क्विंटन डी कॉक ने किया स्वीकार, टी20 विश्व कप 2020 में वापसी करने वाले थे एबी डिविलियर्स 

AB de Villiers's Return in international Cricket: दक्षिण अफ्रीका के टी20 और वनडे टीम के कप्तान क्विटन डी कॉक ने खुलासा किया है कि टी20 विश्व कप 2020 में एबी डिविलियर्स वापसी करने जा रहे थे।

AB de Villiers Quinton de Kock
एबी डिविलियर्स और क्विटन डी कॉक  

मुख्य बातें

  • टी20 विश्व कप 2020 के लिए संन्यास से वापसी करने जा रहे थे एबी डिविलियर्स
  • उन्हें इसके लिए हर कोई कर रहा था तैयार, फिटनेस पर था सारा दारोमदार
  • साल 2018 में आईपीएल के बाद एबीडी ने अचानक ले लिया था संन्यास

जोहान्सबर्ग: दक्षिण अफ्रीका के सीमित ओवरों की टीम के कप्तान क्विंटन डी कॉक ने स्वीकार किया है कि एबी डिविलियर्स अक्टूबर में ऑस्ट्रेलिया में खेला जाने वाले टी20 विश्व कप में खेलने वाले थे। वो राष्ट्रीय टीम की टूर्नामेंट को लेकर बनाई गई योजनाओं में शामिल थे लेकिन अब टूर्नामेंट को आईसीसी ने कोरोना वायरस के कारण रद्द कर दिया गया है।

साल 2019 के विश्व कप से ठीक पहले खबरें आ रही थीं कि एबी डिविलियर्स संन्यास वापसी कर सकते हैं लेकिन ऐसा हो नहीं सका क्योंकि टूर्नामेंट के लिए टीम का पहले ही चयन किया जा चुका था। ऐसे में क्विंटन डी कॉक ने कहा, एबी डिविसलियर्स निश्चित तौर पर विश्व कप खेलने की दिशा में अग्रसर थे। यदि वो फिट होते तो मैं मुझे उन्हें टीम में शामिल करने में खुशी होती। मुझे लगता है कि एबी जैसे खिलाड़ी को कोई भी टीम अपनी टीम में रखना पसंद करेगी। हम इसके लिए उनपर लगातार दबाब डाल रहे थे लेकिन अब हमें यह देखना है कि विश्व कप कब और कहां होगा।'

डिविलियर्स ने साल 2018 में अचानक से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया था। तकरीबन एक दशक लंबे करियर में उन्होंने द. अफ्रीका के लिए करियर में 114 टेस्ट, 228 वनडे और 78 टी20 मैच खेले। उन्होंने हाल ही में द. अफ्रीका में आयोजित तीन टीमों वाले सॉलिडैरिटी कप में एबी इगल्स टीम की कमान संभाली और शानदार बल्लेबाजी करके अपनी टीम को जीत दिलाई। 

द. अफ्रीका की कप्तानी को लेकर डीकॉक ने कहा, वो सफेद बॉल की क्रिकेट में टीम की कप्तानी करके खुश हैं वो टेस्ट टीम की कमान संभालने को आतुर नहीं हैं।  उन्होंने कहा, ईमानदारी से कहूं तो यही काम बहुत है। विकेटकीपिंग करने के बाद टॉप ऑर्डर में मुझे बल्लेबाजी करनी होती है तीनों फॉर्मेट में कप्तानी करने का अपना भार है। मुझे नहीं लगता कि मैं ऐसा व्यक्ति हूं जो तीनों फॉर्मेट में कप्तानी कर सकता हूं। मैं टी20 और वनडे की कप्तानी करके खुश हूं। 

अगली खबर