Chandigarh Health News: चंडीगढ़ के हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर को देश में दूसरा स्थान, यह योजना बनी बेस्‍ट

Chandigarh Health News: स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने बेहतर स्‍वास्‍थ्‍य व टेलीकंसल्टेशन सुविधा देने के लिए चंडीगढ़ को पूरे देश में दूसरा स्‍थान दिया है। इस रैंक से उत्‍साहित चंडीगढ़ प्रशासन अब अपने सभी हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर को और बेहतर बनाने पर कार्य शुरू करने वाला है।

Health and Wellness Center
चंडीगढ़ के एक हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में इलाज कराने आए लोग   |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • चंडीगढ़ के हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर को पूरे देश में मिला दूसरा स्‍थान
  • बेहतर स्‍वास्‍थ्‍य व टेलीकंसल्टेशन सुविधा के लिए मिला यह रैंक
  • चंडीगढ़ प्रशासन अब इन सेंटरों को और बेहतर बनाने के प्‍लान पर जुटा

Chandigarh Health News: चंडीगढ़ के हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में लोगों को मुहैया कराई जा रही स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने अहम घोषणा की है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने चंडीगढ़ के हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में मरीजों को बेहतर तरीके से मुहैया कराई जा रही टेलीकंसल्टेशन व अन्‍य सेवाओं के लिए पूरे देश में दूसरा रैंक दिया है। बता दें कि चंडीगढ़ के सभी 34 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में मरीजों को टेलीकंसल्टेशन के जरिए सीनियर डॉक्टरों के जरिए इलाज मुहैया कराया जा रहा है। कोरोना के समय शुरू हुई यह सेवा अब लोगों की जरूरत बन गया है।

चंडीगढ़ की इस उपलब्धि पर स्वास्थ्य सचिव यशपाल गर्ग ने कहा कि यह पूरे शहर के लिए गर्व की बात है। इस समय शहर के सभी हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर से मरीजों को टेलीकंसल्टेशन के जरिए घर बैठे इलाज मुहैया कराने की सुविधा मिल रही है। उन्‍होंने कहा कि प्रशासन का प्रयास है कि इस साल के अंत तक शहर के हर सेक्टर के लिए कम से कम एक हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर बनाया जाए। जिससे लोग अपने घर के नजदीक ही बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं हासिल कर सकें।

लगातार अपग्रेड हो रहे हर हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर

स्वास्थ्य सचिव यशपाल गर्ग ने बताया कि प्रशासन द्वारा शहर के सभी हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर को लगातार अपग्रेड करने का कार्य किया जा रहा है। इन सेंटरों पर टेलीकंसल्टेशन की सुविधा के लिए अब अलग से एक कमरा तैयार किया जा रहा है। जहां पर मरीजों के लिए कंप्यूटर और वीडियो कंसल्टेशन की सुविधा उपलब्ध रहेगी। इन सेंटरों पर आकर मरीज पीजीआई, जीएमसीएच-32 और जीएमएसएच-16 के सीनियर डाक्टरों से कंसल्टेशन ले सकेंगे। इसके अलावा सभी सेंटरों पर जरूरी मूलभूत सुविधाओं का विकास भी किया जाना है। इसको लेकर इंजीनियरिंग विभाग ने सर्वे कार्य पूरा कर लिया है, जल्‍द ही निर्माण शुरू हो जाएगा। इसके बाद लोगों को इन सेंटरों पर ही सभी जरूरी मेडिकल सुविधाएं मिलने लगेंगी।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर