Chandigarh Crime: बाल सुधार गृह की दोस्‍ती बाहर निकल बनी लूट गैंग, दिन में सोते और रात में करते वारदात

Chandigarh Crime: चंडीगढ़ पुलिस ने शहर में लूट और चोरी करने वाले एक ऐसे गिरोह को पकड़ा है, जिसके सभी सदस्‍य नाबालिग हैं। इन सभी आरोपियों की दोस्‍ती बाल सुधार गृह के अंदर हुई। वहां से बाहर आकर सभी ने गैंग बना लिया और रात के समय लूट व चोरियां करने लगे।

chandigarh police
लूट करने वाले गिरोह का पुलिस ने किया पर्दाफाश   |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • चारों नाबालिग चोरी के अलग-अलग मामलों में गए थे बाल सुधार गृह
  • चारों आरापियों में सजा काटने के दौरान हुई दोस्‍ती और बाहर बना ली गैंग
  • चारों आरोपियों ने कुछ दिन पहले एक ऑटो चालक के साथ की थी लूट

Chandigarh Crime: चंडीगढ़ में पुलिस ने लूट और चोरी करने वाले एक ऐसे गैंग का पर्दाफाश किया है, जिसकी बुनियाद बाल सुधार गृह में पड़ी और बाहर आकर लूट की गैंग तैयार हो गई। इस गैंग के सदस्‍यों ने कुछ ही दिनों में लूट और चोरी की कई वारदात को अंजाम दे दिया। पुलिस ने इस गैंग के सभी चार सदस्‍यों को गिरफ्तार किया है। ये सभी आरोपी नाबालिग हैं और अलग-अलग मामलों में पहले भी बाल सुधार गृह जा चुके हैं।

इन आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने लूट के दो मामलों को भी साल्व किया है। इन चारों नाबालिगों ने हालही में शहर के अंदर एक ऑटो चालक को लूटा था। इस मामले में दड़वा के रहने वाले विनोद कुमार ने सेक्टर-26 थाना पुलिस में शिकायत दी थी। जिसके बाद इस लूट का पता लगाने में जुटी पुलिस इन चारों नाबालिग आरोपियों तक पहुंची और इनसे पूछताछ कर फिर से बाल सुधार गृह भेज दिया है।

चोरी के आरोप में चारों पहले जा चुके थे बाल सुधार गृह

सेक्टर-26 थाना प्रभारी मनिंदर सिंह ने बताया कि ऑटो चालक विनोद कुमार ने बताया था कि कुछ दिन पहले सेक्टर-43 बस स्टैंड से रात करीब तीन बजे चार सवारियां बिठाई थी। इन युवकों ने सेक्टर-26 ग्रेन मार्केट जाने की बात की थी। जब वह सवारी लेकर सेक्टर-26 के पेट्रोल पंप के पास पहुंचा तो ऑटो में सवार एक युवक ने टॉयलेट जाने के बहाने रूकवा लिया। ऑटो रोकते ही ऑटो से सभी सवार नीचे उतर आए और उसके साथ मारपीट शुरू कर दी। इसके बाद सभी युवकों ने उसका मोबाइल फोन समेत हजारों रुपये कैश लूट लिया। पुलिस ने बताया कि इन आरोपियों से पूछताछ में पता चला कि ये चारो आरोपी इससे पहले भी चोरी के अलग-अलग आरोपों में पकड़े जा चुके हैं। चारों की बाल सुधार गृह के अंदर ही दोस्‍ती हुई और बाहर आकर लूट और चोरी करने के लिए गैंग बना लिया। ये आरोपी दिन में सोते थे और रात को लूट और चोरी की वारदात को अंजाम देने के लिए निकल जाते।  

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर