गेंदबाजी की बदौलत इंग्लैंड हुई 204 रन पर ढेर
  • होल्डर ने अब दी है इंग्लिश टीम को चेतावनी और बताया है क्या है उनका अगला लक्ष्य

साउथैम्पटन: वेस्टइंडीज की टेस्ट टीम के कप्तान जेसन होल्डर ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट की पहली पारी में धमाकेदार गेंदबाजी करते हुए विकेटों का छक्का जड़ा। होल्डर और शेनन गैबरियल ने मिलकर इंग्लिश टीम की पारी की 204 रन पर समेट दिया। उन्होंने 42 रन खर्च करके 6 विकेट लिए। उन्होंने 20 ओवर गेंदबाजी की और जैक क्रॉले, बेन स्टोक्स, ओली पोप, जोस बटलर, जोफ्रा आर्चर और मार्क वुड के विकेट चटकाए। 

इस शानदार प्रदर्शन के बाद कैरेबियाई कप्तान जेसन होल्डर ने कहा कि वो पारी में पांच विकेट लेने के बाद अब शतक जड़ना चाहते हैं ताकि उनकी टीम 32 साल बाद इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज जड़ सके। वेस्टइंडीज ने साल 1988 में आखिरी बार इंग्लैंड की सरजमीं पर टेस्ट सीरीज अपने नाम की थी।  होल्डर ने कहा, मैं पिछली बार इंग्लैंड दौरे पर पांच विकेट नहीं चटका सका था। तब मैं लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान के ऑनर्स बोर्ड में अपना नाम दर्ज कराना चाहता था।' कैरेबियाई कप्तान ने आगे कहा, मैं हमेशा से इंग्लैंड के खिलाफ इंग्लैंड में पांच विकेट लेने का साथ-साथ शतक जड़ना चाहता हूं। ऐसे में मैंने एक काम पूरा कर लिया है और अब केवल शतक जड़ना बाकी है। 

स्टोक्स का विकेट था अहम 
होल्डर ने विरोधी कप्तान बेन स्टोक्स के विकेट को सबसे अहम बताया। स्टोक्स ने उपकप्तान जोस बटलर के साथ छठे विकेट के लिए 67 रन की साझेदारी की थी। इस साझेदारी को होल्डर ने तोड़ा था। स्टोक्स होल्डर की गेंद पर विकेटकीपर डाउरिच के हाथों लपके गए थे। जब स्टोक्स आउट हुए उस वक्त टीम की स्कोर 154 रन था। स्टोक्स के विकेट के बारे में होल्डर ने कहा, इन खिलाड़ियों ने विकेट के दोनों तरफ रन बनाना शुरू कर दिया था और हम उस दौरान अनुशासित नहीं थे। मैं चाहता था कि हमारे खिलाड़ी अनुशासन में लौटे।'

अगली खबर