यूएई चला आईपीएल 2020, गवर्निंग काउंसिल मीटिंग में हुए ये 9 बड़े फैसले 

IPL Governing Council Meeting: इंडियन प्रीमियर लीग गवर्निंग काउंसिल की हुई बैठक में कोरोना संकट के बीच यूएई में आईपीएल के आयोजन पर मुहर लग गई। आईए जानें कौन से निर्णय हुए बैठक में।

IPL 2020
आईपीएल 2020( साभार BCCI) 

मुख्य बातें

  • भारत सरकार ने दी आईपीएल 2020 के यूएई में आयोजन की अनुमति
  • 19 सितंबर होगा आगाज और 10 नवंबर को खेला जाएगा फाइनल मुकाबला
  • टूर्नामेंट के कार्यक्रम के साथ साथ हुआ मैच की टाइमिंग में बदलाव

नई दिल्ली: आईपीएल गवर्निंग काउंसिल ने रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई बैठक में यूएई में आईपीएल 2020 के आयोजन पर मुहर लगा दी है। इसके कार्यक्रम में आंशिक तौर पर बदलाव किया गया है। बीसीसीआई बैठक के बाद प्रेस रिलीज जारी करके सूचना दी कि आईपीएल का यूएई में 19 सितंबर से 10 नवंबर तक होगा। 

बीसीसीआई ने प्रेस रिलीज जारी करके कहा, 'गवर्निंग काउंसिल की बैठक में भारत में कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति को देखते हुए आईपीएल का आयोजन यूएई में करने का फैसला किया गया है। भारत सरकार से अनुमति मिलने के बाद टूर्नामेंट के मैच दुबई, शारजाह और अबु धाबी में खेले जाएंगे।' टूर्नामेंट 53 दिन लंबा होगा। इस दौरान 10 मैच दोपहर में खेले जाएंगे। दोपहर के मैच भारतीय समयानुसार 3.30 बजे से और रात के मैच शाम 7.30 बजे से खेले जाएंगे। आइए जानते हैं आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की बैठक में हुए कौन से अहम फैसले।
 
भारत सरकार से आयोजन की अनुमति: बीसीसीआई को आईपीएल 13 के यूएई में आयोजन के लिए खेल मंत्रालय से अनुमति मिल गई है। अन्य संबंधित विभागों और मंत्रालयों से अनुमति भी अगले सप्ताह मिल जाएगी। 

टाइटल स्पॉन्सरशिप पर फैसला: आईपीएल गवर्निग काउंसिल की बैठक में फैसला किया है कि लीग की टाइटल स्पॉन्सर वीवो ही रहेगा। भारत और चीन के बीच चल रहे विवाद और देश में चीनी उत्पादों के बहिष्कार की मुहिम के बीच यह फैसला बीसीसीआई ने कानूनी टीम से सलाह के बाद और प्रायोजक करार को ध्यान में रखकर किया है। वीवो आईपीएल को टाइटल प्रायोजन के लिये 440 करोड़ रुपये देता है।  

टूर्नामेंट का कार्यक्रम: बीसीसीआई ने आईपीएल गवर्निग काउंसिल की बैठक में लीग के 13वें सीजन का आयोजन 19 सितंबर से 10 नवंबर को कराने का फैसला किया है जिसमें 10 डबल हेडर यानी दिन में दो मैच शामिल हैं और शाम के मैचों की शुरुआत 7:30 बजे (भारतीय समयानुसार) से होगी। दोपहर में खेले जाने वाले मैच दोपहर 3.30 बजे से खेले जाएंगे।  सख्त प्रोटोकॉल्स, यातायात, बायो सिक्योर वातावरण को देखते हुए मैचों के बीच में अच्छा अंतर हो यह सुनिश्चित करने के लिए 10 डबल हेडर मुकाबले प्लान किए गए हैं।

आधे घंटे पहले खेले जाएंगे मैच: भारत में आईपीएल के मैच दोपहर 4 बजे और रात में 8 बजे से खेले जाते थे लेकिन यूएई में मैच 30 मिनट पहले मैच शुरू कराने का फैसला किया है। रात आठ के बजाए मैच शाम 7:30 बजे से शुरू होंगे।

स्टेडियम में दर्शक:  स्टेडियम में दर्शकों के आने की अनुमति देने के बारे में बैठक में चर्चा हुई। इस बात पर अंतिम फैसला अमीरात क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) से चर्चा के बाद किया जाएगा। टूर्नामेंट की शुरुआत में दर्शकों को स्टेडियम में आने की अनुमति नहीं होगी लेकिन बीच के चरण में सीमित संख्या में दर्शकों को स्टेडियम में आने की अनुमति दी जा सकती है। 

मानक परिचालन प्रक्रिया (एसओपी): मानक संचालन प्रक्रिया के बारे में बैठक के दौरान विस्तार से चर्चा हुई। एसओपी कुछ समय बाद विस्तार से चर्चा के बाद तय किए जाएंगे और उसके बाद जारी किए जाएंगे। 

कोविड19 रिप्लेसमेंट: गवर्निंग काउंसिल की बैठक में कोविड19 के कारण टीम से बाहर होने वाले खिलाड़ी की जगह अन्य खिलाड़ी को टीम में शामिल करने पर सहमति बन गई है। इसके लिए गवर्निंग काउंसिल ने प्लेयर्स रेगुलेशन फॉर रिपलेस्मेंट मे तब्दीली की है। 

24 खिलाड़ियों का होगा दल: आईपीएल के आयोजन के लिए सभी टीमों को 24-24 खिलाड़ियों का दल रखने की अनुमति होगी। इस दौरान सभी विदेशी और भारतीय खिलाड़ी चार्टेड प्लेन से सफर करेंगे।  

महिला आईपीएल का होगा आयोजन: महिला आईपीएल के आयोजन पर मुहर गवर्निंग काउंसिल की बैठक में लगी है। इसमें टीम टीमें शामिल होंगी और चार मैच प्लेऑफ वीक के दौरान खेले जाएंगे। 

अगली खबर