जोफ्रा आर्चर को महंगा पड़ा प्रोटोकॉल का उल्लंघन, दूसरे टेस्ट से बाहर होने के बाद लगा जुर्माना 

Jofra Archer a fined for bio-security breach: इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर के लिए जैव सुरक्षित प्रोटोकॉल का उल्लंघन करना मंहगा पड़ गया है। दूसरे टेस्ट से बाहर होने के बाद उनपर जुर्माना लगाया गया है।

Jofra Archer
Jofra Archer 

मुख्य बातें

  • शुक्रवार को जोफ्रा आर्चर द्वारा जैव सुरक्षित प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने के मामले में हुई अनुशासनात्मक सुनवाई
  • ईसीबी के एमडी एश्ले जाइल्स ने की सुनवाई की अध्यक्षता और किया गया उनके ऊपर जुर्माना करने का फैसला
  • तीसरे टेस्ट मैच के लिए उपलब्ध होंगे जोफ्रा आर्चर, ईसीबी ने किया ऐलान

मैनचेस्टर: इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की बहाली के लिये लगाये गये सख्त पृथकवास प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने के लिये जुर्माना लगाया गया और एक अधिकारिक चेतावनी दी गयी। ईसीबी द्वारा शुक्रवार को इस मामले में अनुशासनात्मक सुनवाई की थी। हालांकि इसके बाद अब यह साफ हो गया कि आर्चर तीसरे टेस्ट मैच में खेल सकेंगे।  

इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने शुक्रवार 17 जुलाई की शाम हुअनुशासनात्मक सुनवाई के बाद आर्जर के खिलाफ सजा का ऐलान किया था। सुनवाई करने वाली समिति की अध्यक्षता इंग्लैंड की पुरुषों की टीम के प्रबंध निदेशक एश्ले जाइल्स ने की। इस दौरान आर्चर के एजेंट और प्रोफेशनल क्रिकेटर्स एसोसिएशन के प्रतिनिधि भी मौजूद थे। 

वेस्टइंडीज के बारबाडोस में जन्में आर्चर ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट के बाद 13 जुलाई को होव में अपने घर जाकर जैव सुरक्षित प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया था। इसके बाद उन्होंने ऐसा करने के लिये माफी मांगी थी। हालांकि प्रोटोकॉल उल्लंघन की घटना के उजागर होते ही गुरूवार को शुरू दूसरे टेस्ट की टीम से  बाहर कर दिया गया था और वह पांच दिन के पृथकवास में हैं। उन्हें दो बार कोविड-19 जांच करानी होंगी और नेगेटिव आने पर ही मंगलवार (21 जुलाई) को वो टीम के बाकी सदस्यों के साथ जुड़ पायेंगे।

अगली खबर