Lovely University: मृतक छात्र के नाम से सुसाइट नोट वायरल, बताया गया है एक प्रोफेसर को जिम्मेदार

Lovely University: लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी में एक छात्र द्वारा सुसाइड करने के बाद शुरू हुआ विवाद बढ़ता जा रहा है। पुलिस और यूनिवर्सिटी प्रशासन अभी तक दावा कर रहे थे कि छात्र ने निजी कारणों से सुसाइड की, वहीं अब मृतक छात्र के नाम से एक सुसाइड नोट तेजी से वायरल हो रहा है। जिसमें एक प्रोफेसर को सुसाइड का जिम्‍मेदार ठहराया गया है।

Lovely University
छात्र के सुसाइड के बाद हंगामा करते छात्र   |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • सुसाइड नोट वायरल होने के बाद फिर से भड़के छात्र
  • मंगलवार रात को छात्र ने किया था फांसी लगाकर सुसाइड
  • वायरल हो रहे सुसाइड नोट में एक प्रोफेसर पर आरोप

Lovely University: लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी में छात्र द्वारा फंदा लगाकर किए गए सुसाइड मामले में बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। नाराज छात्रों को मनाने के लिए पुलिस और यूनिवर्सिटी प्रशासन दावा कर रहे थे कि छात्र ने निजी कारणों से सुसाइड की है। हालांकि अब इस मामले में एक नया मोड़ आ गया है। अब छात्र के नाम से लिखा गया एक कथित सुसाइड नोट सामने आया है। जिसमें छात्र ने सुसाइड का जिम्‍मेदार एक प्रोफेसर को बताया है। इस लेटर के वायरल होने के बाद पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया है।

वहीं छात्र भी अब यूनिवर्सिटी और पुलिस पर मिलीभगत कर आरोपी प्रोफेसर को बचाने का आरोप लगा रहे हैं। बता दें कि जालंधर स्थित लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी से डिजायनिंग का कोर्स कर रहे एक छात्र ने सुसाइड कर लिया। इससे भड़के यूनिवर्सिटी के छात्रों ने मंगलवार देर रात विरोध प्रदर्शन कर दिया। हालांकि रात को यूनिवर्सिटी प्रशासन और पुलिस ने छात्रों को किसी तरह से समझाकर शांत कराया। अधिकारियों का कहना था कि निजी कारणों से केरल के रहने वाले छात्र इजिन एस दिलीप कुमार ने सुसाइड किया।

छात्र का सुसाइट नोट वायरल

दिलीप बैचलर इन डिजाइन की पढ़ाई करता था। इस मामले में प्रदर्शन कर रहे छात्रों तक बुधवार को जब कथित सुसाइड नोट पहुंचा तो छात्र एक बार फिर भड़क गए और यूनिवर्सिटी कैंपस में प्रदर्शन शुरू हो गया। सोशल मीडिया पर दिलीप के नाम से वायरल हो रहे सुसाइड नोट में लिखा गया है कि, ‘मैं प्रोफेसर को इस सुसाइड का दोषी ठहराता हूं। मैं सभी लोगों पर एक भार बन चुका हूं। इसलिए मैनें यह निर्णय लिया और मुझे अपने निर्णय पर पछतावा है।‘ इसके बाद आई एम सॉरी लिखा हुआ है। बताया जा रहा है कि सुसाइड नोट पुलिस को मंगलवार को ही मिल चुका था। जिसके बाद पुलिस उपाधीक्षक जसप्रीत सिंह ने सुसाइड का कारण निजी बताकर पूरे विवाद को शांत कर दिया था। अब सुसाइड नोट वायरल होने के साथ एक बार फिर से विवाद बढ़ता दिख रहा था। इस सुसाइड नोट को लेकर पुलिस प्रशासन की तरफ से अभी तक कोई बयान नहीं जारी किया गया है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर