क्या महामारी बनने से काफी पहले ही कदम जमा चुका था कोरोना? क्रिकेटर ने किया खुद से जुड़ा एक खुलासा

Jack Leach on his suspected Corona experience : इंग्लैंड के धुरंधर स्पिनर और निचले क्रम में बल्ले से धूम मचा चुके जैक लीच ने बताया है कि उन्हें काफी पहले कोरोना जैसे लक्षण नजर आए थे।

Jack Leach
Jack Leach, जैक लीच  |  तस्वीर साभार: IANS

मुख्य बातें

  • इंग्लिश क्रिकेटर जैक लीच का खुलासा
  • इंग्लैंड के दक्षिण अफ्रीका दौरे के समय दिखे थे कोरोना के लक्षण
  • 14 साल की उम्र से क्रोहन बीमारी से पीड़ित जैक लीच

कोरोना वायरस का कहर पूरी दुनिया में है और इसने अधिकतर देशों के लोगों को खौफ में रखा हुआ है। पिछले साल के अंत में चीन से पनपे इस वायरस ने महामारी का रूप लिया और कुछ ही महीनों में इसने पूरे विश्व को अपनी चपेट में ले लिया। खेल जगत पर भी इसका गहरा प्रभाव पड़ा है, जहां ना सिर्फ खेल गतिविधियां ठप्प हुईं बल्कि कई खेलों के खिलाड़ी भी संक्रमित हो गए। वहींं, इंग्लैंड के स्पिनर जैक लीच (Jack Leach) ने अब स्वीकार किया है कि उनमें कोरोना वायरस (Coronavirus) जैसे लक्षण तब ही नजर आ गए थे जब दिसंबर से जनवरी के बीच इंग्लिश टीम दक्षिण अफ्रीका दौरे पर थी। उस समय तक कोरोना ने विश्व भर में महामारी का रूप नहीं लिया था, तो क्या कोरोना काफी पहले ही देशों में कदम जमा चुका था?

पिछली एशेज सीरीज में अपनी बल्लेबाजी से प्रभावित कर चुके स्पिनर जैक लीच ने माना है कि इंग्लैंड क्रिकेट टीम के साउथ अफ्रीका टूर के दौरान उनमें कोरोनावायरस जैसे लक्षण दिखे थे। गौरतलब है कि ये खिलाड़ी दिसंबर और जनवरी में दक्षिण अफ्रीका दौरे पर चार मैचों की टेस्ट सीरीज का हिस्सा थे। लेकिन तीसरे टेस्ट मैच से पहले ही उन्हें स्वदेश लौटना पड़ा था क्योंकि वह सेपसिस से जूझ रहे थे।

अब हमें कभी पता नहीं चलेगा

दिसंबर और जनवरी तक कोविड-19 का प्रकोप पूरे विश्व में नहीं दिखा था लेकिन जैसा जैक लीच बता रहे हैं, उससे ये संकेत मिलते हैं कि बेशक सरकारों को पता ना चला हो लेकर ये वायरस चुपचाप लोगों के बीच जगह बना चुका था। स्काई स्पोटर्स ने लीच के हवाले से कहा, 'दक्षिण अफ्रीका दौरे के दौरान उनमें जो लक्षण दिखे थे वो कोविड-19 की तरह थे। अब हमें कभी पता नहीं चलेगा, अगर दक्षिण अफ्रीका में जो लक्षण दिखे थे वे अब दिखते तो मैं निश्चित तौर पर कह सकता था कि ये कोरोना वायरस है। लेकिन अब मैं स्वस्थ और फिट महसूस कर रहा हूं।'

14 की उम्र से क्रोहन बीमारी से पीड़ित

इंग्लैंड के इस 29 वर्षीय खिलाड़ी ने बताया कि वो 14 साल की उम्र से ही क्रोहन बीमारी से पीड़ित हैं और इसके लिए वो दवाई भी लेते हैं। लीच ने कहा, 'जिस दवा पर मैं हूं वो मुझे थोड़ा ज्यादा जोखिम में डालती है, लेकिन सर्दियों में मैं जिन चीजों से गुजरा उससे साफ है कि मैं इन चीजों को अच्छी तरह से लड़ सकता हूं। लेकिन इस दवा से मुझे दूसरों के मुकाबले कम खतरा है। मेरा क्रोहन नियंत्रण में है, जो मेरे लिए बहुत अच्छा है। मैं भाग्यशाली हूं कि मेरी क्रोन की बीमारी अब ठीक है। अब मैं स्वस्थ और फिट महसूस कर रहा हूं।'

अब वेस्टइंडीज और पाकिस्तान के खिलाफ परीक्षा

बेशक उस समय जैक लीच के कोरोना वायरस का टेस्ट नहीं हुआ था लेकिन आने वाले दिनों में सुरक्षा को नजर में रखते हुए उनके टेस्ट जरूर होंगे। क्योंकि इंग्लिश टीम पहले वेस्टइंडीज और फिर पाकिस्तान की मेजबानी करने जा रही है। जैक लीच आठ जुलाई से वेस्टइंडीज के खिलाफ शुरू हो रही तीन मैचों टेस्ट की सीरीज के लिए इंग्लैंड की 30 सदस्यीय टीम का हिस्सा हैं। ये सीरीज जैविक सुरक्षित माहौल में खेली जाएगी क्योंकि कोविड-19 के महामारी बनने के बाद ये पहली अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट सीरीज है और इसे कई सख्त नियमों के अंतर्गत खेला जाना है।

अगली खबर