सैम बिलिंग्स ने कहा, अगले टी20 और वनडे विश्वकप में मिलेगा इस बात का फायदा

क्रिकेट
भाषा
Updated Aug 01, 2020 | 19:21 IST

भारत की मेजबानी में साल 2021 और 2013 में खेले जाने वाले टी20 और और वनडे विश्व कप में उन्हें आईपीएल में खेलने के अनुभव का फायदा मिलेगा।

Sam Billings
सैम बिलिंग्स   |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • आयरलैंड ने खिलाफ पहले वनडे में सैम बिलिंग्स ने खेली 67 रन की पारी
  • साल 2021 और 2023 में विश्व कप का भारत में होना है आयोजन
  • आईपीएल में कई टीमें के लिए खेल चुके हैं बिलिंग्स

साउथैम्पटन: सैम बिलिंग्स का मानना है कि इंग्लैंड की वनडे टीम काफी मजबूत है लेकिन कहा कि भारत में आगामी दो विश्व कप में खेलने के लिये इंडियन प्रीमियर लीग के अनुभव से उन्हें काफी फायदा होगा। जो डेनली के पीठ में चोट लगने के बाद टीम में शामिल किये गये बिलिंग्स ने गुरुवार को शुरुआती वनडे में नाबाद 67 रन की पारी खेलकर इंग्लैंड को आयरलैंड पर छह विकेट से जीत दिलायी।

भारत 2021 में टी20 विश्व कप और 2023 में 50 ओवर के विश्व कप की मेजबानी करेगा। बिलिंग्स का मानना है कि उनकी स्पिन को बखूबी खेलने की काबिलियत से वह अच्छी स्थिति में होंगे। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में चेन्नई सुपरकिंग्स और दिल्ली कैपिटल्स के लिये खेल चुके बिलिंग्स ने 'स्काईस्पोर्ट्स' से कहा, 'मुझे लगता है कि यह निश्चित रूप से ऐसी चीज है जिससे मैं अन्य खिलाड़ियों की तुलना में थोड़ा बेहतर हो सकता हूं। स्पिन के खिलाफ मेरे खेल में मुझे विभिन्न फ्रेंचाइजी के अनुभवों से फायदा मिला, विशेषकर आईपीएल में।'

उन्होंने कहा, 'मुझे चेन्नई और दिल्ली में टर्निंग पिचों पर सफलता मिली। मुझे इस पर काम करते रहना होगा। वनडे प्रारूप हो या फिर टेस्ट मैच, उपमहाद्वीप में मुझे लगता है कि मैं अच्छा कर सकता हूं। अगर मुझे मौका मिलता है तो मैं लंबे प्रारूप में अच्छा करना चाहूंगा।'

29 साल के खिलाड़ी ने 16 वनडे और 26 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं। लेकिन 2015 से पदार्पण करने के बाद वह इंग्लैंड की टीम में नियमित नहीं हो पाये हैं लेकिन जब आयरलैंड के खिलाफ अंतिम एकादश में उन्हें शामिल किया गया तो उन्होंने इसका पूरा फायदा उठाया।

अगली खबर