मार्नस लाबुशेन ने कहा, शानदार है भारतीय पेस अटैक, बुमराह से पार पाना नहीं होगा आसान

Marnus Labuschagne on upcoming test series against India: ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के नए स्टार मार्नस लाबुशेन को दिसंबर में भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज का बेसब्री से इंतजार है।

Marnus Labuschagne
मार्नस लाबुशेन  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • मार्नस लाबुशेन को भारत के खिलाफ घरेलू सरजमीं पर खेली जाने वाली टेस्ट सीरीज का बेसब्री से है इंतजार
  • करियर के पहले सीजन में खेले 14 टेस्ट में बनाए लगभग 63 के औसत से रन
  • लाबुशेव दुनिया के बेस्ट के खिलाफ करना चाहते हैं अपना टेस्ट

सिडनी: कोरोना के कहर के बीच ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों को भरोसा है कि भारतीय टीम दिसंबर में चार टेस्ट मैच की सीरीज खेलने जरूर आएगी। ऐसे में ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी इस सीरीज के लिए अभी से ही तैयारी में जुट गए हैं। ऑस्ट्रेलिया के नए क्रिकेट स्टार मार्नस लाबुशेन को भी भारत के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज का बेसब्री से इंतजार है। हालांकि उन्हें इस बात का भरोसा भी है कि वो भारत के विश्व स्तरीय गेंदबाजी आक्रमण से एक कदम आगे रहेंगे। लेकिन उन्हें इसका अच्छी तरह इल्म है कि जसप्रीत बुमराह को पार पाना उनके लिए आसान नहीं होगा। 

मार्नस लाबुशेन को भारत के पिछले ऑस्ट्रेलिया दौरे पर सिडनी टेस्ट में खेलने का मौका मिला था लेकिन ड्रॉ रहे उस मैच में लाबुशेन 38 रन बनाकर मोहम्मद शमी का शिकार बने थे। ऑस्ट्रेलिया के इस उभरते सितारे को मालूम है कि भारत के खिलाफ आगामी सीरीज उनके करियर में बेहद अहम साबित होगी।

भारत का पेस अटैक शानदार, लेकिन मुश्किल होगा बुमराह से पार पाना 
एक तरह से कहा जाए तो भारत के खिलाफ चार टेस्ट मैच की सीरीज उनके लिए लिटमस टेस्ट होगी। सीरीज में भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण की तारीफ करते हुए 26 वर्षीय लाबुशेन ने कहा, उनके सभी तेज गेंदबाज अच्छे हैं लेकिन जसप्रीत बुमराह से पार पाना मुश्किल होगा। उनके अंदर लगातार 140 किमी की रफ्तार से गेंदबाजी करने और गेंद को अनुकूल परिस्थितियों में स्विंग कराने की क्षमता है। वो शानदार यॉर्कर फेंकने में माहिर हैं। आप हमेशा खुद को दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के सामने आंकना चाहते हैं। जसप्रीत के हाथ में गेंदबाजी आक्रमण की कमान है।'



इशांत शर्मा भी पेश करेंगे चुनौती
अब तक करियर में खेले 14 टेस्ट मैच में 63 की औसत से रन बनाने वाले युवा कंगारू खिलाड़ी ने इशांत शर्मा की तारीफ करते हुए कहा कि पिछले एक दो साल में वो भी शानदार रहे हैं। उन्होंने कहा, पिछले कुछ साल में इशांत शर्मा ने भी अच्छा प्रदर्शन किया है। वो यहां दांए हाथ के बल्लेबाज के लिए एंगल बनाकर गेंद को अंदर की ओर लाते हैं। ये हमारे लिए अच्छी चुनौती होगी। 

पहले सीजन से बेहतर होगा नया सीजन
लाबुशेन के लिए करियर का पहला सीजन शानदार रहा था। किसी भी खिलाड़ी के लिए दूसरा सीजन ज्यादा अहम होता है क्योंकि विरोधी टीमो को उसके खेल के मजबूत पक्ष और कमजोरियों की बेहतर जानकारी होती है। लाबुशेन इस बात को अच्छी तरह समझ रहे हैं और नए सीजन के लिए ज्यादा कड़ी मेहनत कर रहे हैं। उन्होंने इस बारे में कहा, पहला सीजन मेरे लिए बेहद शानदार रहा था। आशा करता हूं कि आने वाला सीजन उससे भी बेहतर होगा। भारत जैसी टीम जिसके पास बेहतरीन गेंदबाजी आक्रमण है उसके खिलाफ अच्छे प्रदर्शन की चुनौती है।'

अगली खबर