प्लीज सर, हमें छोड़ कर मत जाओ- जब सरकारी स्कूल के शिक्षक के ट्रांसफर पर फफक-फफक कर रोने लगे बच्‍चे

Chandigarh News: चंडीगढ़ के एक सरकारी स्‍कूल के शिक्षक का ट्रांसफर वहां के बच्‍चे सह नहीं पाए और शिक्षक को जाता देख फफक-फफक कर रोने लगे। शिक्षक का 9 साल बाद यहां से दूसरे स्‍कूल में ट्रांसफर हुआ था। विदाई समारोह में इस तरह बच्‍चों को रोता देख किसी ने इसका वीडियो बना सोशल मीडिया पर डाल दिया जो अब वायरल हो रहा है।

Children wept school teacher transfer
शिक्षक के ट्रांसफर पर फफक-फफक कर रोते बच्‍चे   |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • जेबीटी टीचर के तौर पर इंदिरा कॉलोनी के स्‍कूल में थे कार्यरत
  • इस स्‍कूल में नौ सालों तक दी बच्‍चों को शिक्षा अब हुआ ट्रांसफर
  • बच्‍चों से था बेहद लगाव, दोबारा मिलने का वादा कर गए शिक्षक

Chandigarh News: कहा जाता है कि शिक्षक बच्‍चों के लिए भगवान होते हैं। शुरुआती जीवन में शिक्षक से ही बच्‍चे सबकुछ सीखते हैं, यही कारण है कि कई बार इन बच्‍चों का अपने शिक्षक के साथ लगाव व जुड़ाव परिवार की तरह हो जाता है। जब ये दूर जाते हैं तो बच्‍चों ये अलगाव सह नहीं पाते। चंडीगढ़ में एक ऐसा ही मामला सामने आया है। यहां के एक सरकारी स्‍कूल के शिक्षक का जब दूसरे स्‍कूल में ट्रांसफर हो गया तो अपने टीचर को जाता देख बच्‍चे फफक-फफक कर रो पड़े। ये बच्चे अपने स्कूल से शिक्षक के ट्रांसफर होने से आहत थे और शिक्षक को रोकने की कोशिश कर रहे थे।

यह पूरा मामला चंडीगढ़ की इंदिरा कॉलोनी के गवर्नमेंट स्कूल का है। यहां पर कार्यरत जेबीटी टीचर राज वकील सिंह को प्रशासन द्वारा ट्रांसफर कर सेक्टर-26 के स्कूल में भेज दिया गया। अब तबादला हुआ तो स्कूल से जाना भी पड़ा। शिक्षक के लिए स्‍कूल में विदाई समारोह का आयोजन किया गया। समारोह के बाद जब शिक्षक जाने लगे तो उनसे पढ़ने वाले बच्‍चों का दिल टूट गया और वे अपने प्‍यारे टीचर से लिपट कर रोने लगे। ये बच्चे रोते हुए कह रहे थे कि, सर प्लीज मत जाओ। इस दौरान किसी ने इस भावुक पल का वीडियो बना कर उसे सोशल मीडिया पर डाल दिया, जो अब वायरल हो रहा है।

शिक्षक बच्‍चों से रखते हैं बेहद लगाव, यहां 9 साल तक पढ़ाया

वीडियो में देख सकते हैं कि, शिक्षक राज वकील सिंह जब जाने लगे तो वहां मौजूद दर्जनों बच्‍चे एक साथ फफक-फफक कर रोने लगे। यह देख वहां मौजूद शिक्षक भी घबरा गए। वहां मौजूद दूसरे टीचर बच्‍चों को बार-बार चुप कराते हुए कह रहे हैं कि वो उनसे मिलने के यहां पर आते रहेंगे। वहीं शिक्षक राज वकील सिंह भी बच्चों को गले लगा कर समझाने की कोशिश कर रहे हैं कि, वे उनसे मिलने के लिए स्‍कूल में आते रहेंगे। स्‍कूल प्रिंसिपल के अनुसार राज वकील सिंह इस स्‍कूल में 2013 से बतौर जेबीटी कार्यरत थे। उन्होंने यहां पर 9 साल तक बच्चों को पढ़ाया है। वे बच्‍चों से काफी लगाव रखते हैं, जिसके कारण ही उनके तबादले से बच्चे आहत हो गए।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर