Chandigarh: शिमला हेरिटेज ट्रैक पर बड़ा हादसा, लैंडस्लाइड में टॉय ट्रेन पर गिरे पत्थर, अटकी यात्रियों की सांसें

Chandigarh News: वर्ल्ड हेरिटेज कालका-शिमला रेल ट्रैक पर चालक की सूझबूझ से एक बड़ा हादसा टल गया। कालका से शिमला जा रही टॉय ट्रेन के सामने लैंडस्लाइड होने लगा। जिसके बाद चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगा बड़ा हादसा टल दिया। पहाड़ से गिर रहे कई बड़े पत्‍थर ट्रेन के इंजन और बोगी से भी टकराये, लेकिन किसी को कोई नुकसान नहीं हुआ।

Landslide on Kalka Shimla track
ट्रैक पर लैंडस्लाइड में बची टॉय ट्रेन   |  तस्वीर साभार: YouTube
मुख्य बातें
  • कालका से शिमला जा रही थी शिवालिक डीलक्स टॉय ट्रेन
  • कुम्हारहट्टी के पास ट्रैक पर टॉय ट्रेन के सामने हुआ लैंडस्लाइड
  • हादसे में ट्रेन के इंजन-बोगी पर भी गिरे पत्‍थर

Chandigarh News: वर्ल्ड हेरिटेज कालका-शिमला रेल ट्रैक पर टॉय ट्रेन पर सैकड़ों यात्रियों का सुहाना सफर आज त्रासदि में बदलने से बाल-बाल बच गया। सोलन के कुम्हारहट्टी के पास टॉय ट्रेन के गुजरते समय लैंडस्लाइड हो गया। ट्रैक पर सामने लैंडस्लाइड होता देख चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगा दिया, जिससे बड़ा हादसा टल गया है। हालांकि इसके बाद भी ट्रेन के इंजन और बोगियों से कई पत्‍थर टकराये, लेकिन किसी को चोट नहीं आई। कालका से शिमला जा रही टॉय ट्रेन में घटना के समय करीब 100 यात्री सवार थे।

जानकारी के अनुसार कालका से जा रही टॉय ट्रेन जैसे ही कुमारहट्टी के पास पट्टा मोड के नजदीक पहुंची, सामने ट्रैक पर मलबा और पत्‍थर गिरना शुरू हो गया। पहाड़ी से पत्‍थर गिरता देख चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगा दिया। इसके बावजूद ट्रेन खिसकते हुए हादसे वाली जगह तक पहुंच गई और कई पत्थर इंजन व बोगी से टकरा गए, लेकिन कोई नुकसान नहीं हुआ। बाद में क्रेन की मदद से ट्रैक से मलवा हटाया गया और ट्रेन को वापस कालका भेजा गया। वहीं शिमला से कालका की तरफ आ रही ट्रेन को भी कंडाघाट से वापस शिमला भेज दिया गया।

यात्रियों में मचा हड़कंप, ट्रेन छोड़ भागने लगे यात्री

बता दें कि पहाडों में इस समय जबरदस्त बारिश हो रही है। जिसकी वजह से कई जगहों पर लैंडस्लाइड हुआ है। हालांकि इस मानसून सीजन में कालका शिमला रेल ट्रैक पर पहली बार लैंडस्लाइड हुआ और एक बड़ा हादसा होने से बच गया। इस घटना से ट्रेन में सवार यात्रियों में भी हड़कंप मच गया। ट्रेन के अंदर बैठे या‍त्री ट्रेन से उतर कर इधर-उधर भागने लगे। वहीं सूचना मिलने के बाद रेलवे विभाग ने तत्‍काल बचाव टीम को घटना स्‍थल पर रवाना किया। रेलवे अधिकारियों के अनुसार इस शिवालिक डीलक्स टॉय ट्रेन को सुबह 6 बजे कालका से रवाना किया गया। लेकिन सुबह करीब 11:30 बजे जैसे ही यह कुम्हारहट्टी के पास पहुंची हादसा हो गया। घटना के बाद यात्री घंटों ट्रेन में फंसे रहे। बाद में बसों के माध्यम से यात्रियों को गंतव्य तक पहुंचाया गया। ट्रैक पर अभी भी मलबा हटाने का कार्य किया जा रहा है। रेलवे अधिकारियों के अनुसार जल्‍द ही इस ट्रैक पर फिर से ट्रेनें दौड़ने लगेंगी।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर