सैम कुरेन ने कहा, इंग्लैंड को जीत के लिए सस्ते में समेटनी होगी वेस्टइंडीज की पारी

WIvENG: मैनचेस्टर टेस्ट में तीसरे दिन का खेल बारिश की भेंट चढ़ जाने के बाद ऑलराउंडर सैम कुरेन ने कहा है कि इंग्लैंड को इस मैच में जीत हासिल करने के लिए वेस्टइंडीज की पहली पारी सस्ते में समेटकर फॉलोऑन देना होगा।

Sam Curran John Campbell
सैम कुरेन और जॉन कैंपबेल  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • मैनचेस्टर टेस्ट का तीसरा दिन चढ़ा बारिश की भेंट, एक भी गेंद नहीं डाली जा सकी
  • इंग्लैंड की टीम ने पहले पारी में बनाए 9 विकेट पर 469 और विंडीज ने बना लिए हैं जवाब में 1 विकेट पर 32 रन
  • जीत के लिए इंग्लैंड के पास है पहली पारी में वेस्टइंडीज को सस्ते में समेटकर फॉलोऑन देने का विकल्प

मैनचेस्टर: इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच तीन मैनचेस्टर में खेले जा रहे सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच का तीसरा दिन बारिश की भेंट चढ़ गया। तीसरे दिन एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी और अंपायर्स ने दूसरे सत्र के बाद दिन के खेल के समाप्ति की घोषणा कर दी।  अपनी पहली पारी 9 विकेट पर 469 रन पर घोषित करने वाली मेजबान इंग्लैंड की टीम ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक विंडीज की टीम को 32 रन पर 1 विकेट पर ला पटका था। फिलहाल उसके पास 437 रन की बढ़त है। सीरीज में पहले ही 0-1 से पिछड़ रही इंग्लैंड की टीम को अंतिम दो दिन बेहद आक्रामक क्रिकेट खेलनी होगी। 

सस्ते में समेटनी होगी पहली पारी, देना होगा फॉलोऑन 
ऐसे में दूसरे टेस्ट के लिए टीम में शामिल किए गए 22 वर्षीय ऑलराउंडर सैम कुरेन ने बताया है कि उनकी टीम को इस मैच के अपने नाम करने के लिए क्या करना होगा। कुरेन के अनुसार उनकी टीम को कैरेबियाई टीम को पहली पारी में सस्ते में समेटकर फॉलो ऑन देना होगा। ऐसा होने पर ही टीम की जीत की संभावना प्रबल होगी।

गेंदबाजों पर बढ़ेगा बोझ  
कुरेन ने तीसरे दिन के बारिश के दौरान कहा, यदि आज का खेल बारिश में धुल गया तो हमें आगे जीत के लिए क्या करना होगा इस बारे में सोचना पड़ेगा। निश्चित तौर पर हमें उन्हें पहली पारी में सस्ते में समेटकर उन्हें फॉलोऑन देना होगा। हम ऐसा नहीं कर सकते हैं फिलहाल इसका कोई कारण नहीं है।' उन्होंने आगे कहा, निश्चित तौर ऐसा होने पर गेंदबाजों के ऊपर भार बढ़ेगा। लेकिन हम सभी फिट और फ्रेश हैं इसलिए आशा कर रहे हैं कि टीम के लिए कुछ कर सकें।'

गेंदबाजों के लिए रोटेशन पॉलिसी है लागू 
कुरेन को साउथैम्पट में पहले टेस्ट मैच में इंग्लैंड की हार के बाद टीम में शामिल किया गया है। इस मैच के लिए इंग्लैंड ने जेम्स एंडरसन और मार्क वुड को आराम देने का फैसला किया। वहीं बायो सिक्योर प्रोटोकॉल तोड़ने के कारण जोफ्रा आर्चर को मैच से बाहर कर दिया गया। ऐसे में कुरने को एकादश में आसानी से जगह मिल गई। 

इंग्लैंड की टीम को सात सप्ताह के अंतराल में 6 टेस्ट मैच खेलने हैं। वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन टेस्ट मैच की सीरीज के बाद पाकिस्तान के खिलाफ उसे तीन टेस्ट खेलने हैं। इसलिए खिलाड़ियों को आराम देने के लिए रोटेशन पॉलिसी अपनाई गई है। ऐसे में कुरेन ने कहा, पूरे सीजन को देखते हुए हमने रोटेशन पॉलिसी अपनाने का फैसला किया है। इसी वजह से इस मैच में गेंदबाजी आक्रमण पूरी तरह बदल गया। 

बारिश के कारण पहले दिन भी कुछ ओवर नहीं फेंके जा सके थे। ऐसे में अगर ये मैच बारिश के कारण बराबरी पर समाप्त हो जाता है तो इंग्लैंड के सामने सीरीज बचाने की चुनौती आ खड़ी होगी। उसके सामने इसी मैदान पर खेले जाने वाले तीसरे और आखिरी टेस्ट मैच में करो या मरो की स्थिति उत्पन्न हो जाएगी। दूसरे टेस्ट मैच के ड्रॉ होते ही विजडन ट्रॉफी पर वेस्टइंडीज की टीम का कब्जा बरकरार रह जाएगा। इसलिए किसी भी सूरत में इंग्लैंड इस मैच को नहीं गंवाना चाहेगी। 


 

अगली खबर