'वो मुझे बच्चे की तरह संभालते थे': हार्दिक पांड्या ने इस विदेशी क्रिकेटर को बताया पिता जैसा

Hardik Pandya on his 'father like coach': भारतीय ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या ने अपने करियर के शुरुआती दिनों को याद करते हुए बताया कि आखिर किस विदेशी खिलाड़ी का उनके करियर में अहम योगदान रहा।

Hardik Pandya
Hardik Pandya, हार्दिक पांड्या  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • हार्दिक पांड्या ने अपने करियर के शुरुआती दिनों को याद किया
  • पांड्या ने बताया कि किस विदेशी खिलाड़ी ने उनको बच्चे की तरह संभाला
  • आईपीएल में मुंबई इंडियंस के साथ शुरुआत से रहे ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या

मुंबईः भारतीय ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या का करियर काफी उतार-चढ़ाव भरा जरूर रहा है लेकिन वो सभी मुश्किलों से निकलने में सफल भी रहे। उन्होंने आईपीएल में हमेशा एक ही टीम का साथ पकड़े रखा और इंडियन प्रीमियर लीग के अनुभव और मुंबई इंडियंस के साथ सफर में सबसे ज्यादा सीखा। पांड्या ने क्रिकबज पर बातचीत के दौरान ये भी खुलासा किया कि करियर के शुरुआती दिनों में एक विदेशी दिग्गज था जिसने उनको बच्चे की तरह संभाला था और उनके करियर में उस दिग्गज का बड़ा योगदान रहा। ये दिग्गज और कोई नहीं बल्कि पूर्व महान ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग थे।

हार्दिक पांड्या ने इस चर्चा के दौरान मुंबई इंडियंस के शुरुआती दिनों का जिक्र किया जिस दौरान वो काफी भावुक रहे। उन्होंने अपने उस सफर के एक खास किरदार का जिक्र करते हुए पूर्व महान ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग का जिक्र किया और बताया कि कैसे पंटर की मौजूदगी ने उनको बेहतर बनाया और उनके करियर को उड़ान देने में अहम योगदान दिया।

वो मुझे बच्चे की तरह संभालते थे..

हार्दिक पांड्या 2015 में मुंबई इंडियंस में आए थे। उस दौरान पोंटिंग की मौजूदगी ने उन काफी प्रभाव डाला और इस अहम योगादान का जिक्र करने से पांड्या नहीं चूकते।हार्दिक ने कहा, 'पोंटिग ऐसे खिलाड़ी थे जिन्होंने मेरा सबसे अच्छा ख्याल रखा था। वो मुझे बच्चे की तरह संभालते थे। मुझे लगता था कि वो मेरे पिता समान हैं। उन्होंने मुझे काफी सारी चीजें बताईं, उन्होंने मुझे स्थिति के बारे में बताया। उन्होंने मुझे मानसिकता के बारे में बताया, कि आप कितने मजबूत हो सकते हो।'

मैं होर्डिंग्स के पास बैठा करता था और..

पांड्या ने बताया कि आईपीएल करियर के शुरुआती दिनों में जब वो खेल नहीं रहे होते थे तब वो बाउंड्री के पार लगे होर्डिंग्स के किनारे बैठा करते थे और रिकी पोंटिंग उनसे वहां भी बात करने आते थे और काफी कुछ सिखाते थे। पांड्या ने कहा, 'मैं होर्डिंग्स के पास बैठा करता था। पोंटिंग मेरे पास बैठा करते थे और बात किया करते थे। इन सभी बातों से मैंने काफी कुछ सीखा।'

जस्सी अलग किस्म का इंसान है, उनके साथ रहना पसंद

हार्दिक पांड्या ने इस चर्चा के दौरान अपनी टीम के साथी जसप्रीत बुमराह के बारे में भी बात की और बताया कि वो अकेला रहन पसंद करते हैं। ये दोनों खिलाड़ी भारतीय टीम में भी एक साथ खेलते हैं। पांड्या ने कहा, 'जस्सी (बुमराह) अलग तरह के इंसान हैं। वो शांत रहते हैं और उन्हें अकेले रहना पसंद है। अगर उन्हें किसी से बात करनी है तो वो बात शुरू करेंगे। अगर मैं कोशिश भी करूं तो मैं उनके जैसा नहीं बना सकता। वो काफी जानकारी रखते हैं। अच्छे से बात करते हैं। बोलने से पहले 20 बार सोचते हैं, लेकिन वो ऐसे खिलाड़ी हैं जिनके साथ रहना मुझे पसंद है।' गौरतलब है कि हार्दिक पांड्या इन दिनों अपनी पार्टनर नताशा के साथ समय बिता रहे हैं और दुनिया में मौजूदा हालात सुधरने के बाद वो एक बार फिर क्रिकेट के मैदान पर धमाल मचाने के लिए तैयार होंगे।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर